Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीतिअसम में सेमीकंडक्टर फैक्ट्री और नॉर्थ-ईस्ट के युवाओं को ट्रेनिंग के साथ नौकरी भी...

असम में सेमीकंडक्टर फैक्ट्री और नॉर्थ-ईस्ट के युवाओं को ट्रेनिंग के साथ नौकरी भी वहीं: CM सरमा ने रतन टाटा से मिल फाइनल की डील

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने मुंबई जाकर रतन टाटा और टाटा ग्रुप की लीडरशिप से मुलाकात की है। रतन टाटा से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि उन्होंने टाटा ग्रुप से अनुरोध किया है कि वो जगीरोड की फैक्ट्री में ही एक स्किल डेवलपमेंट सेंटर भी खोले। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर टाटा ग्रुप के साथ सहमति भी बन गई है।

असम में अब तक का सबसे बड़ा निवेश टाटा ग्रुप ने किया है। टाटा ग्रुप असम के मोरिगाँव के जगीरोड में 27 हजार करोड़ रुपए के निवेश से सेमीकंडक्टर चिप के उत्पादन के लिए फैक्ट्री लगा रही है। अब असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने मुंबई जाकर रतन टाटा और टाटा ग्रुप की लीडरशिप से मुलाकात की है। रतन टाटा से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि उन्होंने टाटा ग्रुप से अनुरोध किया है कि वो जगीरोड की फैक्ट्री में ही एक स्किल डेवलपमेंट सेंटर भी खोले, ताकि सिर्फ असम ही नहीं, बल्कि नॉर्थ-ईस्ट के सभी राज्यों के युवाओं को इस इंडस्ट्री से जुड़ी ट्रेनिंग मिल सके और उन्हें रोजगार भी मिल सके। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर टाटा ग्रुप के साथ सहमति भी बन गई है। वहीं, रतन टाटा ने कहा है कि ये फैक्ट्री सेमीकंडक्टर के उत्पादन की दुनिया में असम का नाम ऊपर उठाएगी।

हिमंता बिस्वा सरमा ने एक्स पर रतन टाटा और टाटा ग्रुप के शीर्ष अधिकारियों के साथ मुलाकात की तस्वीरें पोस्ट की। उन्होंने एक्स पर लिखा, “आज टाटा नेतृत्व के साथ मेरे विचार-विमर्श के दौरान हम एक कौशल विकास केंद्र बनाने पर सहमत हुए जो जगीरोड में सेमीकंडक्टर सुविधा के परिसर में सह-स्थित होगा। यह सेंटर नॉर्थ-ईस्ट के युवाओं को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, सेमीकंडक्टर और इलेक्ट्रॉनिक्स में ट्रेनिंग देकर उन्हें सक्षम बनाएगा और उन्हें जगीरोड सेंटर में ही नौकरियाँ दिलाने में मदद करेगा।”

उन्होंने आगे लिखा, “पहले से ही असम के 1500 युवा, जिसमें अधिकतर महिलाएँ हैं, वो बेंगलुरू और टाटा ग्रुप के अन्य सेंटर्स में प्रशिक्षण ले रहे हैं। ये सेंटर जब 2025 में जब काम करना शुरू कर देगा, तो इससे हम (असम) सेमीकंडक्टर इंडस्ट्री में अग्रणी भूमिका आ जाएँगे।”

साल 2025 में शुरू हो जाएगा सेमीकंडक्टर का उत्पादन

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने बताया है कि साल 2025 तक असम में सेमीकंडक्टर का उत्पादन शुरू हो जाएगा। 27 हजार करोड़ रुपए की इस परियोजना में उत्पादन शुरू होने के साथ ही असम सेमीकंडक्टर के उत्पादन में दुनिया के मैप पर आ जाएगा। हिमंता ने कहा कि वो असम के लोगों की तरफ से मुंबई में रतन टाटा से मिले और टाटा ग्रुप के शीर्ष अधिकारी एन. चंद्रशेखरन से मिले और उन्हें असम में भरोसा जताने और गेम चेजिंग निवेश के लिए शुक्रिया अदा दिया। उन्होंने कहा कि हम साल 2025 में चिप उत्पादन की शुरूआत की उम्मीद कर रहे हैं।

रतन टाटा ने की हिमंता बिस्वा सरमा की तारीफ

इस बीच, खुद रतन टाटा ने असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा को दूरदर्शी बताते हुए तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि असम को निवेश के लिए तैयार करने के लिए सरकार ने बहुत अच्छा काम किया है। असम में बनने वाली सेमीकंडक्टर फैसिलिटी असम को दुनिया के मानचित्र पर स्थापित कर देगा, दोनों हिमंता बिस्वा सरमा के दूरदर्शनी नेतृत्व की वजह से संभव हो सका। इसके लिए मैं उनका धन्यवाद भी करता हूँ।

बता दें कि टाटा ग्रुप भारत के दो राज्यों में सेमीकंडक्टर के उत्पादन के लिए फैक्ट्री लगा रहा है। टाटा कंपनी अमेरिकी कंपनी माइक्रोन के लिए गुजरात के साणंद में चिप असेंबली और टेस्टिंग सेंटर लगा रही है, जिसमें 22,500 करोड़ की लागत लग रही है। और अब असम में भी टाटा कंपनी सेमीकंडक्टर के उत्पादन के लिए अपना सेंटर खोल रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कहीं दर्जनों परिवारों को करना पड़ा पलायन, कहीं सिर मर मार दी गोली… बंगाल में राजनीतिक हिंसा की जाँच के लिए BJP ने बनाई...

लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के एक दिन बाद 5 जून को पश्चिम बंगाल के विभिन्न हिस्सों से चुनाव-पश्चात हिंसा की कई घटनाएँ सामने आईं।

‘हिन्दुओं गाड़ियों से रौंदो, बम से उड़ाओ, चाकू से उनके पेट चीरो’: ISIS की पत्रिका में हिंसक जिहाद का एलान, PM मोदी और राम...

आतंकी संगठन ISIS समर्थित वॉयस ऑफ़ खुरासान पत्रिका ने दुनिया भर के मुस्लिमों को भारत में हिन्दुओं के नरसंहार के लिए उकसाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -