वंशवादी राजनीति के कारण ही देश के कई राज्यों का विकास हुआ: कुमारस्वामी

कुमारस्वामी ने कहा था कि मोदी रोज़ सुबह उठते हैं और मेक-अप कर के कैमरे के सामने बैठ जाते हैं। उन्होंने मोदी के चेहरे की चमक के पीछे का राज़ बताते हुए ख़ुद से उनकी तुलना की थी।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने वंशवाद को मुद्दा मानने से इनकार कर दिया है। रामनगर में अपना वोट डालने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कुमरस्वामी ने कहा कि वंशवाद देश के लिए महत्वपूर्ण मुद्दा नहीं है, देश की समस्याएँ महत्वपूर्ण मुद्दा है। उन्होंने एक क़दम और आगे बढ़ते हुए कहा कि वंशवादी और क्षेत्रीय राजनीति के कारण ही देश के कई राज्यों का विकास हुआ। उन्होंने कर्नाटक के मुख्य विपक्षी दल पर निशाना साधते हुए कहा कि वो भाजपा द्वारा उनकी आलोचना पर ध्यान नहीं देते। आज दक्षिण कर्नाटक की 14 लोकसभा सीटों पर मतदान चल रहा है। जेडीएस के नेताओं पर हुए इनकम टैक्स छापे के बीच चल रहे चुनाव में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है।

कर्नाटक में राजनीतिक बयानबाज़ी काफ़ी तेज़ हो गई है। सीएम कुमरस्वामी ने जब प्रधानमंत्री मोदी और उनके मेक-अप को लेकर तंज कसा तो एक भाजपा विधायक ने भी उनपर कमेंट किया। कुमारस्वामी ने कहा था कि मोदी रोज़ सुबह उठते हैं और मेक-अप कर के कैमरे के सामने बैठ जाते हैं। उन्होंने मोदी के चेहरे की चमक के पीछे का राज़ बताते हुए ख़ुद से उनकी तुलना की थी। कुमारस्वामी ने कहा था कि मोदी वैक्सिंग कराते हैं। कुमारस्वामी के इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा विधायक राजू कागे ने कहा:

“आप कहते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बार-बार अपने कपड़े बदलते हैं। अरे, वह गोरे और आकर्षक हैं इसलिए लगातार कपड़े बदलते हैं। लेकिन अगर आप (कुमारस्‍वामी) दिन में सौ बार भी नहाते हैं तो भी काले भैंस जैसे ही दिखेंगे।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

एचडी कुमारस्वामी ने भाजपा विधायक के इस बयान का जवाब देते हुए शिवमोग्गा में एक रैली के दौरान कहा कि वो ग़रीबों के बीच रहते हैं और ग़रीबों से हाथ मिलाने के बाद हाथ नहीं धोते। उन्होंने उस रैली में कहा, “ये लोग (भाजपा विधायक) कहते हैं की मैं दिन भर में 20 बार नहा लूँ फिर भी मेरा काला भैंस वाला रंग नहीं जाएगा। मैं तुम्हारे मोदी की तरह नहीं हूँ जो रोज़ सुबह अपने चेहरे की वैक्सिंग करा कर बाहर निकलते हैं।” कर्नाटक में चेहरे के रंग को लेकर चल रही राजनीति के बीच अब कुमारस्वामी ने वंशवाद की राजनीति का बचाव किया है।

अगर देवेगौड़ा परिवार की बात करें तो पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा अभी जेडीएस के अध्यक्ष हैं। उनके बेटे एचडी कुमारस्वामी कर्नाटक के मुख्यमंत्री हैं। कुमारस्वामी के बेटे निखिल गौड़ा मांड्या से लोकसभा प्रत्याशी हैं। हासन लोकसभा सीट से कुमारस्वामी के भतीजे प्रज्वल रेवन्ना मैदान में हैं। कुमारस्वामी के भाई एचडी रेवन्ना कर्नाटक सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। ऐसे में, कुमारस्वामी द्वारा वंशवादी राजनीति का गुणगान करने के पीछे का कारण समझा जा सकता है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

रामचंद्र गुहा और रवीश कुमार
"अगर कॉन्ग्रेस में शीर्ष नेताओं को कोई अन्य राजनेता उनकी कुर्सी के लिए खतरा लगता है, तो वे उसे दबा देते हैं। कॉन्ग्रेस में बहुत से अच्छे नेता हैं, जिन्हें मैं बहुत अच्छे से जानता हूँ। लेकिन अगर मैंने उनका नाम सार्वजनिक तौर पर लिया तो पार्टी में उन्हें दबा दिया जाएगा।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

143,129फैंसलाइक करें
35,293फॉलोवर्सफॉलो करें
161,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: