Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिकार्टूनिस्ट के लिए मसाला जुटा खुद का मजाक उड़वा रहे इमरान खान: राजनाथ सिंह

कार्टूनिस्ट के लिए मसाला जुटा खुद का मजाक उड़वा रहे इमरान खान: राजनाथ सिंह

"पाकिस्तान को यह समझना चाहिए कि आज हमारी सरकार के मजबूत संकल्प और नौसेना के बेड़े में पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी के शामिल होने के साथ हम उसे और भी बड़ा झटका देने में सक्षम हैं।"

अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर राग अलापने को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि इमरान खान दरवाजे-दरवाजे जाकर कार्टूनिस्टों को मसाला दे रहे हैं। उड़वाने का कोई भी मौका वे छोड़ नहीं रहे।

शनिवार (सितंबर 28, 2019) को मुंबई में माझगांव डॉक्स में भारत की दूसरी ‘स्कॉर्पीन-क्लास अटैक’ पनडुब्बी के शामिल होने के अवसर पर राजनाथ सिंह ने यह टिप्पणी की। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में पाक पीएम की ओर से दिए गए भाषण का जिक्र करते हुए उनकी खूब चुटकी ली। रक्षा मंत्री ने कहा कि इमरान अपना और अपने देश का मजाक उड़वाने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहे।

राजनाथ सिंह ने कहा, “जम्मू-कश्मीर में हमारे प्रगतिशील कदमों को वैश्विक समर्थन मिल रहा है, वहीं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री दर-दर पर जाकर कार्टूनिस्टों के लिए कंटेट क्रिएट करने का काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की हालिया अमेरिकी यात्रा ने एक महाशक्ति के रूप में भारत के उद्भव को प्रदर्शित किया। हमने देखा कि कैसे अमेरिका के शीर्ष नेताओं ने लोगों से खचाखच भरे स्टेडियम में हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी का स्वागत किया।”

आगे उन्होंने कहा, “पाकिस्तान को यह समझना चाहिए कि आज हमारी सरकार के मजबूत संकल्प और नौसेना के बेड़े में पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी के शामिल होने के साथ हम उसे और भी बड़ा झटका देने में सक्षम हैं।”

रक्षा मंत्री ने कहा कि ये बेहद गर्व की बात है कि भारत उन चुनिंदा देशों में है जो अपनी पनडुब्बियों का निर्माण खुद कर सकता है। उन्होंने पाक पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ ऐसी ताकतें हैं, जिनकी हरकतें नापाक हैं। वे साजिश रच रहे हैं कि समंदर के रास्ते मुंबई के 26/11 जैसा एक और हमला भारत के तटीय क्षेत्र में कर सकें। लेकिन उनके मंसूबे किसी भी सूरत में पूरे नहीं होंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,543FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe