Tuesday, May 30, 2023
Homeराजनीति'चारधाम यात्रा में सभी गैर-हिन्दुओं का होगा वेरिफिकेशन, धर्म-संस्कृति के लिए ज़रूरी': CM धामी...

‘चारधाम यात्रा में सभी गैर-हिन्दुओं का होगा वेरिफिकेशन, धर्म-संस्कृति के लिए ज़रूरी’: CM धामी का ऐलान, साधु-संतों ने की थी माँग

उल्लेखनीय है कि एक लंबे समय से चारधाम के तीर्थपुरोहितों द्वारा ये माँग की जा रही है कि चारधाम में केवल हिंदुओं का ही प्रवेश हो। हरिद्वार की धर्म संसद में भी उठा था मुद्दा।

अब चारधाम यात्रा में सभी यात्रियों का वेरिफिकेशन होगा। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार (19 अप्रैल, 2022) को मीडिया से बात करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में आने वाले संदिग्धों पर पैनी नजर रखी जाएगी। इतना ही नहीं मिल रही शिकायतों के आधार पर सरकार जल्द ही इस क्षेत्र में बाहरी लोगों का और सत्यापन ड्राइव भी कराएगी।

दरअसल उनसे पिछले दिनों संतों द्वारा की गई माँग के बारे में सवाल किया गया था। जिसमें साधुओं ने माँग की थी कि चारधाम यात्रा क्षेत्र में गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक लगाई जाए। इस पर सीएम धामी ने कहा, हमारा प्रदेश शांत रहना चाहिए। हमारे प्रदेश की धर्म-संस्कृति बची रहनी चाहिए। उसको लेकर सरकार अपने स्तर पर भी ड्राइव चलाएगी और हम कोशिश करेंगे कि जिन लोगों के यहाँ पर ठीक प्रकार से वेरिफिकेशन नहीं है, उनके भी वेरिफिकेशन हों। कोई भी इस प्रकार का व्यक्ति उत्तराखंड के अंदर न आए, जिससे स्थिति खराब हो।

उल्लेखनीय है कि एक लंबे समय से चारधाम के तीर्थपुरोहितों द्वारा ये माँग की जा रही है कि चारधाम में केवल हिंदुओं का ही प्रवेश हो। हरिद्वार की धर्म संसद में भी चार धाम यात्रा में केवल हिंदुओं के ही प्रवेश का मुद्दा उठा था। शंकराचार्य परिषद के अध्यक्ष और शाम्भवी धाम पीठाधीश्वर स्वामी आनंद स्वरूप ने भी उत्तराखंड सरकार से ये माँग की थी।

इस संबंध में उन्होंने सीएम धामी को पत्र भी लिखा था। उनका कहना था देवभूमि उत्तराखंड हिंदुओं की जन्मभूमि, कर्मभूमि और ऋषियों की तपस्थली है। देवभूमि की रक्षा करना उनका धर्म है इसलिए उनकी माँग है कि उत्तराखंड सरकार चारधाम यात्रा के दौरान गैर हिंदुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाए। गैर हिंदुओं के चिन्हीकरण के लिए सरकार, लाइसेंस और परिचय पत्र जारी करे।

3 मई से शुरू होगी चारधाम की यात्रा

बता दें उत्तराखंड में 3 मई को गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट खुलने के साथ ही चारधाम की यात्रा शुरू हो जाएगी। 6 मई को बाबा केदारनाथ के कपाट खुलेंगे। इस बार बड़ी संख्या में यात्रियों के आने की उम्मीद जताई जा रही है। सीएम धामी खुद ये कह चुके हैं कि इस बार पिछली सभी यात्राओं के रिकॉर्ड टूट जाएँगे। इसके साथ ही इस बार चारधाम की यात्रा करने के लिए पंजीकरण कराना अनिवार्य होगा। ये पहली बार है जब पर्यटन विभाग ने तीर्थ यात्रियों के पंजीकरण को जरूरी किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शुरू से एक्शन लेती रही सरकार, फिर भी राजनीति की गंगा में बहे पहलवान: बृजभूषण बनाम हुड्डा की लड़ाई में मेडल भी दाँव पर...

जानें बृजभूषण बनाम हुड्डा की लड़ाई का इतिहास। खेल संघों में सरकार का कितना दखल? देखें कैसे प्रदर्शनकारियों के लिए केंद्र सरकार ने लिए कई एक्शन।

मुस्लिम भीड़ ने जलाकर मार डाले 59 रामभक्त… अब पर्दे पर आएगी गोधरा की कहानी, टीजर आउट: नानावती आयोग की रिपोर्ट बनी फिल्म का...

फिल्म 'एक्सीडेंट ऑर कॉन्सपिरेसी गोधरा' का टीजर जारी कर दिया गया है। फिल्म की कहानी नानावती आयोग के तथ्यों पर आधारित बताई जा रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
258,945FollowersFollow
415,000SubscribersSubscribe