Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिकपिल गुर्जर को सम्मानित करने वाले संजय सिंह ने शाहीन बाग फायरिंग के लिए...

कपिल गुर्जर को सम्मानित करने वाले संजय सिंह ने शाहीन बाग फायरिंग के लिए शाह को ठहराया था जिम्मेदार

अब इस खुलासे के बाद साफ़ हो गया है कि कपिल गुर्जर कोई सामान्य व्यक्ति नहीं है बल्कि आम आदमी पार्टी का ही एक नेता है और शाहीन बाग विरोध प्रदर्शन की साजिश के पीछे आम आदमी पार्टी की ही एक महत्वपूर्ण भूमिका भी नजर आ रही है।

आम आदमी पार्टी ने जिन आरोपों को दूसरों पर खुलेआम लगाया था अब उन आरोपों में केजरीवाल की पार्टी खुद फँसती हुई नज़र आ रही है, क्योंकि अब यह पता चला है कि 1 फरवरी को शाहीन बाग में जिस कपिल गुर्जर ने यह घोषणा करते हुए हवा में तीन फायर किए थे कि, यह हिंदुस्तान है यहाँ केवल हिंदुओं की ही चलेगी। दरअसल वह कपिल आप आदमी पार्टी का नेता था, 2019 के शुरुआत में ही वह अपने पिता के आम आदमी पार्टी से जुड़ गया था।

दिल्ली पुलिस द्वारा किया गया यह खुलासा आम आदमी पार्टी को शर्मिंदा करने के लिए पर्याप्त है। इससे पहले शाहीन बाग में हुई फायरिंग की घटना के तुरंत बाग आप नेता संजय सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा था कि, यह सब बीजेपी की चाल है। संजय सिंह ने शाहीन बाग की घटना के बाद बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि बीजेपी विधानसभा चुनावों को स्थगित कराने के लिए दिल्ली में शांति भंग करना चाहती है।

इसके बाद मंगलवार को दिल्ली क्राइम ब्रांच को जाँच के दौरान कपिल गुर्जर के मोबाइल फोन से कुछ तस्वीरें मिलीं। जिनको दिल्ली पुलिस ने साझा किया है। इन तस्वीरों में कपिल गुर्जर को आप नेता आतिशी और संजय सिंह के साथ देखा जा सकता है। वहीं तस्वीरों में आप नेता आतिशी, संजय सिंह और दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया कपिल गुर्जर और उनके पिता का स्वागत करते हुए दिखाई दे रहे हैं। कपिल ने पुलिस पूछताछ में स्वीकार किया है कि उसने और उसके पिता ने राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने के लिए पिछले वर्ष 2019 के शुरुआत में ही आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए थे।

वहीं इससे पहले संजय सिंह ने इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए हुए चुनाव आयोग को पहले ही चेतावनी दे दी थी कि भाजपा द्वारा चुनाव स्थगित करने के लिए एक साजिश रची जा रही है। राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा था, ‘मैंने पहले ही आगाह कर दिया था कि भाजपा दिल्ली में चुनाव टालने के लिए शांति भंग करने की साजिश रच रही है। उन्हें पता है कि वे हार जाएँगे। 2015 के दिल्ली चुनावों से पहले भी उन्होंने ऐसा ही करने की कोशिश की थी।

तब संजय सिंह ने सरकार पर सवाल खड़ा करते हुए कहा था, “यह कैसे संभव है कि देश की राजधानी में एक अकेला व्यक्ति आसानी से गोली चला रहा है और खुलेआम हथियार लहरा रहा है?” दिल्ली की कानून व्यवस्था के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ज़िम्मेदार हैं, लेकिन वे हम पर आरोप लगाकर हमें बेहजह परेशान करने की कोशिश कर रहे हैं।

दरअसल 1 फरवरी को कपिल गुर्जर नाम के एक व्यक्ति ने शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के करीब पहुँचकर तीन हवाई फायर किए थे। इसके बाद वहाँ तैनात पुलिस कर्मियों ने आरोपित को तत्काल हिरासत में ले लिया था। पुलिस हिरासत में लिए जाने के बाद आरोपित ने कहा था कि हमारे देश में केवल हिंदुओं की चलेगी और किसी की नहीं। इस घटना पर शीघ्र ही प्रतिक्रिया देते हुए आप नेता संजय सिंह ने केन्द्र की बीजेपी सरकार को इसके लिए दोषी ठहराया था।

अब इस खुलासे के बाद साफ़ हो गया है कि कपिल गुर्जर कोई सामान्य व्यक्ति नहीं है बल्कि आम आदमी पार्टी का ही एक नेता है और शाहीन बाग विरोध प्रदर्शन की साजिश के पीछे आम आदमी पार्टी की ही एक महत्वपूर्ण भूमिका भी नजर आ रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,137FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe