Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिसिर्फ 194 दिन में बिहार के हर गाँव में फास्ट इंटरनेट, जुड़ेगा ऑप्टिकल फाइबर...

सिर्फ 194 दिन में बिहार के हर गाँव में फास्ट इंटरनेट, जुड़ेगा ऑप्टिकल फाइबर से, बनेगा देश का पहला ऐसा राज्य

बिहार के हर गाँव में इंटरनेट पहुँचने से सरकारी खर्च पर विद्यालय, आँगनवाड़ी केंद्र, आशा, जीविका दीदी आदि को एक वर्ष तक मुफ्त इंटरनेट भी उपलब्ध करवाया जाएगा। जो घर अपने यहाँ निजी इंटरनेट की लाइन लेना चाहेंगे, वो भी कम मासिक शुल्क पर...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (सितंबर 21, 2020) को बिहार में 14258 करोड़ रुपए की परियोजनाओं की सौगात दी। उन्‍होंने राज्य के 45945 गाँवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ने वाली सेवाओं का उद्घाटन कर राज्‍य में ग्रामीण डिजिटल क्रांति का भी आरंभ किया।

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग की इस परियोजना के तहत लगभग 1000 करोड़ रुपए की लागत से बिहार के सभी गाँवों में मार्च 2021 तक ऑप्टिकल फाइबर बिछा कर तेज गति इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। इस कार्य का क्रियान्वयन भारत की संस्था कॉमन सर्विस सेंटर के द्वारा किया जाएगा। 

अब तक बिहार के सभी 8386 ग्राम पंचायत भारत नेट परियोजना के द्वारा ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जा चुका है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से दिए अपने सम्बोधन में कहा था कि अगले 1000 दिनों में देश के सभी छः लाख गाँवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट से जोड़ा जाएगा।

उस संबोधन की शुरुआत आज उन्होंने बिहार से की है और राज्य में इस कार्य को पूरा करने के लिए 31 मार्च, 2021 तक लक्ष्य भी रखा है। 

प्रधानमंत्री ने इस परियोजना को बिहार के डिजिटल भविष्य का शुभारंभ बताया। उन्होंने कहा कि इंटरनेट की अच्छी उपलब्धता से गाँव और शहर की दूरियाँ मिटेंगी और लोगों को कई सुविधाओं के लिए शहर नहीं आना पड़ेगा। उन्होंने बिहार के लोगों को इस बात की भी बधाई दी कि इस परियोजना के पूरा होने पर सभी गाँवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट से जोड़ने वाला बिहार देश का पहला राज्य बन जाएगा।

गाँवों में इंटरनेट पहुँचने से सरकारी खर्च पर पाँच चिन्हित सरकारी संस्थाओं जैसे कि विद्यालय, आँगनवाड़ी केंद्र, आशा, जीविका दीदी आदि को एक वर्ष तक मुफ्त इंटरनेट भी उपलब्ध करवाया जाएगा। जो घर अपने यहाँ निजी इंटरनेट की लाइन लेना चाहेंगे, वो भी कम मासिक शुल्क पर इंटरनेट की सुविधा अपने घरों में लगवा सकेंगे।  

पीएम मोदी द्वारा परियोजना के शुभारंभ के दौरान अधिकारियों के साथ केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद

इसके साथ ही कॉमन सर्विस सेण्टर के द्वारा गाँवों में टेली-मेडिसिन के द्वारा जनता को बड़े अस्पतालों के अच्छे डॉक्टरों की सलाह भी मिल सकेगी। छात्र तेज गति इंटरनेट उपलब्ध होने से डिजिटल शिक्षा की सुविधा प्राप्त कर सकेंगे। किसानों को देश के किसी भी भाग में अपनी उपज बेचने और इंटरनेट के द्वारा अपनी फसल के बारे में विशेषज्ञों की राय भी मिल पाएगी। 

इस कार्यक्रम में बोलते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में बिहार का विकास तेज हुआ है। हर क्षेत्र में जितने विकास की परियोजनाएँ बिहार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में मिली हैं, उतनी पहले कभी नहीं मिली है। 

लगभग 1000 करोड़ रुपए की लागत वाली ऑप्टिक्ल फाइबर की इस परियोजना को बहुत की कम समय में अपनी मंजूरी देने के लिए उन्होंने प्रधानमन्त्री को सभी बिहारवासियों की तरफ से धन्यवाद दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एक गोल्ड मेडल अनवर सरदार को भी’: उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर अनु मलिक की धुनाई

उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के बड़े संगीतकारों में से एक अनु मलिक की लोगों ने धुनाई चालू कर दी।

इंडिया जीता… लेकिन सब गोल पंजाबी खिलाड़ियों ने किया: CM अमरिंदर सिंह के ट्वीट में भारत-पंजाब अलग-अलग क्यों?

पंजाब मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा, ”इस बात को जानकर खुश हूँ कि सभी 3 गोल पंजाब के खिलाड़ी दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने किए।”

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,620FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe