Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस और सपा नेता हड़प रहे आदिवासियों की जमीन: प्रियंका की सोनभद्र यात्रा पर...

कॉन्ग्रेस और सपा नेता हड़प रहे आदिवासियों की जमीन: प्रियंका की सोनभद्र यात्रा पर बोलीं मायावती

"अब इस घटना को लेकर सपा व कॉन्ग्रेस के नेताओं को अपने घड़ियाली आँसू बहाने की बजाय, वहाँ पीड़ित आदिवासियों को, उनकी जमीन वापिस दिलाने हेतु आगे आना चाहिए तो यह सही होगा।"

सोनभद्र हत्याकांड मामले में बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष और यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने सपा और कॉन्ग्रेस पर मंगलवार (अगस्त 13, 2019) को आधिकारिक रूप से गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने प्रियंका गाँधी द्वारा सोनभद्र कांड के पीड़ितों से मिलने पर भी निशाना साधा। साथ ही प्रदेश की भाजपा सरकार से सख्त कदम उठाकर आदिवासियों की जमीन उन्हें वापस दिलाने की गुहार लगाई।

पूर्व मुख्यमंत्री ने सोनभद्र हत्याकांड पर लगातार ट्वीट करते हुए पहले आदिवासियों की बात रखी। उन्होंने इस मामले में अपने पहले ट्वीट में कहा, “सोनभद्र काण्ड के पीड़ित आदिवासियों के मुताबिक पहले कॉन्ग्रेस व फिर सपा के भू-माफियाओं ने इनकी जमीन हड़प ली, जिसका विरोध करने पर, इनके कई लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया।”

फिर बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रियंका गाँधी द्वारा सोनभद्र में पीड़ितों के परिवारों से मिलने को लेकर कहा, “अब इस घटना को लेकर सपा व कॉन्ग्रेस के नेताओं को अपने घड़ियाली आँसू बहाने की बजाय, वहाँ पीड़ित आदिवासियों को, उनकी जमीन वापिस दिलाने हेतु आगे आना चाहिए। तो यह सही होगा।”

इसके अलावा मायावती ने अपने ट्वीट थ्रेड के आखिर में प्रदेश की भाजपा सरकार से गुहार लगाई है कि वो इस मामले के संबंध में सपा और कॉन्ग्रेस नेताओं पर सख्त कदम उठाएँ। साथ ही आदिवासियों को उनकी हड़पी हुई जमीनें वापस करवाएँ। बसपा अध्यक्ष ने यह माँग पूरी पार्टी की ओर से कॉन्ग्रेस और सपा नेताओं के ख़िलाफ़ उठाई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,125FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe