Sunday, May 19, 2024
HomeराजनीतिBJP की नई टीम में भी अमित मालवीय को देख उखड़े सुब्रमण्यम स्वामी, प्रियंका...

BJP की नई टीम में भी अमित मालवीय को देख उखड़े सुब्रमण्यम स्वामी, प्रियंका गाँधी की तारीफ वाली रिपोर्ट रीट्वीट की

“बीजेपी की आईटी सेल बेकार हो चुकी है। कुछ मेंबर फर्जी आईडी बनाकर मुझपर हमला कर रहे हैं, अगर मेरे प्रशंसक ऐसा करने पर उतरे तो उसके लिए मैं जिम्मेदार नहीं रहूँगा। जैसे मुझ पर हमला करने के लिए बीजेपी को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता।”

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय की फिर से नियुक्ति पर नाराजगी व्यक्त करने के कुछ ही घंटों बाद रविवार (सितंबर 27, 2020) को एक रिपोर्ट को रीट्वीट किया। इस रिपोर्ट में कॉन्ग्रेस नेता प्रियंका गाँधी की तारीफ की गई है।

बता दें कि बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शनिवार (सितंबर 26, 2020) को नई टीम की घोषणा की। इसमें पार्टी के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय को बरकरार रखा गया है। स्वामी ने मालवीय को हटाने की माँग की थी। उन्हें एक्सटेंशन मिलने पर नाराजगी व्यक्त की थी। हालाँकि, बाद में उन्होंने यू-टर्न लेते हुए दावा किया कि उनका पहला ट्वीट यह पता करने के लिए था कि मालवीय ने फर्जी आईडी से ट्वीट खुद करवाए थे या इसके पीछे कोई और था।

अब उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय से जुड़े अधिकारी पर हमला बोला है। सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर आरोप लगाया है कि फर्जी अकाउंट्स से उन पर हो रहे निजी हमलों के पीछे पीएमओ के हरेन जोशी का भी हाथ है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने ट्वीट में लिखा, “अब जब अमित मालवीय को फिर से चुन लिया गया है तो मुझे यह कहना पड़ रहा है कि मेरे पहले के ट्वीट यह पता करने के लिए थे कि मालवीय ने फर्जी आईडी से ट्वीट खुद करवाए या इसके पीछे कोई और था। अब यह साफ हो गया है। इसके पीछे पीएमओ के हरेन जोशी थे। मैंने दो हफ्ते पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसके बारे में लिखा है। मैंने उन्हें सबूत भी दिए हैं।”

अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पार्टी के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था। बुधवार (सितंबर 9, 2020) सुबह स्वामी ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा था कि अगर कल (सितंबर 10, 2020) तक अमित मालवीय को नहीं हटाया गया, तो इसका मतलब ये होगा कि पार्टी मुझे नहीं बचाना चाहती है।

उन्होंने ट्वीट में कहा था, “अगर कल तक अमित मालवीय को भाजपा आईटी सेल से नहीं हटाया गया, तो इसका मतलब पार्टी मुझे डिफेंड नहीं करना चाहती है। अगर पार्टी में ऐसा कोई फोरम नहीं है जहाँ मैं कार्यकर्ताओं की बात रख सकूँ तो ऐसे में मुझे अपना बचाव खुद ही करना होगा।” इसके लिए उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से पांडवों के कौरवों से सिर्फ पाँच ग्राम का राज्य माँगने की ‘न्यूनतम माँग’ की तर्ज पर अपनी न्यूनतम माँग में अमित मालवीय का निष्कासन का प्रपोजल रखा था।

वरिष्ठ नेता स्वामी की धमकियों के बावजूद, भाजपा ने उन्हें अनदेखा कर एक बार फिर से युवा भाजपा नेता अमित मालवीय को आईटी सेल प्रमुख बनाने का फैसला किया है।

बीजेपी की अनदेखी के बाद स्वामी ने दिया जवाब

अब मुखर भाजपा नेता ने खुद की अनदेखी पर प्रतिक्रिया एक न्यूज रिपोर्ट को रीट्वीट करके दिया है। इस न्यूज रिपोर्ट में प्रियंका गाँधी वाड्रा की प्रशंसा करते हुए उन्हें ‘उत्तर प्रदेश कॉन्ग्रेस में बदलाव का साइलेंट एजेंट’ बताया गया है।

Image Source: Subramanian Swamy

रविवार को, सुब्रमण्यम स्वामी ने CNN News18 की एक रिपोर्ट को रीट्वीट किया, जिसमें दावा किया गया है कि प्रियंका गाँधी के नेतृत्व में कॉन्ग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर बदलाव के दौर से गुजर रही है। रिपोर्ट में प्रियंका गाँधी को ’दीदी’ के रूप में संबोधित किया गया है। इसके साथ ही प्रियंका गाँधी कि तुलना उनकी दादी पूर्व पीएम इंदिरा गाँधी और उनकी राजनीतिक और संगठनात्मक कार्यशैली की समानता से किया गया है।

कॉन्ग्रेस पार्टी, विशेष रूप से गाँधी परिवार को लेकर अपने विरोध के लिए जाने जाने वाले सुब्रमण्यम स्वामी ने अचानक से उनकी तारीफ की है। प्रियंका गाँधी के लिए उनकी सकारात्मक स्वीकार्यता पार्टी नेतृत्व द्वारा अपनी अनदेखी किए जाने के ठीक एक दिन बाद आई है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने इससे पहले ट्वीट करते हुए लिखा था, “बीजेपी की आईटी सेल बेकार हो चुकी है। कुछ मेंबर फर्जी आईडी बनाकर मुझपर हमला कर रहे हैं, अगर मेरे प्रशंसक ऐसा करने पर उतरे तो उसके लिए मैं जिम्मेदार नहीं रहूँगा। जैसे मुझ पर हमला करने के लिए बीजेपी को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CCTV फुटेज गायब, फोन फॉर्मेट: जाँच में सहयोग नहीं कर रहा विभव कुमार, AAP के मार्च के बीच बोलीं स्वाति मालीवाल – काश मनीष...

स्वाति मालीवाल पिटाई मामले में बिभव की गिरफ्तारी से अरविंद केजरीवाल बौखलाए दिख रहे हैं। उन्होंने बीजेपी ऑफिस तक मार्च करने का ऐलान किया है।

पानी की टंकी में हथियार, जवानों के खाने-पीने की चीजों में ज़हर… जानें क्या था ‘लाल आतंकियों’ का ‘पेरमिली दलम’ जिसे नेस्तनाबूत करने में...

पेरमिली दलम ने गढ़चिरौली के जंगलों में ट्रेनिंग कैम्प खोल रखे थे। जनजातीय युवकों को सरकार के खिलाफ भड़का कर हथियार चलाने की ट्रेनिंग देते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -