Friday, June 14, 2024
Homeराजनीतिइंदिरा गाँधी के लिए पंजाब की कॉन्ग्रेस सरकार से श्रद्धांजलि नहीं, सीनियर कॉन्ग्रेसी नेता...

इंदिरा गाँधी के लिए पंजाब की कॉन्ग्रेस सरकार से श्रद्धांजलि नहीं, सीनियर कॉन्ग्रेसी नेता ने शेयर की पिछले साल की फोटो

पंजाब के पूर्व कॉन्ग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने इंदिरा गाँधी की पुण्यतिथि के मौके पर अपनी ही सरकार पर हमला बोला है। जाखड़ ने पिछले साल के पंजाब सरकार के एक विज्ञापन को पोस्ट किया है, जिसमें कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इंदिरा गाँधी को श्रद्धांजलि दी थी।

पंजाब के पूर्व कॉन्ग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने इंदिरा गाँधी की पुण्यतिथि के मौके पर अपनी ही सरकार पर हमला बोला है। जाखड़ ने पंजाब में किसी भी नेता द्वारा आज के दिन कोई भी पोस्ट शेयर नहीं करने पर नाराजगी व्यक्त की है। जाखड़ ने अपने ट्वीट में पिछले साल के पंजाब सरकार के एक विज्ञापन को पोस्ट किया है, जिसमें कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इंदिरा गाँधी को श्रद्धांजलि दी थी।

उन्होंने ट्वीट किया, ”मैं समझ सकता हूँ कि बीजेपी भारत के इतिहास से ‘आयरन लेडी ऑफ इंडिया’ को मिटाने की कोशिश कर रही है। लेकिन क्या अभी भी पंजाब में कॉन्ग्रेस की सरकार नहीं है।” उन्होंने कहा, ”मुझे पता है कि कैप्टन साहब पिछले साल के पंजाब सरकार के विज्ञापन का इस्तेमाल करने से एतराज नहीं करेंगे, क्योंकि आज कोई भी विज्ञापन नहीं है।”

कॉन्ग्रेस ने रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की। राहुल गाँधी ने दिल्ली में उनके स्मारक ‘शक्ति स्थल’ पर पुष्पांजलि अर्पित की। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष ने हिंदी में ट्वीट किया, ”मेरी दादी अंतिम घड़ी तक निडरता से देश सेवा में लगी रहीं, उनका जीवन हमारे लिए प्रेरणा स्रोत है। नारी शक्ति की बेहतरीन उदाहरण श्रीमती इंदिरा गाँधी जी के बलिदान दिवस पर विनम्र श्रद्धांजलि।” तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की 31 अक्टूबर 1984 को दो सिख सुरक्षा गार्डों ने हत्या कर दी थी।

बता दें कि पंजाब सरकार में ​​पिछले कई महीनों से अंर्तकलह जारी है। यही कारण है कि कॉन्ग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ ने सार्वजनिक तौर पर अपनी पार्टी पर हमला किया है। इसी वजह से इंदिरा गाँधी की पुण्यतिथि के मौके पर पंजाब सरकार के पिछले साल के विज्ञापन को साझा किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -