Saturday, May 18, 2024
Homeराजनीति'सूअर खाओ.. हाथी-घोड़ा खाओ.. दिखा कर क्या संदेश देना चाहते हो?': बिहार में गरजे...

‘सूअर खाओ.. हाथी-घोड़ा खाओ.. दिखा कर क्या संदेश देना चाहते हो?’: बिहार में गरजे राजनाथ सिंह, कहा – किसने अपनी माँ का दूध पिया है जो मोदी को जेल में डाल दे

"आपका हौसला इतना बढ़ गया है? रामायण काल में सबने देखा है कि जिनके अंदर अहंकार पैदा होता है उनका क्या हश्र होता है?"

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लोकसभा चुनाव 2024 से पहले पूरे मूड में दिख रहे हैं। उन्होंने अपनी रैलियों के दौरान बताया है कि कैसे पूरी दुनिया में पिछले 10 वर्षों में भारत का कद बढ़ा है। वहीं अब बिहार के बाँका में एक रैली के दौरान उन्होंने कहा कि अभी नवरात्रि का पर्व चल रहा है, और वो बड़ी-बड़ी मछलियाँ बना कर खाते हुए दिखा रहे हैं। उन्होंने पूछा कि क्या सन्देश दिया जा रहा है? बता दें कि राजद नेता तेजस्वी यादव और VIP के मुकेश साहनी ने नवरात्रि के दौरान वीडियो डाला था, जिसमें वो मछली खाते दिखे थे।

राजनाथ सिंह ने कहा, “आप मछली खाएँ, सूअर खाएँ, हाथी-घोड़ा खाएँ, आपको जो खाना है खाएँ। आप दुनिया को दिखाते क्यों हैं? लोगों की भावनाओं को आहत करने का अधिकारी आपको किसने दिया? और तो कोई दिखाता नहीं है? आपका हौसला इतना बढ़ गया है? रामायण काल में सबने देखा है कि जिनके अंदर अहंकार पैदा होता है उनका क्या हश्र होता है? इस हद तक इनका मन बढ़ जाता है कभी कभी कि ये अपनी सरकार बना लेंगे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जेल में डाल देंगे।”

राजनाथ सिंह ने गरजते हुए कहा कि किसने अपनी माँ का दूध पिया है कि मोदी को जेल में डाल दे? इसके बाद दर्शकों ने ‘जय श्री राम’ की नारेबाजी के साथ उनका स्वागत किया। राजनाथ सिंह ने कहा कि जो खुद जेल बेल और बेल में हैं वो गिरफ्तार करेंगे? उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने सारी ज़िंदगी देश के लिए खपा दी, बूढ़ी माँ की आजीवन सेवा करते रहे, उसे आप जेल भेज देंगे? उन्होंने कहा कि वो व्यक्ति किसके लिए कमाएगा, कैसे उस पर भ्रष्टाचार का आरोप लग सकता है?

बता दें कि लालू यादव की बेटी मीसा भारती ने पीएम मोदी को जेल भेजने की बात की थी, जो पाटलिपुत्र से राजद की उम्मीदवार हैं। हाल ही में राजनाथ सिंह ने बताया था कि कैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक फोन कॉल से क़तर में फँसे 9 भारतीय पूर्व नौसेना अधिकारियों की फाँसी की सज़ा रुक गई थी। उन्होंने ये भी बताया कि कैसे रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान पीएम मोदी की पहल पर संघर्ष-विराम हुआ और भारतीयों को वहाँ से सुरक्षित निकालने में सफलता मिली।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

CM केजरीवाल के PA को जमानत नहीं, गिरफ्तारी से पहले ‘सेटिंग’ में लगा था विभव कुमार: जानिए स्वाति मालीवाल वाले से मारपीट में कितनी...

सीएम केजरीवाल के पीए विभव कुमार को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनकी अग्रिम जमानत की याचिका भी खारिज हो चुकी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -