Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीति'CM की कुर्सी' पर 'धर्मपत्नी', दीवार पर भगत सिंह और अंबेडकर के बीच जेल...

‘CM की कुर्सी’ पर ‘धर्मपत्नी’, दीवार पर भगत सिंह और अंबेडकर के बीच जेल में बंद AK: चौथी बार प्रकट हो सुनीता केजरीवाल ने खड़ा किया नया विवाद

सुनीता केजरीवाल जितनी देर तक यह संदेश पढ़ती रहीं, उनकी पृष्ठभूमि में दीवार पर तीन तस्वीरें लगी दिखीं। इन तस्वीरों में शहीद भगत सिंह और बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर की तस्वीरें दीवार पर टँगी दिखीं। इन दोनों तस्वीरों के बीच में अरविंद केजरीवाल की तस्वीर दिखी। इसके पहले बैंकग्राउंड में सिर्फ भगत सिंह और अंबेडकर की ही तस्वीरें दिखती थीं।

शराब घोटाले में जेल में बंद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने वीडियो जारी करके मुख्यमंत्री के कथित संदेश को पढ़ा है। इन सबके के बीच जो सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि सुनीता ने शहीद भगत सिंह और बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के बीच अरविंद केजरीवाल की तस्वीर लगाकर उन्हें महान साबित करने की कोशिश की। इसको लेकर भाजपा ने तंज कसा है।

सुनीता केजरीवाल ने गुरुवार (4 अप्रैल 2024) को अपना वीडियो संदेश जारी किया और कहा कि अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी (AAP) के सभी विधायकों को अपने-अपने क्षेत्रों में जाने के लिए कहा है, ताकि वहाँ की जनता को किसी तरह की दिक्कत ना हो। ये कथित मैसेज अरविंद केजरीवाल ने तिहाड़ जेल से अपनी पत्नी सुनीता केजरीवाल के माध्यम से भेजा है।

सुनीता ने कहा, “मैं सुनीता केजरीवाल, अरविंद केजरीवाल जी की धर्मपत्नी। आपके केजरीवाल जी ने सभी विधायकों के लिए जेल से संदेश भेजा है।” केजरीवाल के कथित संदेश को पढ़ते हुए सुनीता ने आगे कहा, मैं जेल में हूँ। इस वजह से मेरे किसी दिल्ली वासी को किसी तरह की तकलीफ नहीं होनी चाहिए। हर विधायक इलाके के रोज दौरा करे और लोगों से पूछे कि उन्हें कोई दिक्कत तो नहीं हो रही।”

उन्होंने आगे कहा, जिसको जो समस्या है, उसे (विधायक) दूर करे। मैं केवल सरकारी विभागों की समस्याओं का समाधान करने की बात नहीं कर रहा। हमें लोगों की बाकी समस्याओं का समाधान करने की भी कोशिश करनी है। दिल्ली के दो करोड़ लोग मेरा परिवार हैं। मेरे परिवार में कोई किसी भी वजह से दुखी नहीं होना चाहिए। भगवान सबका भला करे।”

सुनीता केजरीवाल जितनी देर तक यह संदेश पढ़ती रहीं, उनकी पृष्ठभूमि में दीवार पर तीन तस्वीरें लगी दिखीं। इन तस्वीरों में शहीद भगत सिंह और बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर की तस्वीरें दीवार पर टँगी दिखीं। इन दोनों तस्वीरों के बीच में अरविंद केजरीवाल की तस्वीर दिखी। इसके पहले बैंकग्राउंड में सिर्फ भगत सिंह और अंबेडकर की ही तस्वीरें दिखती थीं।

अरविंद केजरीवाल को महान बताने और भगत सिंह एवं बाबासाहेब अंबेडकर के समक्ष खड़ा करने पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी पर हमला बोला है। दिल्ली भाजपा ने सोशल मीडिया साइट X पर एक पोस्ट करके लिखा कि ‘जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है और यह आपियों पर सटीक बैठता है’। पार्टी ने कहा कि यह AAP की रोज-रोज की ड्रामेबाजी है।

भाजपा ने लिखा, “शराब की दलाली खाकर, घोटाले कर जेल पहुँचा शराब का सरगना केजरीवाल अब अपनी तुलना शहीद भगत सिंह जी से और बाबासाहब भीमराव अंबेडकर जी से करने लगा है। आखिर कोई इतना आत्ममुग्ध कैसे हो सकता है? रही बात अपने निकम्मे विधायकों को संदेश देने की तो शीशमहल में जब मिलने आए तब संदेश क्यों नहीं दे दिया? इसका मतलब स्पष्ट है पिछले 9 साल से आपके विधायक क्षेत्र में नहीं रहे और मौज-मस्ती, पॉलिटिकल टूर में बिजी रहे?”

भाजपा ने आगे लिखा, ” दिल्ली के लोगों ने देखा है कि हर साल पानी की किल्लत हो, कोरोना काल हो, दिल्ली में बाढ़ आई हो या कोई भी समस्या हो तब आपके विधायक गायब रहे? यह नौटंकी बंद कीजिए, दिल्ली की जनता अब आप की सच्चाई समझ चुकी है। रोज रोज सोशल मीडिया और मीडिया में आकर ड्रामेबाजी करने से बेहतर होगा की जनहित के काम पर ध्यान दें।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तेजस्वी यादव के बगल में खड़े इस राजा को देखिए, वहीं के व्यवसायी को सुपारी देकर मरवाया जहाँ से माँ थी RJD उम्मीदवार: हत्या...

बिहार के पूर्णिया में 2 जून, 2024 को हुई एक व्यवसायी गोपाल यादुका की हत्या की सुपारी राजद नेता बीमा भारती के बेटे राजा ने दी थी।

चुनाव ब्रिटेन का और वोट ‘कश्मीर की आजादी’ के नाम पर माँग रहा सत्ताधारी दल का सांसद, हिंदू-भारत घृणा से भरा है चुनावी अभियान

कंजर्वेटिव पार्टी के नेता मार्को लोंगी ने पहले तो बकरीद की शुभकामनाएँ दी, उसके बाद भारत विरोधी आग उगलना शुरू किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -