Monday, July 22, 2024
Homeराजनीतिपीएम मोदी ने राष्ट्रपति मैक्रों के साथ जयपुर में किया रोड शो, दुकान में...

पीएम मोदी ने राष्ट्रपति मैक्रों के साथ जयपुर में किया रोड शो, दुकान में जाकर साथ में चाय पी: उपहार में दिया राम मंदिर का मॉडल

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के साथ जयपुर में रोड शो किया। राष्ट्रपति मैक्रों गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि के तौर भारत आए हुए हैं, उनका यह दौरा 25-26 जनवरी तक रहेग। 26 जनवरी को वह दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने से पहले जयपुर पहुँचे जहाँ उनका पारम्परिक तरीके से स्वागत हुआ।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुुुरुवार (25 जनवरी 2024) को फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के साथ राजस्थान की राजधानी जयपुर में रोड शो किया। राष्ट्रपति मैक्रों इस बार गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि के तौर भारत आए हुए हैं। दिल्ली में गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल होने से पहले जयपुर में उनका पारम्परिक तरीके से स्वागत हुआ।

जयपुर एयरपोर्ट पर विदेश मंत्री एस जयशंकर, राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, सीएम भजनलाल शर्मा और उपमुख्यमंत्री दीया कुमारी ने उनका स्वागत किया। वहाँ से राष्ट्रपति मैक्रों कच्छावाह (कुशवाह) क्षत्रियों का विश्व प्रसिद्ध आमेर किला भी गए और वहाँ स्कूली बच्चों से मुलाकात की। इस दौरान राजा मानसिंह की उत्तराधिकारी दीया कुमारी भी मौजूद थीं।

प्रधानमंत्री मोदी भी इसके बाद जयपुर पहुँचे। उन्होंने फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों के साथ मुलाक़ात की और फिर दोनों नेता जयपुर स्थित यूनेस्को हेरिटेज जंतर मंतर पहुँचे। यहाँ मौजूद विशेषज्ञों ने उन्हें जंतर मंतर की बारीकियों के बारे में जानकारी दी। इसके बाद दोनों नेताओं का रोड शो शुरू हुआ।

प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति मैक्रों के रोड शो को देखने के लिए बड़ी संख्या में जनता सड़कों पर उमड़ पड़ी। प्रधानमंत्री ने मैक्रों के साथ यह 1.50 किलोमीटर लंबा रोड शो एक खुली जीप में खड़े होकर किया। इस दौरान आसपास मौजूद लोगों ने उन पर फूल बरसाए। जंतर मंतर से शुरु होकर यह रोड शो हवामहल पहुँचा। 1799 में बना हवामहल जयपुर राजमहल का ही विस्तार है।

हवामहल पहुँचने के बाद प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति मैक्रों यहाँ स्थित एक दुकान में पहुँचे और वहाँ चाय पी। इस दौरान प्रधानमंत्री ने राष्ट्रपति मैक्रों को भारतीय डिजिटल भुगतान सिस्टम UPI की बारीकियों और इसके काम करने के तरीके के बारे में बताया। प्रधानमंत्री ने राष्ट्रपति को राम मंदिर की लकड़ी का एक मॉडल भी भेंट किया।

इसके बाद प्रधानमंत्री जयपुर के रामबाग पैलेस में राष्ट्रपति मैक्रों के सम्मान में एक डिनर का आयोजन किया। इसके बाद दोनों नेता जयपुर से दिल्ली के लिए रवाना हो गए। प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति मैक्रों अब 26 जनवरी को सुबह कर्तव्य पथ पर होने वाली गणतन्त्र दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इसके बाद उनका राष्ट्रपति भवन में दोपहर में स्वागत होगा।

राष्ट्रपति मैक्रों की 6 माह के भीतर यह दूसरी भारत यात्रा है। इससे पहले वह सितम्बर 2023 में G20 की बैठक के लिए दिल्ली आए थे। राष्ट्रपति मैक्रों के इस दौरे में भारत के साथ महत्वपूर्ण समझौतों के आगे बढ़ने की सम्भावना है। इसमें सबसे महत्वपूर्ण समझौते रक्षा क्षेत्र में माने जा रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केंद्र सरकार ने 4 साल में राज्यों को की ₹1.73 लाख करोड़ की मदद, फंड ना मिलने पर धरना देने वाली ममता सरकार को...

वित्त मंत्रालय ने बताया है कि केंद्र सरकार 2020-21 से लेकर 2023-24 तक राज्यों को ₹1.73 लाख करोड़ विशेष मदद योजना के तहत दे चुकी है।

जो बायडेन फिर से बने अमेरिकी राष्ट्रपति उम्मीदवार: ‘भूलने की बीमारी’ के कारण कर दिया था ट्वीट, सदमे में कमला हैरिस, 12 घंटे से...

जो बायडेन टेस्ट ले रहे थे कमला हैरिस का। वो भोकार पार-पार के, सर पटक कर रोने के बजाय खुश हो गईं। पिघलने के बजाय बायडेन को गुस्सा आ गया और...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -