Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति'दुनिया मानती थी शिवाजी महाराज की नौसेना का लोहा, हमने इंडियन नेवी के झंडे...

‘दुनिया मानती थी शिवाजी महाराज की नौसेना का लोहा, हमने इंडियन नेवी के झंडे से हटाया अंग्रेजों का निशान’: महाराष्ट्र में बोले PM मोदी – शहजादे कहते हैं खटाखट-ठकाठक

"कॉन्ग्रेस के शहजादे से पूछो कि गरीबी कैसे हटती है- तो वो कहते हैं खटाखट...खटाखट। कॉन्ग्रेस के शहजादे से पूछो कि ग्रोथ कैसे होती है- तो वो कहते हैं ठकाठक... ठकाठक।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (29 अप्रैल, 2024) को कर्नाटक के बागलकोट के अलावा महाराष्ट्र के सोलापुर, सतारा और पुणे में विशाल जनसभाओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने पुणे वासियों को भरोसा दिलाया कि वो दिन भी आने ही वाला है जब आप देश की पहली बुलेट ट्रेन में ट्रैवल करेंगे। उन्होंने इसे ‘मोदी की गारंटी’ बताते हुए लिख कर रख लेने के लिए कहा। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का ये भारत अपने युवा, युवाओं के इनोवेशन, युवा टैलेंट और टेक्नोलॉजी पर भरोसा करते हुए आगे बढ़ रहा है।

उन्होंने ‘स्टार्टअप इंडिया’ का कमाल बताते हुए कहा कि सिर्फ 10 वर्षों में ही भारत के युवाओं ने सवा लाख से ज्यादा स्टार्टअप्स बना दिए हैं। उन्होंने बताया कि 2014 से पहले हमारा देश मोबाइल फोन इम्पोर्ट करता था, अब अब देश के दूसरे सबसे बड़े एक्सपोर्टर हैं इस मामले में। उन्होंने बताया कि उनकी सरकार ने महँगाई को नियंत्रित किया, भ्रष्टाचार पर प्रहार किया। उन्होंने बताया की करदाताओं के लिए टैक्स में सहूलियत दी गई, जिससे उनके ढाई लाख करोड़ रुपए बचे।

पुणे में प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉन्ग्रेस के शहजादे की बातें खतरनाक हैं, खुद कॉन्ग्रेस के लोग इनके कारण कॉन्ग्रेस छोड़-छोड़ के निकल रहे हैं और वो लोग कहते हैं कि कॉन्ग्रेस को माओवादियों ने कब्जे में ले लिया है। उन्होंने कहा, “कॉन्ग्रेस के शहजादे से पूछो कि गरीबी कैसे हटती है- तो वो कहते हैं खटाखट…खटाखट। कॉन्ग्रेस के शहजादे से पूछो कि ग्रोथ कैसे होती है- तो वो कहते हैं ठकाठक… ठकाठक। कॉन्ग्रेस के शहजादे से पूछो कि विकसित भारत बनाने का कोई प्लान है तो वो बोलते हैं टकाटक… टकाटक।”

पीएम मोदी ने बताया कि मध्यम वर्गीय परिवारों को सुरक्षित घर मिले, इसके लिए हमने देश में रेरा कानून बनाया है, जो हमारे मध्यम वर्गीय परिवारों के लिए सुरक्षा कवच बन गया है। बकौल पीएम मोदी, उनकी सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मंत्र पर काम कर रही है और मोदी उनको पूजता है, जिनको पहले की सरकारों ने कभी पूछा तक नहीं था।

इससे पहले सतारा में पीएम मोदी ने याद किया कि 2013 में जब भाजपा ने उन्हें प्रधानमंत्री उम्मीदवार घोषित किया, तब वो रायगढ़ के किले पर चले गए। उन्होंने याद किया कि वो छत्रपति शिवाजी महाराज की समाधि स्थल पर ध्यानस्थ होकर बैठे थे। बकौल पीएम मोदी, उस समय छत्रपति शिवाजी महाराज की समाधि स्थल से उन्हें जो ऊर्जा, प्रेरणा और आशीर्वाद मिला, उसी के बदौलत वो बीते 10 वर्षों से जनता के लिए जीने का प्रयास करते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश 1947 में आजाद हुआ, कॉन्ग्रेस ने गुलामी की मानसिकता को फलने दिया था। उन्होंने इतिहास याद दिलाया कि पूरी ​दुनिया छत्रपति महाराज की नौसेना का लोहा मानती थी, लेकिन इतने वर्षों तक आजाद भारत की नौसेना के झंडे पर अंग्रेजों का निशान था। प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी ने आकर अंग्रेजों के निशान को हटाया, मोदी ने तय किया कि इस झंडे की ताकत तब बढ़ेगी, जब हमारे नौसेना के झंडे में छत्रपति शिवाजी के प्रतीक को स्थान दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के सतारा में कहा, “भारत का संविधान धर्म के आधार पर आरक्षण को मना करता है, लेकिन उन्होंने (कॉन्ग्रेस) रातोंरात कर्नाटक के सभी मुस्लिमों को OBC घोषित कर दिया और रातोंरात ओबीसी के आरक्षण को वहाँ के मुस्लिमों को दे दिया। अब कॉन्ग्रेस संविधान बदलकर यही फॉर्मूला पूरे देश में लागू करना चाहती है। कॉन्ग्रेस और अघाड़ी वालों कान खोलकर सुन लीजिए, जब तक मोदी जिंदा है और जब तक जनता-जनार्दन का मुझ पर आशीर्वाद है, तब तक धर्म के नाम पर आरक्षण लाने की कोशिश, संविधान बदलने की कोशिश आप नहीं कर पाओगे।”

पीएम मोदी ने ये भी कहा कि उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ी परेशानियों को भाग्य के नाम पर नहीं छोड़ा, बल्कि हर देशवासी को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएँ देने का संकल्प लिया और आयुष्मान आरोग्य मंदिरों के जरिए आज गाँव-गाँव में स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार हो रहा है। उन्होंने याद दिलाया कि कैसे जब कॉन्ग्रेस की सरकार थी, तब हजारों टन अनाज सरकार के गोदामों में सड़ता था, लेकिन कॉन्ग्रेस सरकार उसे गरीबों को देने को तैयार नहीं थी और मना कर दिया था। बाद में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि कॉन्ग्रेस सरकार अनाज गरीबों में बाँटे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तब कॉन्ग्रेस के प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले में दखल न दे, यानी गरीब भूख से मरता है तो मरे, अनाज सड़ता है तो सड़े, लेकिन कॉन्ग्रेस सरकार गरीबों को अनाज देने को तैयार नहीं थी। प्रधानमंत्री ने गर्व से बताया कि आज हमारी सरकार 80 करोड़ जरूरतमंदों को हर महीने मुफ्त अनाज देती है और आने वाले 5 वर्षों की भी गारंटी दी है। उन्होंने कहा कि हमारा सामाजिक न्याय का तरीका समाज में विभेद करने का नहीं है, बल्कि समाज को जोड़ने का है।

वहीं सोलापुर में पीएम मोदी ने कहा कि आज कॉन्ग्रेस और I.N.D.I. गठबंधन OBC प्रतिनिधित्व के नाम पर झूठ फैला रहे हैं, क्योंकि इनकी सच्चाई देश के सामने आ गई है और इससे ये बौखलाए हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस पूरे चुनाव में, ये I.N.D.I. अघाड़ी के जितने लोग हैं, उनका सिर्फ एक ही एजेंडा है – मोदी को नई-नई गाली देना। बकौल पीएम मोदी, विपक्ष पास विजन नहीं है और हमारे पास विजन है, हम इस विजन के लिए ये जीवन खपा देंगे।

पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के सोलापुर में कहा, “सीमावर्ती गाँवों को आखिरी गाँव कहा जाता था। मैंने उन्हें पहला गाँव कहा। गाँवों के लिए हमने Vibrant Village प्रोग्राम शुरू किया। अगर मोदी की नजर कॉन्ग्रेस की तरह सिर्फ वोटबैंक पर होती, तो 24,000 करोड़ की पीएम जनमन योजना बनाकर सबसे पिछड़ी जनजाति के लिए योजना न बनाता, उनके लिए काम न करता। मैं अपने देश के आखिरी व्यक्ति को मजबूत बनाना चाहता हूँ। कॉन्ग्रेस ने 100 से ज्यादा जिलों को पिछड़ा घोषित कर उन्हें अपने हाल पर छोड़ दिया था। हमने उन्हें Aspirational Districts बनाया। 25 करोड़ लोग गरीबी रेखा से बाहर निकले।।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -