Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिकभी जिसकी भैंस हुई थी चोरी, आज उसी भू-माफिया आजम खान पर भैंस चुराने...

कभी जिसकी भैंस हुई थी चोरी, आज उसी भू-माफिया आजम खान पर भैंस चुराने के आरोप में FIR दर्ज

पीड़ित लगातार न्याय के लिए 3 साल से भटक रहा था। अब जाकर पीड़ित परिवार रामपुर एसपी अजय पाल शर्मा के पास न्याय के लिए गया और आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की। इस पर एसपी ने उनकी पूरी बात सुनते हुए कोतवाली पुलिस को भूमाफिया आजम खान और......

समाजवादी पार्टी के सांसद और भू-माफिया आजम खान की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। उत्तर प्रदेश के रामपुर से सांसद आजम खान पर अब भैंस चुराने का आरोप लगा है। इस मामले में उनके खिलाफ रामपुर में दो लोगों ने FIR दर्ज कराई है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, आजम खान पर एक व्यक्ति ने दो भैंस और दूसरे ने एक भैंस चोरी होने की FIR दर्ज करवाई है। शहर कोतवाली में आसिफ अली और जाकिर अली की शिकायत पर ये मुकदमा दर्ज किया गया है। सपा सांसद आजम खान और पूर्व सीओ सिटी आलेहसन सहित 6 लोगों पर IPC की धारा 504, 506, 427, 395, 448, 452, 323, 304 के तहत केस दर्ज किया गया है।

इसमें 40 अज्ञात लोगों पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है। आसिफ अली और जाकिर अली का कहना है कि इन्होंने (आरोपितों ने) घर में घुसकर तोड़फोड़ की, गालियाँ दीं, मारपीट की और भैंस चुराई।

2016 का है मामला

FIR में दर्ज शिकायत के अनुसार- आरोप है कि अक्टूबर 16, 2016 को सुबह 6 बजे रामपुर पब्लिक स्कूल को बनाने के लिए यतीम खाना और उसके आस पास के मकानों को तोड़ा जा रहा था, उसी वक्त सपा नेता आज़म खान ओर उनके करीबी, तत्कालीन सीओ आले हसन, फसाहत शानू, मीडिया प्रभारी इस्लाम ठेकेदार, एसओ जी सिपाही धर्मन्द्र, सपा नेता वीरेन्द्र गोयल सहित 25 से 30 अज्ञात लोग अचानक पीड़ित के घर मे घुसे और मारने-पीटने लगे। आजम खान के साथी पीड़ित से कहने लगे कि घर से निकल जाओ, इस जगह आज़म खान का स्कूल बनना है।

इसके साथ ही वो लोग घर में रखे समान व सोने-चाँदी के आभूषण सहित नगदी लूट कर ले गए और जाते-जाते जान से मारने और झूठे मुकदमों में फ़साने की धमकी भी देकर फरार हो गए। इस कारण उस समय पुलिस ने उन पर कोई कार्रवाई नहीं की।

पीड़ित लगातार न्याय के लिए 3 साल से भटक रहा था। अब जाकर पीड़ित परिवार रामपुर एसपी अजय पाल शर्मा के पास न्याय के लिए गया और आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की। इस पर एसपी ने उनकी पूरी बात सुनते हुए कोतवाली पुलिस को भूमाफिया आजम खान और उनके सहयोगियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

साल 2014 में खुद आजम खान की भी भैंस चोरी हो गई थी। उस समय प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार थी। भैंस ढूंढने के लिए पुलिस की कई टीमें लगी थीं। यह बात काफी लंबे समय तक चर्चा का विषय बानी रही। तब पुलिस को भैंस चोर को ढूँढ निकालने में पाँच महीने बाद सफलता मिली थी। उसे इटावा के बकेवर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,137FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe