Tuesday, May 17, 2022
Homeराजनीतिपंजाब के पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह की हार, AAP के अजित पाल सिंह...

पंजाब के पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह की हार, AAP के अजित पाल सिंह कोहली ने दी मात, धुरी सीट से जीते भगवंत मान

इधर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी चमकौर साहिब और भदौड़ दोनों जगह से पीछे चल रहे हैं। AAP के सीएम चेहरे भगवंत मान धुरी सीट पर जीत गए हैं।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पटियाला सिटी से चुनाव हार गए हैं। उन्हें 22868 वोटें मिलीं। अमरिंदर सिंह को AAP के उम्मीदवार अजीत पाल सिंह (Ajit Pal Singh Kohli) ने मात दी है। उन्होंने 36645 वोट हासिल किए। पटियाला शहरी पंजाब के 117 विधानसभा क्षेत्रों में से एक है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पिछली बार इस सीट से प्रदेश में सबसे बड़े मार्जिन 52,407 से जीत हासिल की थी। वह इस सीट पर चार बार विधायक रह चुके हैं। वहीं पंजाब की धुरी सीट से भगवंत मान जीत गए हैं।

फोटो साभार: ECI

पिछले साल सितंबर में कॉन्ग्रेस द्वारा सीएम पद से हटाए जाने के बाद, पटियाला के मौजूदा विधायक कैप्टन अमरिंदर सिंह अपनी नवगठित पंजाब लोक कॉन्ग्रेस पार्टी से चुनाव लड़े थे। कैप्टन के खिलाफ कॉन्ग्रेस उम्मीदवार विष्णु शर्मा और AAP उम्मीदवार अजीत पाल सिंह कोहली थे।

वहीं पंजाब के दिग्गज नेता अपनी सीटों पर पिछड़ते नजर आ रहे हैं। इनमें CM चरणजीत चन्नी, नवजोत सिंह सिद्धू, सुखबीर सिंह बादल और मालविका सूद शामिल हैं। अमृतसर ईस्ट सीट पर AAP के जीवन ज्योत कौर 1203 वोटों से आगे चल रहे हैं। जबकि दूसरे नंबर पर विक्रम सिंह मजीठिया 4796 वोटों के साथ बने हुए हैं। वहीं कॉन्ग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू मजीठिया से मात्र 53 वोटों से पीछे चल रहे हैं।

सिद्धू ने ट्वीट करते हुए लिखा, “जनता की आवाज ईश्वर की आवाज है… पंजाब की जनता के जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करें… AAP को बधाई!!!” मोगा से कॉन्ग्रेस उम्मीदवार और अभिनेता सोनू सूद की बहन मालविका सूद भी पीछे चल रही हैं।

इधर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी चमकौर साहिब और भदौड़ दोनों जगह से पीछे चल रहे हैं। AAP के सीएम चेहरे भगवंत मान धुरी सीट पर जीत गए हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस के दलवीर सिंह गोल्डी पर 50 हजार से अधिक वोटों से जीत दर्ज की है।

जलालाबाद से अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल पिछड़ गए हैं। हालाँकि वह AAP के जगदीप कंबोज से मात्र 827 वोटों से पीछे चल रहे हैं। इसी तरह लांबी से अकाली दल संरक्षक प्रकाश सिंह बादल भी AAP के गुरमीत सिंह से 1416 वोटों से पीछे हैं।

पंजाब में 117 विधानसभा चुनाव (Punjab Elections) क्षेत्र हैं। विधानसभा चुनाव जीतने के लिए किसी भी दल या गठबंधन को 59 सीटों का आँकड़ा हासिल करना होता है। पंजाब में 20 फरवरी को एक ही चरण में मतदान हुआ था। इस दौरान सभी 117 सीटों पर वोट डाले गए थे। पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 में कुल 1304 उम्‍मीदवारों ने राज्‍य में चुनाव लड़ा। राज्य में करीब 2.14 करोड़ मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्‍तेमाल किया। इनमें से पुरुष मतदाता 1,12,98,081, महिला मतदाता 102,00,996 और थर्ड जेंडर मतदाता 727 रहे। इस बार राज्‍य में करीब 71.95 फीसदी मतदान हुआ है, जो पिछले 15 साल में सबसे कम मतदान प्रतिशत है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,268FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe