Friday, June 21, 2024
Homeराजनीतिजम्मू-कश्मीर में INDI गठबंधन संकट में, उमर अब्दुल्लाह ने PDP को सीट देने से...

जम्मू-कश्मीर में INDI गठबंधन संकट में, उमर अब्दुल्लाह ने PDP को सीट देने से किया इनकार: बोले- अगर ऐसा पता होता तो शामिल ही नहीं होते

उमर अब्दुल्लाह ने कहा कि उनकी पार्टी महबूबा मुफ़्ती की पार्टी पीडीपी के लिए जम्मू कश्मीर में एक भी सीट नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें यह बात पहले पता होती तो वह INDI गठबंधन में शामिल ही नहीं होते।

जम्मू कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्लाह ने राज्य की अन्य विपक्षी पार्टी पीडीपी के साथ गठबंधन करने से साफ़ इंकार किया है। उन्होंने राजद सुप्रीमो लालू यादव के पीएम मोदी के परिवार को लेकर दिए गए बयान को लेकर भी नाराजगी जाहिर की है।

उमर अब्दुल्लाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आज अपनी पार्टी की लोकसभा चुनावों को लेकर रणनीति स्पष्ट की। उमर अब्दुल्लाह ने कहा कि उनकी पार्टी महबूबा मुफ़्ती की पार्टी पीडीपी के लिए जम्मू कश्मीर में एक भी सीट नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें यह बात पहले पता होती तो वह INDI गठबंधन में शामिल ही नहीं होते।

उन्होंने कहा कि पीडीपी राज्य में नम्बर 3 की पार्टी है, ऐसे में उसके साथ कोई गठबंधन नहीं हो सकता। उन्होंने मीडिया से कहा, “मैंने आपको पहले ही बता दिया कि नम्बर 3 की पार्टी को अपने लिए सीट माँगने का कोई अधिकार नहीं है। आज पीडीपी के साथ कितने लोग हैं जो उन्हें तीसरे नम्बर पर लेकर आए हैं। अगर हमें INDI गठबंधन में शामिल होने से पता होता कि दूसरे सदस्य के लिए कमजोर होना पड़ेगा, तो हम कभी भी इसमें शामिल नहीं होते।”

गौरतलब है कि INDI गठबंधन में पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस, दोनों ही शामिल हैं। उमर अब्दुल्लाह ने कहा कि वह राज्य में सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी के कहने से कॉन्ग्रेस के लिए सीट छोड़ सकते हैं लेकिन पीडीपी के लिए सीट नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर और लदाख में कॉन्ग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस 3-3 सीट पर लड़ेगी।

उमर ने बताया है कि जम्मू क्षेत्र की दो सीट और लद्दाख सीट पर कॉन्ग्रेस जबकि कश्मीर क्षेत्र की तीन सीटों नेशनल कॉन्फ्रेंस लड़ेगी। गौरतलब है कि पीडीपी के अनंतनाग लोकसभा सीट पर दावेदारी जताने की चर्चा थी लेकिन अब INDI गठबंधन में उमर पीडीपी के लिए कोई जगह नहीं बनने देना चाहते। इससे पहले फारुक अब्दुल्लाह नेशनल कॉन्फ्रेंस के अकेले चुनाव लड़ने की भी बात कर चुके हैं। हालाँकि, बाद में उमर ने स्पष्टीकरण दिया था कि उनकी पार्टी INDI गठबंधन का हिस्सा है।

उमर अब्दुल्लाह ने पीडीपी पर गठबंधन धर्म ना निभाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जब पूर्व कॉन्ग्रेसी नेता गुलाम बनी आजाद ने उनकी पार्टी पर हमले किए तो पीडीपी ने उनका साथ दिया। उन्होंने कहा कि पीडीपी लगातार नेशनल कॉन्फ्रेंस को निशाना बना रही है।

उमर अब्दुल्लाह ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के पीएम मोदी को लेकर दिए गए बयान पर भी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि इस तरह की बातें आम जनता पर असर नहीं करती और लालू का यह बयान सेल्फ गोल है। उन्होंने कॉन्ग्रेस सांसद राहुल गाँधी पर भी निशाना साधा। उन्होंने राहुल गाँधी के अम्बानी-अडानी और राफेल जैसे मुद्दों को उठाने को गैरजरूरी बताया। उन्होंने कहा कि चौकीदार चोर है जैसे नारे लोग पसंद नहीं करते और इससे हमारा कोई फायदा नहीं होता।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

साल भर में 70% कम हुआ स्विस बैंकों में रखा धन, 2019 से भारत के साथ जानकारी साझा कर रहा है स्विट्जरलैंड: जानिए क्यों...

भारत में ग्राहक जमा खातों और अन्य बैंक शाखाओं के माध्यम से रखी गई धनराशि में भी काफी गिरावट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -