पूर्व कॉन्ग्रेसी मंत्री अब्दुल सत्तार शिवसेना में शामिल, कहा- पिछले 5 वर्षों से शिवसेना किसानों की लड़ाई लड़ रही है

“पिछले पाँच वर्षों से शिवसेना किसानों के लिए लड़ाई लड़ रही है। विपक्षी पार्टी होने के नाते, यह हमारी (कॉन्ग्रेस) जिम्मेदारी थी, लेकिन सरकार का हिस्सा रहने के बावजूद शिवसेना ने किसानों की दुर्दशा पर अपनी आवाज उठाई।”

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अब्दुल सत्तार सोमवार (सितंबर 2, 2019) को शिवसेना में शामिल हो गए। औरंगाबाद जिले की सिलोद विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर चुके सत्तार यहाँ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के आवास पर उनकी मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए।

उन्होंने इसी साल हुए आम चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस विधायक की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद उन्होंने भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख रावसाहेब दानवे की मदद की थी, जो कि जालना लोकसभा सीट से चुनाव जीते थे। 

बता दें कि, सत्तार पिछली कॉन्ग्रेस-राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (राकांपा) गठबंधन सरकार में पशुपालन मंत्री थे। सत्तार को शिवसेना में शामिल करने के बाद पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सिलोद विधानसभा क्षेत्र से सत्तार के नामांकन की घोषणा करते हुए कहा कि वह चाहते हैं कि सत्तार एक बार फिर सीट जीतें। उन्होंने कहा कि यह सीट उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

वहीं सत्तार ने पार्टी में शामिल होने के बाद कहा कि वह शिवसेना में इसलिए शामिल हुए, क्योंकि पार्टी किसानों के हित के लिए काम कर रही है। उन्होंने कॉन्ग्रेस पार्टी की खिंचाई करते हुए कहा, “पिछले पाँच वर्षों से शिवसेना किसानों के लिए लड़ाई लड़ रही है। विपक्षी पार्टी होने के नाते, यह हमारी (कॉन्ग्रेस) जिम्मेदारी थी, लेकिन सरकार का हिस्सा रहने के बावजूद शिवसेना ने किसानों की दुर्दशा पर अपनी आवाज उठाई।”

बता दें कि, महाराष्ट्र में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और पिछले कुछ हफ्तों में कॉन्ग्रेस और राकांपा के कई नेता या तो भाजपा या फिर शिवसेना का दामन थाम चुके हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी हत्याकांड
आपसी दुश्मनी में लोग कई बार क्रूरता की हदें पार कर देते हैं। लेकिन ये दुश्मनी आपसी नहीं थी। ये दुश्मनी तो एक हिंसक विचारधारा और मजहबी उन्माद से सनी हुई उस सोच से उत्पन्न हुई, जहाँ कोई फतवा जारी कर देता है, और लाख लोग किसी की हत्या करने के लिए, बेखौफ तैयार हो जाते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

107,076फैंसलाइक करें
19,472फॉलोवर्सफॉलो करें
110,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: