Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीति'यह सदी भारत की, याद रखिए अमृत काल के 5 प्रण': रामकृष्ण मठ की...

‘यह सदी भारत की, याद रखिए अमृत काल के 5 प्रण’: रामकृष्ण मठ की 125वीं वर्षगाँठ पर बोले PM मोदी – तमिल भाषा-संस्कृति और चेन्नई का माहौल पसंद

प्रधानमंत्री ने भारत में सशक्त होती महिलाओं के बारे में कहा कि आज का भारत महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास में विश्वास रखता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेन्नई में रामकृष्ण मठ की 125वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित समारोह में हिस्सा लिया। इस दौरान समारोह को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि रामकृष्ण मठ का मैं बहुत सम्मान करता हूँ। मठ ने मेरे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। खुशी का एक कारण यह भी है कि रामकृष्ण मठ चेन्नई में अपनी 125वीं वर्षगाँठ मना रहा है। इसके बाद पीएम मोदी ने कहा कि मैं तमिल भाषा तमिल संस्कृति और चेन्नई का माहौल पसंद करता हूँ।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि कन्याकुमारी में ही तपस्या करते हुए स्वामी जी ने जीवन के लक्ष्य की खोज की थी। इससे उनके जीवन में जो बदलाव आया उसका असर शिकागो तक देखा गया। पीएम ने आगे कहा कि स्वामी विवेकानंद बंगाल से थे लेकिन जब वे तमिलनाडु पहुँचे तो उनका नायक की तरह भव्य स्वागत किया गया। ऐसा भारत को स्वतंत्रता मिलने से कई वर्ष पहले हुआ था। देश के लोगों के मन में भारत की एक भारत श्रेष्ठ भारत की संकल्पना हजारों साल पहले से स्पष्ट है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दुनिया भर के एक्सपर्ट्स कहते हैं कि यह सदी भारत की है। हर भारतीय ऐसा महसूस भी करता है। इस अमृतकाल का उपयोग पाँच विचारों या पंच प्राणों को अपनाकर उपलब्धियों को हासिल करने के लिए किया जा सकता है। पीएम मोदी ने 5 विचारों के बारे में भी बताया जिसके अनुसार पहला है- विकसित भारत का लक्ष्य, दूसरा है- गुलामी की मानसिकता के सभी निशानियों को हटाना, तीसरा- अपनी समृद्ध विरासत पर गर्व करना, चौथा- आपसी एकता को और मजबूत करना और पाँचवाँ है- अपने नागरिक कर्तव्यों का पालन करना।

प्रधानमंत्री ने भारत में सशक्त होती महिलाओं के बारे में कहा कि आज का भारत महिलाओं के नेतृत्व वाले विकास में विश्वास रखता है। चाहे वह स्टार्टअप हो या फिर खेल, रक्षा क्षेत्र हो या फिर उच्च शिक्षा, महिलाएँ सभी रुकावटों को पार करके नए-नए कीर्तिमान बना रही हैं।

बता दें कि शनिवार (8 अप्रैल, 2023) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दक्षिण भारत के दौरे पर रहे। पहले हैदराबाद में उन्होंने सिकंदराबाद-तिरुपति वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई। इसके बाद पीएम मोदी ने बीबीनगर एम्स का शिलान्यास किया। इसके अतिरिक्त पीएम ने पाँच राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं और सिकंदारााबाद रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास और कई अन्य परियोजनाओं की आधारशिला रखी। पीएम ने यहाँ एक विशाल रैली को भी संबोधित किया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शराब घोटाले में जेल में ही बंद रहेंगे दिल्ली के CM केजरीवाल, हाई कोर्ट ने जमानत पर लगाई रोक: निचली अदालत के फैसले पर...

हाई कोर्ट ने कहा कि निचली अदालत ने मामले के पूरे कागजों पर जोर नहीं दिया जो कि पूरी तरह से अनुचित है और दिखाता है कि अदालत ने मामले के सबूतों पर पूरा दिमाग नहीं लगाया है।

NEET-UG विवाद: क्या है NTA, क्यों किया गया इसका गठन, किस तरह से कराता है परीक्षाओं का आयोजन… जानिए सब कुछ

सरकार ने परीक्षाओं के पारदर्शी, सुचारू और निष्पक्ष संचालन को सुनिश्चित करने के लिए विशेषज्ञों की एक उच्च स्तरीय समिति की घोषणा की है

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -