Wednesday, June 19, 2024
Homeराजनीतिजिन्होंने माता सीता पर शक किया, ये वही अयोध्यावासी हैं: रामलला की नगरी में...

जिन्होंने माता सीता पर शक किया, ये वही अयोध्यावासी हैं: रामलला की नगरी में हारी BJP तो क्रोधित हो उठे ‘लक्ष्मण’, मतदाताओं को बताया स्वार्थी

सुनील लहरी ने अयोध्या में बीजेपी की हार पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक पोस्ट शेयर किया, जिन्होंने उन्होंने अयोध्या नगरी की जनता को लताड़ लगाते हुए अयोध्यावासियों को स्वार्थी करार दिया।

लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजे आने के बाद रामानंद सागर के ‘रामायण’ में लक्ष्मण की भूमिका निभाने वाले मशहूर एक्टर सुनील लहरी काफी मायूस दिखे। उन्होंने अयोध्या जिले की फैजाबाद लोकसभा सीट पर बीजेपी की हार के बाद अयोध्या के लोगों पर अपनी भड़ास निकाली है। सुनील लहरी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अयोध्या के लोगों की तुलना ‘धोखेबाज’ से की है और कहा कि ये लोग उसी अयोध्या के वासी है, जिन्होंने ‘माता सीता पर भी शक’ किया था।

सुनील लहरी ने अयोध्या में बीजेपी की हार पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए एक पोस्ट शेयर किया, जिन्होंने उन्होंने अयोध्या नगरी की जनता को लताड़ लगाते हुए अयोध्यावासियों को स्वार्थी करार दिया। सुनील ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज में बाहुबली के मशहूर सीन की एक तस्वीर शेयर की है। इसमें कटप्पा बाहुबली को मारते हैं। बाहुबली पर बीजेपी लिखा हुआ है, जबकि कटप्पा पर अयोध्या लिखा हुआ है।

सुनील लहरी ने अगली स्लाइड में हिंदी में एक नोट लिखा है, जिसमें लिखा है, “हम भूल रहे हैं कि ये वही अयोध्यावासी हैं, जिन्होंने वनवास से लौटने के बाद देवी सीता पर संदेह किया था। उस व्यक्ति को क्या कहेंगे जो भगवान को भी नकार देता है? स्वार्थी… इतिहास गवाह है कि अयोध्यावासियों ने हमेशा अपने राजा को धोखा दिया है शर्म आनी चाहिए उन्हें।”

सुनील लहरी ने अयोध्या की जनता को धोखेबाज करार देते हुए लिखा, “हम अयोध्या के प्यारे नागरिकों की महानता को सलाम करते हैं, आप ही हैं जिन्होंने देवी सीता को भी नहीं बख्शा। हमें इस बात पर कोई आश्चर्य नहीं है कि आपने उस व्यक्ति को धोखा दिया जिसने यह सुनिश्चित किया कि भगवान राम उस छोटे से तंबू से बाहर आएं और एक खूबसूरत मंदिर में स्थापित हों.. पूरा देश आपको फिर कभी सम्मान की नजर से नहीं देखेगा।”

गौरतलब है कि सुनील लहरी ने रामानंद सागर की टीवी सीरीज रामायण में लक्ष्मण का किरदार निभाया था। उन्होंने अयोध्या में हुए राम मंदिर उद्घाटन समारोह में भी भाग लिया था। वो रामायण में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल और माता सीता की भूमिका निभाने वाली दीपिका चिखलिया के साथ शामिल हुए थे। तीनों का अयोध्या में जोरदार स्वागत किया गया था। लोगों ने सीरियल के राम-सीता-लक्ष्मण का फूल बरसाते हुए स्वागत किया था।

बता दें कि अयोध्या जिले की फैजाबाद लोकसभा सीट, जिसके अंतर्गत रामलला का जन्मस्थान भी आता है। वहाँ बीजेपी को लोकसभा चुनाव में हार का मुँह देखना पड़ा। बीजेपी के 2 बार के सांसद लल्लू सिंह को समाजवादी पार्टी के अवधेश प्रसाद पासी ने हरा दिया। अयोध्या जिले में बीजेपी का हार से नाराज सुनील लहरी का ये पोस्ट मीडिया में भी खासा अटेंशन पा रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -