Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीति'मार्च से पहले ना जाएँ अयोध्या, आम लोगों को न हो परेशानी': PM नरेंद्र...

‘मार्च से पहले ना जाएँ अयोध्या, आम लोगों को न हो परेशानी’: PM नरेंद्र मोदी ने अपने कैबिनेट मंत्रियों को दी सलाह

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी एक ट्वीट करके अपील की है कि विशिष्ट लोग जब दर्शन करने आएँ तो प्रशासन को एक सप्ताह पहले सूचित कर दें।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने कैबिनेट मंत्रियों ने मार्च महीने तक अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए ना जाने की सलाह दी है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि केन्द्रीय मंत्रियों और बड़े नेताओं के आवागमन से आम लोगों को समस्या होती है इसलिए वह मार्च तक अयोध्या जाने से बचें।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने कैबिनेट के साथियों से यह अपील बुधवार को कैबिनेट बैठक के दौरान दिल्ली में कही। उनका कहना था कि केन्द्रीय मंत्रियों के जाने से अयोध्या VIP और VVIP प्रोटोकॉल लागू होता है जिससे सामान्य श्रद्धालु परेशान होते हैं। उन्होंने इन मंत्रियों से मार्च में यहाँ जाने को कहा है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी एक ट्वीट करके अपील की है कि विशिष्ट लोग जब दर्शन करने आएँ तो प्रशासन को एक सप्ताह पहले सूचित कर दें। उन्होंने लिखा, “श्री अयोध्या धाम में हर रामभक्त को सुगमतापूर्वक प्रभु श्री रामलला के दर्शन कराना हमारा कर्तव्य है। अपने आराध्य प्रभु श्री रामलला के दर्शन की आकांक्षा लिए पूरे देश से भारी संख्या में श्रद्धालुओं के आगमन के दृष्टिगत अति विशिष्ट/विशिष्ट/गणमान्य जन द्वारा अयोध्या धाम आगमन का कार्यक्रम बनाने से एक सप्ताह पूर्व स्थानीय प्रशासन/श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास अथवा राज्य सरकार को सूचित करना हितकर होगा।”

गौरतलब है कि 22 जनवरी, 2024 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अयोध्या में नवनिर्मित राम मंदिर में रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की है। इस मंदिर को 23 जनवरी, 2024 से आम श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिया गया है। यहाँ अब उम्मीद से कहीं ज्यादा भीड़ दर्शन के लिए उमड़ रही है।

अयोध्या में 23 जनवरी के बाद से भारी भीड़ उमड़ रही है। मात्र पहले ही दिन भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि उसने बैरिकेड तोड़ दिए। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लखनऊ से प्रमुख सचिव संजय प्रसाद और DG (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार को यहाँ भेजा। मुख्यमंत्री योगी खुद भी अयोध्या का निरीक्षण करने आए।

जानकारी के अनुसार, पहले ही दिन अयोध्या में लगभग 5 लाख श्रद्धालुओं ने रामलला के दर्शन किए। इसके बाद भी भीड़ कम नहीं हो रही है। लगातार लोग बढ़ते जा रहे हैं। अयोध्या जाने वाली गाड़ियों को पुलिस अंदर नहीं जाने दे रही है। अब पुलिस ने नई व्यवस्था बनाकर बाहर लाइनें लगवाई हैं और 200 लोगों के जत्थों में दर्शन करने के लिए भेज रहे हैं।

मंदिर ट्रस्ट ने अब रामलला के दर्शन के समय में भी बदलाव किया गया है। सुबह 7 बजे से अब रात 10 बजे तक दर्शन किए जा सकेंगे। यहाँ श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए अतिरिक्त पुलिस बल भी तैनात किया गया है। बताया जा रहा है कि अयोध्या में दो दिनों में राम मंदिर में लगभग 3.5 करोड़ रुपए का दान आया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अखलाक की मौत हर मीडिया के लिए बड़ी खबर… लेकिन मुहर्रम पर बवाल, फिर मस्जिद के भीतर तेजराम की हत्या पर चुप्पी: जानें कैसे...

बरेली में एक गाँव गौसगंज में तेजराम नाम के एक युवक की मुस्लिम भीड़ ने मॉब लिंचिंग कर दी। इलाज के दौरान तेजराम की मौत हो गई।

‘वन्दे मातरम’ न कहने वालों को सेना के जवान और डॉक्टर ने Whatsapp ग्रुप में कहा – पाकिस्तान जाओ: सिद्दीकी ने करवा दी थी...

शिकायतकर्ता शबाज़ सिद्दीकी का कहना है कि सेना के जवान और डॉक्टर ने मुस्लिमों की भावनाओ को ठेस पहुँचाई है, उनके भीतर दुर्भावना थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -