Wednesday, August 4, 2021
Homeराजनीतिआत्मनिर्भर भारत का विजन है यह बजट, इसके दिल में गाँव और किसान हैं:...

आत्मनिर्भर भारत का विजन है यह बजट, इसके दिल में गाँव और किसान हैं: PM मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये बजट नए भारत के आत्मविश्वास को उजागर करने वाला है। बजट देश के इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव लाएगा, साथ ही युवाओं को कई मौके देने का काम करेगा।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश आम बजट की प्रशंसा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ये बजट कोरोना वायरस संक्रमण के काल में आत्मनिर्भर भारत का विजन है। पीएम ने लोक लुभावन और विकासशील बजट के लिए वित्त मंत्री और उनकी टीम को बधाई दी है। पीएम मोदी ने कहा कि इस बजट के केंद्र में किसान है।

पीएम ने इस बजट को किसानों के पक्ष वाला बताते हुए कहा कि बजट में किसानों के हित में कई प्रावधान किए गए हैं। किसानों की आय बढ़ाने पर जोर दिया गया है। किसानों को आसानी से और ज्यादा ऋण मिल सकेगा। देश की मंडियों को और मजबूत करने के लिए प्रावधान किया गया है। ये निर्णय दिखाते हैं कि इस बजट के दिल में गाँव हैं, किसान हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये बजट नए भारत के आत्मविश्वास को उजागर करने वाला है। बजट देश के इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव लाएगा, साथ ही युवाओं को कई मौके देने का काम करेगा। उन्होंने कहा कि ऐसे बजट बहुत कम देखने को मिलते हैं, जिसकी शुरुआत में अच्छे रिस्पॉन्स आए। कोरोना के चलते कई एक्सपर्ट्स मानकर चल रहे थे कि सरकार आम लोगों पर बोझ बढ़ाएगी, लेकिन सरकार ने बजट साइज बढ़ाने पर जोर दिया। चुनौतियों के बावजूद सरकार ने बजट को पारदर्शी बनाने पर ज़ोर दिया।

उन्होंने कहा कि आज के बजट में आत्मनिर्भरता का विजन भी है और हर वर्ग का समावेश भी है। हम इस बजट में जिन सिद्धांतों को लेकर चले हैं, वे हैं- ग्रोथ के लिए नए अवसरों, नई संभावनाओं का विस्तार करना। युवाओं के लिए नए अवसरों को बनाना। इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए नए-नए क्षेत्रों को विकसित करना है। नियमों और प्रक्रियाओं को सरल बनाने पर इस बजट में जोर दिया गया है।

पीएम ने कहा कि महिलाओं का जीवन आसान बनाने के लिए उनके स्वास्थ्य, पोषण और इंफ्रास्ट्रक्चर पर व्यवस्थागत सुधार किए गए हैं। ग्रोथ और जॉब क्रिएशन में बहुत लाभ होगा। पीएम मोदी ने कहा कि भारत कोरोना काल में काफी प्रो-एक्टिव रहा है और ये बजट कोरोना काल के आत्मनिर्भर भारत के मिशन को और आगे ले जाएगा। पीएम ने कहा कि ये ऐसा बजट है जिसे विशेषज्ञों ने भी सराहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पोस्टमॉर्टम से भी नहीं सुलझी दिल्ली में 9 साल की बच्ची की मौत का रहस्य: राहुल गाँधी पर पहचान सार्वजनिक करने का आरोप

दिल्ली के ओल्ड नांगल में 9 साल की बच्ची की संदेहास्पद हालत में मौत हो गई। आरोप है कि श्मशान घाट के भीतर रेप करने के बाद बच्ची को जला दिया गया।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe