Saturday, June 22, 2024
Homeराजनीति80 करोड़ जनता को फ्री राशन, 5 करोड़ वाटर कनेक्शन, 27 लाख नौकरी: PM...

80 करोड़ जनता को फ्री राशन, 5 करोड़ वाटर कनेक्शन, 27 लाख नौकरी: PM मोदी ने गिनाई भारत की उपलब्धि, राज्यसभा में ‘कॉन्ग्रेस’ को बताया सबसे बड़ा खतरा

प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यसभा में जानकारी दी कि उनकी सरकार ने तय किया है कि 200 करोड़ रुपए तक के टेंडर ग्लोबल नहीं होंगे। उनके अनुसार इससे देश के एमएसएमई क्षेत्र मजबूत होगा और रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राज्यसभा में कई विषयों पर अपनी बात रखी। उन्होंने देश के विकास में चलाई जा रही योजनाओं का उल्लेख किया और कहा कि आजादी के सौ साल पूरे होने तक देश को कहाँ पहुँचाना है, इसके लिए ये सबसे महत्वपूर्ण समय है। उन्होंने कोविड से उपजे हालातों पर बात की और बताया कि कैसे भारत ने इससे निपटने के पूरे प्रयास किए। इसके बाद पीएम मोदी ने विपक्षी पार्टियों पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा वंशवादी पार्टियाँ हैं।

उन्होंने कोविड महामारी को लेकर कहा कि इंसानियत ने कभी भी पिछले 100 सालों में ऐसी चुनौती का सामना नहीं किया था। इसके बाद उन्होंने इन हालातों से जूझ रहे भारतीयों को सराहते हुए कहा कि भारतीय जनता ने वैक्सीन ली इससे उन्होंने सिर्फ खुद ही सुरक्षित नहीं किया बल्कि दूसरों भी सुरक्षित किया है। वैश्विक स्तर पर चलाए गए वैक्सीन विरोधी अभियान के बाद ये होना काफी सराहनीय है।

कोरोना काल में भारत की उपलब्धि गिनाई

आगे पीएम मोदी ने देश के विकास पर चर्चा की और बताया कि कोविड महामारी के समय भी भारत ने अपनी 80 करोड़ जनता के घर फ्री राशन पहुँचाया। ये सुनिश्चित किया गया कि गरीबों के घर बनें, उन्हें वाटर कनेक्शन दिए जाएँ। पीएम ने जानकारी दी कि कोविड के बीच 5 करोड़ घरों में साफ पानी के लिए वाटर कनेक्श दिए गए। इसके अलावा देश के युवाओं ने स्टार्टअप शुरू करने के मामले में देश को वैश्विक स्तर पर तीसरे नंबर पर पहुँचाया। पीएलआई योजना की मदद से भारत ने मोबाइल मैनुफैक्चर करने के मामले में एक नई उपलब्धि हासिल की। इसके साथ आईटी सेक्टर में करीब 27 लाख लोगों को नौकरी मिलना भी एक नया रिकॉर्ड है।

पीएम मोदी ने सभा में अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा लिखित उन पंक्तियों को पढ़ा जिसके शब्द इस तरह हैं:

व्याप्त हुआ बर्बर अंधियारा
किंतु चीर कर तम की छाती
चमका हिंदुस्थान हमारा।
शत-शत आघातों को सहकर
जीवित हिंदुस्थान हमारा।
जग के मस्तक पर रोली सा
शोभित हिंदुस्थान हमारा।

इन पंक्तियों के साथ पीएम मोदी ने कहा कि ये अटल बिहारी जी के ये शब्द इस कालखंड में भारत के सामर्थ्य का परिचय कराते हैं।

आगे प्रधानमंत्री ने जानकारी दी कि उनकी सरकार ने तय किया है कि 200 करोड़ रुपए तक के टेंडर ग्लोबल नहीं होंगे। उनके अनुसार इससे देश के एमएसएमई क्षेत्र मजबूत होगा और रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। वे राज्यसभा में बताते हैं कि यूपी और तमिलनाडु में डिफेंस कॉरिडरो बनाए जा रहे हैं। ऐसे में MSME का आगे आकर डिफेंस सेक्टर को ज्वाइन करना बेहद प्रेरणादायक है। 

महंगाई पर बोले पीएम मोदी

अन्य देशों से तुलना किए जाने पर पीएम मोदी ने जवाब दिया कि इस समय महंगाई की मार हर देश को लगी है। यूएसए में पिछले 40 सालों में सबसे अधिक महंगाई सामना करना पड़ा। वहीं ब्रिटेन में 30 सालों में ये दन देखने पड़ रहे हैं। इनके अलावा जिन देशों की करंसी यूरो है वो भी महंगाई की मार झेल रहे हैं। पीएम ने बताया कि भारत में महंगाई थामने के लिए प्रयास किए गए हैं। 2015 से 2020 के बीच जो दर 4-5% था वो यूपीए काल में डबल डिजिट में हुआ करता था। पीएम ने कहा कि भारत ही ऐसी बड़ी अर्थव्यवस्था है जो अधिक विकास के साथ औसत महंगाई झेल रही है।

विपक्ष पर बोला हमला

पीएम मोदी ने राज्यसभा में विपक्षी पार्टियों को भी जमकर घेरा। कॉन्ग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इस देश के लोकतंत्र के लिए सबे बड़ा खतरा वंशवादी पार्टियाँ है। कॉन्ग्रेस की समस्या है कि वो अपने वंश से आगे कुछ देखते ही नहीं। पीएम ने कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि अगर कॉन्ग्रेस नहीं होती तो क्या होता। मैं कहता हूँ,कॉन्ग्रेस नहीं होती तो आपातकाल नहीं लगता, जाति की राजनीति नहीं होती, सिखों का नरसंहार नहीं होती, कश्मीरी पंडितों को कभी समस्या नहीं होती।

पीएम ने जानकारी दी कि आयुष्मान भारत के तहत देश में 80 हजार से ज्यादा हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर हैं। यहाँ गाँव और घर में फ्री टेस्ट होते हैं। उन्होंने इस बात पर निराशा जताई कि कैसे कोविड-19 के समय पार्टी बुलाई जाती थी और कई पार्टियाँ उसका बहिष्कार करती थीं। कुछ लोगों ने तो वैक्सीन अभियान को कोई बड़ी बात मानने से इनकार किया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET पेपरलीक का मास्टरमाइंड निकाल बिहार का लूटन मुखिया, डॉक्टर बेटा भी जेल में: पत्नी लड़ चुकी है विधानसभा चुनाव, नौकरी छोड़ खुद बना...

नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड में से एक संजीव उर्फ लूटन मुखिया। वह BPSC शिक्षक बहाली पेपर लीक कांड में जेल जा चुका है। बेटा भी जेल में है।

व्यभिचारी वैष्णव आचार्य, पत्रकार ने खोली पोल, अंग्रेजों के कोर्ट में मुकदमा… आमिर खान के बेटे को लेकर YRF-Netflix की बनाई फिल्म बहस का...

माँ भवानी का अपमान करने वाले को जवाब देने कारण हकीकत राय नामक बच्चे का खुलेआम सिर कलम कर दिया गया था। इस पर फिल्म बनाएगा बॉलीवुड? या सिर्फ वही 'वास्तविक कहानियाँ' चुनी जाती हैं जिनमें गुंडा कोई साधु-संत हो?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -