Tuesday, July 27, 2021
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृतिकुंभ सफाईकर्मियों के लिए PM मोदी ने निजी बचत से दान किए ₹21 लाख

कुंभ सफाईकर्मियों के लिए PM मोदी ने निजी बचत से दान किए ₹21 लाख

24 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पवित्र संगम पर मंत्रोच्चारण के बीच पूजा-अर्चना के साथ ही त्रिवेणी संगम में दुग्धाभिषेक किया था। इसके बाद पीएम मोदी ने सफाई कर्मचारियों व स्वच्छाग्रहियों को सम्मानित किया था और ने सफाईकर्मियों के पैर भी धोए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी व्यक्तिगत बचत से कुंभ सफाई कर्मचारी कॉर्पस फंड में ₹21 लाख दान दिए। ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में संपन्न हुए प्रयागराज महाकुंभ में सफाई कार्य में जुटे 5 कर्मचारियों के पाँव भी धोए थे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पूरे प्रशासन द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करते हुए मोदी ने ट्वीट किया, “उत्तर प्रदेश, खासकर प्रयागराज के लोगों को बधाई। इस कुंभ ने हमारी संस्कृति, आध्यात्मिकता को शानदार तरीके से दर्शाया और इसे आने वाले कई वर्षों तक याद रखा जाएगा।” PM मोदी की टिप्पणी 50 दिवसीय धार्मिक, आध्यात्मिक और सांस्कृतिक कुंभ मेले के समापन के एक दिन बाद आई है।

24 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पवित्र संगम पर मंत्रोच्चारण के बीच पूजा-अर्चना के साथ ही त्रिवेणी संगम में दुग्धाभिषेक किया था। इसके बाद पीएम मोदी ने सफाई कर्मचारियों व स्वच्छाग्रहियों को सम्मानित किया था और सफाईकर्मियों के पैर भी धोए थे।

इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा था कि कुंभ में हठ योगी, तप योगी और मंत्र योगी भी हैं और इनके साथ मेरे कर्मयोगी भी हैं। ये कर्मयोगी वो लोग हैं जो दिन रात मेहनत कर कुंभ में सुविधा मुहैया कराए हैं। इन कर्मयोगियों में नाविक भी हैं। इन कर्मयोगियों में स्थानीय निवासी भी हैं। कुंभ के कर्मयोगियों में साफ सफाई से जुड़े कर्मचारी भी शामिल हैं। इन्होंने साफ सफाई को पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना दिया।

ज्ञात हो कि कुंभ मेले के दौरान करीब 22,000 सफाईकर्मी और स्वच्छाग्रही तथा 12000 सुरक्षाकर्मियों की ड्यूटी लगी थी। जिनका पीएम मोदी ने आभार प्रकट किया।

अपनी निजी बचत को पहले भी दान कर चुके हैं PM नरेंद्र मोदी

कुंभ सफाईकर्मियों के लिए ₹21 लाख दान करने से पहले भी पीएम मोदी इस तरह की दरियादिली दिखा चुके हैं। हाल ही में सियोल शांति पुरस्कार के तौर पर मिली एक करोड़ ₹30 लाख की राशि को पीएम मोदी ने गंगा की सफाई के लिए चल रहे नमामि गंगे प्रॉजेक्ट को दान कर दी थी। इसके अलावा पीएम के तौर पर उनके कार्यकाल के दौरान उन्हें मिले स्मृति चिह्नों की नीलामी से प्राप्त ₹3.40 करोड़ भी उन्होंने नमामि गंगे प्रॉजेक्ट को दान कर दिए थे। 2015 में भी उन्हें मिले उपहारों की नीलामी की गई थी, इससे मिले ₹8.33 करोड़ भी उन्होंने नमामि गंगे मिशन को दान कर दिए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अपनी मौत के लिए दानिश सिद्दीकी खुद जिम्मेदार, नहीं माँगेंगे माफ़ी, वो दुश्मन की टैंक पर था’: ‘दैनिक भास्कर’ से बोला तालिबान

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि दानिश सिद्दीकी का शव युद्धक्षेत्र में पड़ा था, जिसकी बाद में पहचान हुई तो रेडक्रॉस के हवाले किया गया।

विवाद की जड़ में अंग्रेज, हिंसा के पीछे बांग्लादेशी घुसपैठिए? असम-मिजोरम के बीच झड़प के बारे में जानें सब कुछ

असल में असम से ही कभी मिजोरम अलग हुआ था। तभी से दोनों राज्यों के बीच सीमा-विवाद चल रहा है। इस विवाद की जड़ें अंग्रेजों के काल में हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,381FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe