Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिवंशवादी राजनीति के कारण ही देश के कई राज्यों का विकास हुआ: कुमारस्वामी

वंशवादी राजनीति के कारण ही देश के कई राज्यों का विकास हुआ: कुमारस्वामी

कुमारस्वामी ने कहा था कि मोदी रोज़ सुबह उठते हैं और मेक-अप कर के कैमरे के सामने बैठ जाते हैं। उन्होंने मोदी के चेहरे की चमक के पीछे का राज़ बताते हुए ख़ुद से उनकी तुलना की थी।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने वंशवाद को मुद्दा मानने से इनकार कर दिया है। रामनगर में अपना वोट डालने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कुमरस्वामी ने कहा कि वंशवाद देश के लिए महत्वपूर्ण मुद्दा नहीं है, देश की समस्याएँ महत्वपूर्ण मुद्दा है। उन्होंने एक क़दम और आगे बढ़ते हुए कहा कि वंशवादी और क्षेत्रीय राजनीति के कारण ही देश के कई राज्यों का विकास हुआ। उन्होंने कर्नाटक के मुख्य विपक्षी दल पर निशाना साधते हुए कहा कि वो भाजपा द्वारा उनकी आलोचना पर ध्यान नहीं देते। आज दक्षिण कर्नाटक की 14 लोकसभा सीटों पर मतदान चल रहा है। जेडीएस के नेताओं पर हुए इनकम टैक्स छापे के बीच चल रहे चुनाव में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है।

कर्नाटक में राजनीतिक बयानबाज़ी काफ़ी तेज़ हो गई है। सीएम कुमरस्वामी ने जब प्रधानमंत्री मोदी और उनके मेक-अप को लेकर तंज कसा तो एक भाजपा विधायक ने भी उनपर कमेंट किया। कुमारस्वामी ने कहा था कि मोदी रोज़ सुबह उठते हैं और मेक-अप कर के कैमरे के सामने बैठ जाते हैं। उन्होंने मोदी के चेहरे की चमक के पीछे का राज़ बताते हुए ख़ुद से उनकी तुलना की थी। कुमारस्वामी ने कहा था कि मोदी वैक्सिंग कराते हैं। कुमारस्वामी के इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा विधायक राजू कागे ने कहा:

“आप कहते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बार-बार अपने कपड़े बदलते हैं। अरे, वह गोरे और आकर्षक हैं इसलिए लगातार कपड़े बदलते हैं। लेकिन अगर आप (कुमारस्‍वामी) दिन में सौ बार भी नहाते हैं तो भी काले भैंस जैसे ही दिखेंगे।”

एचडी कुमारस्वामी ने भाजपा विधायक के इस बयान का जवाब देते हुए शिवमोग्गा में एक रैली के दौरान कहा कि वो ग़रीबों के बीच रहते हैं और ग़रीबों से हाथ मिलाने के बाद हाथ नहीं धोते। उन्होंने उस रैली में कहा, “ये लोग (भाजपा विधायक) कहते हैं की मैं दिन भर में 20 बार नहा लूँ फिर भी मेरा काला भैंस वाला रंग नहीं जाएगा। मैं तुम्हारे मोदी की तरह नहीं हूँ जो रोज़ सुबह अपने चेहरे की वैक्सिंग करा कर बाहर निकलते हैं।” कर्नाटक में चेहरे के रंग को लेकर चल रही राजनीति के बीच अब कुमारस्वामी ने वंशवाद की राजनीति का बचाव किया है।

अगर देवेगौड़ा परिवार की बात करें तो पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा अभी जेडीएस के अध्यक्ष हैं। उनके बेटे एचडी कुमारस्वामी कर्नाटक के मुख्यमंत्री हैं। कुमारस्वामी के बेटे निखिल गौड़ा मांड्या से लोकसभा प्रत्याशी हैं। हासन लोकसभा सीट से कुमारस्वामी के भतीजे प्रज्वल रेवन्ना मैदान में हैं। कुमारस्वामी के भाई एचडी रेवन्ना कर्नाटक सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। ऐसे में, कुमारस्वामी द्वारा वंशवादी राजनीति का गुणगान करने के पीछे का कारण समझा जा सकता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वीर सावरकर के नाम पर फिर बिलबिलाए कॉन्ग्रेसी; कभी इसी कारण से पं हृदयनाथ को करवाया था AIR से बाहर

पंडित हृदयनाथ अपनी बहनों के संग, वीर सावरकर द्वारा लिखित कविता को संगीतबद्ध कर रहे थे, लेकिन कॉन्ग्रेस पार्टी को ये अच्छा नहीं लगा और उन्हें AIR से निकलवा दिया गया।

‘किताब खरीद घोटाला, 1 दिन में 36 संदिग्ध नियुक्तियाँ’: MGCUB कुलपति की रेस में नया नाम, शिक्षा मंत्रालय तक पहुँची शिकायत

MGCUB कुलपति की रेस में शामिल प्रोफेसर शील सिंधु पांडे विक्रम विश्वविद्यालय में कुलपति थे। वहाँ पर वो किताब खरीद घोटाले के आरोपित रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,635FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe