Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीति'भारतीय करेंसी पर हो मुलायम की फोटो': लक्ष्मी-गणेश की तस्वीर के बीच सपा नेता...

‘भारतीय करेंसी पर हो मुलायम की फोटो’: लक्ष्मी-गणेश की तस्वीर के बीच सपा नेता की फरमाइश, भारत रत्न देने और एक्सप्रेस-वे का नाम बदलने की हो चुकी है माँग

साल 2020 में सपा नेता दीपक मिश्रा ने मुलायम को भारत रत्न देने की माँग सबसे पहले की थी। इसके लिए मिश्रा ने करीब 10,000 लोगों का हस्ताक्षर का अभियान चला था। उन्होंने कहा था कि तीन बार मुख्यमंत्री और केंद्र में रक्षा मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव भारत रत्न के असली हकदार हैं।

देश के करेंसी नोटों पर देवी लक्ष्मी और भगवान गणेश की तस्वीर (Laxmi-Ganesh Photo on Notes) छापने की दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की माँग के बाद एक नया बहस शुरू हो गया है। इस बीच समाजवादी पार्टी (SP) के एक नेता ने पार्टी के संस्थापक और हाल में इस दुनिया को छोड़ कर गए मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की तस्वीर नोटों पर छापने की माँग की है।

सपा के प्रदेश सचिव शमशेर मलिक ने ट्वीट कर कहा कि भारत सरकार करेंसी नोट पर नया फोटो लगाने या बदलने पर विचार कर रही है तो उस पर स्वर्गीय मुलायम सिंह यादव की फ़ोटो लगाई जाए। शमशेर मलिक ने कहा कि मुलायम सिंह यादव सर्वमान्य नेता रहे हैं।

शमशेर मलिक ने कहा, “यदि भारत सरकार नोट पर नया फ़ोटो लगाने या बदलने पर विचार कर रही है तो हम समाजवादियों की माँग है कि नोट पर सर्वमान्य नेता आदरणीय मुलायम सिंह यादव (नेताजी) की तस्वीर लगाई जाए। ये स्व. नेताजी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। पूरा देश नोट पर नेताजी की तस्वीर का सम्मान करेगा।”

उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव ने समाज के सभी वर्गों को बराबर सम्मान और हिस्सेदारी दी। उन्होंने छात्र, नौजवानों, महिलाओं, किसानों और सैनिकों सहित समाज के प्रत्येक वर्ग को बराबर सम्मान दिया। कहा कि प्रत्येक वर्ग के लिए मुलायम सिंह यादव ने धरातल पर काम किया, जिसका लाभ समाज के अलग-अलग लोगों को मिला।

इसके पहले समाजवादी पार्टी के संभल से विधायक नवाब इकबाल महमूद ने मुलायम सिंह यादव को भारत रत्न देने की माँग की थी। महमूद ने कहा था कि मुलायम देश के नेता थे। हर दल के नेता उनका सम्मान करते थे और अब भी करते हैं। उन्होंने सबको जोड़ने का काम किया। ऐसी शख्सियत को ‘भारत रत्न’ मिलना चाहिए। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) से इस विचार करने के लिए कहा।

इसके पहले समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता आईपी सिंह ने 12 अक्टूबर 2022 को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को पत्र लिखकर मुलायम को भारत रत्न से सम्मानित करने की माँग की थी। आईपी सिंह ने अपने पत्र में कहा कि ‘धरती पुत्र’ मुलायम सिंह भारत रत्न की शोभा बढ़ाएँगे। उन्होंने लिखा कि मुलायम को भारत रत्न देने से हर उस इंसान को साहस मिलेगा, जो शोषण के खिलाफ आवाज उठाना चाहता है।

उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का नाम भी मुलायम सिंह के नाम पर करने की माँग की थी। उन्होंने कहा था कि नेताजी के नाम पर इस एक्सप्रेस-वे का नाम ‘धरतीपुत्र मुलायम सिंह यादव’ रखने का अनुरोध उन्होंने सीएम योगी से किया है।

इससे पहले साल 2020 में सपा नेता दीपक मिश्रा ने मुलायम को भारत रत्न देने की माँग की थी। इसके लिए मिश्रा ने करीब 10,000 लोगों का हस्ताक्षर का अभियान चला था। उन्होंने कहा था कि तीन बार मुख्यमंत्री और केंद्र में रक्षा मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव भारत रत्न के असली हकदार हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -