तिहाड़ी चिदंबरम ने जन्‍मदिन पर अर्थव्‍यवस्‍था को लेकर जताई चिंता, कहा- ईश्‍वर इस देश की रक्षा करें

यह पहली बार नहीं है जब चिदंबरम ने यह दिखाने की कोशिश की है कि वह अर्थव्यवस्था के बारे में चिंतित हैं, न कि खुद के जेल जाने के बारे में। इससे पहले, उन्होंने जीडीपी विकास दर 5% गिरने पर चिदंबरम ने सरकार पर चुटकी ली थी।

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने सोमवार (सितंबर 16, 2019) को तिहाड़ जेल में अपना 74वां जन्मदिन मनाया। हास्यास्पद यह है कि आईएनएक्स मीडिया मामले में शामिल होने के मामले में दिल्ली की एक अदालत द्वारा 5 सितंबर से तिहाड़ जेल में बंद कॉन्ग्रेस नेता ने अपने जन्मदिन पर भारतीय अर्थव्यवस्था की स्थिति पर चिंता व्यक्त की।

पी चिदंबरम के ट्विटर हैंडल से कई सारे ट्वीट किए गए। करोड़ों के घोटाले के आरोपित चिदंबरम ने कहा कि उन्होंने अपने परिवार को अपनी ओर से एक ट्वीट करने के लिए कहा है। ट्वीट में लिखा है, “मेरे परिवार ने मुझे दोस्तों, पार्टी के सहयोगियों और शुभचिंतकों की ओर से शुभकामनाएँ दी हैं। मुझे याद दिलाया गया कि मैं 74 साल का हूँ। वास्तव में मैं हूँ, लेकिन दिल से मैं 74 साल का युवा महसूस करता हूँ। मेरी हौसला अफजाई के लिए आप सभी का धन्यवाद।”

एक अन्य ट्वीट में चिदंबरम ने बिगड़ी अर्थव्यवस्था का जिक्र किया। उन्होंने देश से घटते निर्यात को लेकर चिंता जताई। मौजूदा हालात का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि भगवान इस देश को बचाए।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

यह पहली बार नहीं है जब चिदंबरम ने यह दिखाने की कोशिश की है कि वह अर्थव्यवस्था के बारे में चिंतित हैं, न कि खुद के जेल जाने के बारे में। इससे पहले, उन्होंने जीडीपी विकास दर 5% गिरने पर चिदंबरम ने सरकार पर चुटकी ली थी।

इस मौके पर उनके बेटे कार्ति चिदंबरम ने अपने पिता के नाम एक भावुक पत्र लिखा है। कार्ति चिदंबरम ने पत्र में पीएम मोदी पर इशारों में निशाना साधते हुए लिखा, “प्रिय अप्पा, आज आप 74 साल के हो रहे हैं, और कोई 56 आपको रोक नहीं सकता। हालाँकि, आप कभी अपने जन्मदिन को भव्य तरीके से नहीं मनाते, लेकिन आजकल हमारे देश में हर छोटी चीज पर बड़ा जश्न मनाया जाता है। बिना आपकी मौजूदगी के आपका बर्थडे पहले जैसा नहीं है। हम आपको मिस कर रहे हैं। आपकी अनुपस्थिति हमारे दिलों को तकलीफ दे रही है। काश आप हम सभी के साथ केक काटने के लिए घर पर होते।”

गौरतलब है कि, पी चिदंबरम की जमानत याचिका दिल्ली हाई कोर्ट में लंबित है, जिस पर 23 सितंबर को सुनवाई होनी है। आईएनएक्स मीडिया मामले में 5 सितंबर को कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया था। चिदंबरम को 21 अगस्त को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

वीर सावरकर, इंदिरा गाँधी
पत्र में इंदिरा गाँधी ने न केवल सावरकर को "भारत का विशिष्ट पुत्र" बताया था, बल्कि यह भी कहा था कि उनका ब्रिटिश सरकार से निर्भीक संघर्ष स्वतन्त्रता संग्राम के इतिहास में अपना खुद का महत्वपूर्ण स्थान रखता है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

97,842फैंसलाइक करें
18,519फॉलोवर्सफॉलो करें
103,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: