Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिशारदा घोटाला: CBI ने ममता सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी को किया तलब

शारदा घोटाला: CBI ने ममता सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी को किया तलब

पिछले महीने सीबीआई ने शारदा पोंजी घोटाला मामले में जाँच में शामिल होने के लिए तृणमूल कॉन्ग्रेस के सांसद डेरेक ओब्रायन को तलब किया था। शारदा घोटाले में गिरफ्तार होने वाले टीएमसी के राज्यसभा सांसद कुणाल घोष पहले टीएमसी नेता थे, जिन्हें नवंबर 2013 में गिरफ्तार किया गया।

शारदा चिटफंड घोटाले की जाँच कर रही केंद्रीय जाँच अन्वेषण (CBI) ने पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी को नोटिस भेजा है। उन्हें सत्तारुढ़ पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस के मुखपत्र ‘जागो बांग्ला’ के संदर्भ में तलब किया गया है। पार्थ चटर्जी ‘जागो बांग्ला’ के संपादक हैं और सीबीआई उनसे ‘जागो बांग्ला’ के बैंक खातों के कुछ वित्तीय लेन-देन के बारे में पूछताछ करने वाली है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि चटर्जी को शहर में स्थित सीबीआई के कार्यालय में शुक्रवार (अगस्त 16, 2019) दोपहर को जाँच अधिकारियों के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है।

पिछले महीने सीबीआई ने शारदा पोंजी घोटाला मामले में जाँच में शामिल होने के लिए तृणमूल कॉन्ग्रेस के सांसद डेरेक ओब्रायन को तलब किया था। अधिकारियों ने बताया कि उनसे भी जागो बांग्ला के बैंक खातों से संबंधित वित्तीय लेन- देन के बारे में पूछताछ हो सकती है। डेरेक ओब्रायन पार्टी के जागो बांग्ला के प्रकाशक हैं।

शारदा घोटाले में टीएमसी के कई दिग्गज नेताओं के नाम शामिल हैं और कई नेता इस मामले में फँस भी चुके हैं। पहले इस मामले में कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ की जानी थी, लेकिन राजीव कुमार ने अपनी चिट्ठी के साथ एक सीआईडी अधिकारी को सीबीआई के दफ्तर भेजकर राजीव कुमार ने पूछताछ के लिए समय माँगा है। फिलहाल, राजीव कुमार बंगाल के एडीजी सीआईडी पद पर तैनात हैं।

गौरतलब है कि, शारदा घोटाले में गिरफ्तार होने वाले टीएमसी के राज्यसभा सांसद कुणाल घोष पहले टीएमसी नेता थे, जिन्हें नवंबर 2013 में गिरफ्तार किया गया। कुणाल घोष चिटफंड घोटाले वाली कंपनी शारदा ग्रुप की मीडिया यूनिट के ग्रुप सीईओ थे। इस केस में गिरफ्तार होने वाले दूसरे नेता श्रींजॉय बोस थे। टीएमसी के राज्यसभा सांसद श्रींजॉय बोस को 21 नवंबर 2014 को सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। उन पर घोटाले के मास्टरमाइंड और शारदा ग्रुप के सीएमडी सुदीप्तो सेन से घोटाले की रकम में हिस्सा लेने का आरोप है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिवाजी से सीखा, 60 साल तक मुगलों को हराते रहे: यमुना से नर्मदा, चंबल से टोंस तक औरंगज़ेब से आज़ादी दिलाने वाले बुंदेले की...

उनके बारे में कहते हैं, "यमुना से नर्मदा तक और चम्बल नदी से टोंस तक महाराजा छत्रसाल का राज्य है। उनसे लड़ने का हौसला अब किसी में नहीं बचा।"

हिंदू मंदिरों की संपत्तियों का दूसरे धर्म के कार्यों में नहीं होगा उपयोग, कर्नाटक में HRCE ने लगाई रोक

कर्नाटक के हिन्दू रिलीजियस एण्ड चैरिटेबल एंडोवमेंट्स (HRCE) विभाग द्वारा जारी किए गए आदेश में यह कहा गया है कि हिन्दू मंदिर से प्राप्त किए गए फंड और संपत्तियों का उपयोग किसी भी तरह के गैर -हिन्दू कार्य अथवा गैर-हिन्दू संस्था के लिए नहीं किया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe