Tuesday, September 21, 2021
Homeराजनीतिपूर्व कॉन्ग्रेसी मंत्री अब्दुल सत्तार शिवसेना में शामिल, कहा- पिछले 5 वर्षों से शिवसेना...

पूर्व कॉन्ग्रेसी मंत्री अब्दुल सत्तार शिवसेना में शामिल, कहा- पिछले 5 वर्षों से शिवसेना किसानों की लड़ाई लड़ रही है

“पिछले पाँच वर्षों से शिवसेना किसानों के लिए लड़ाई लड़ रही है। विपक्षी पार्टी होने के नाते, यह हमारी (कॉन्ग्रेस) जिम्मेदारी थी, लेकिन सरकार का हिस्सा रहने के बावजूद शिवसेना ने किसानों की दुर्दशा पर अपनी आवाज उठाई।”

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अब्दुल सत्तार सोमवार (सितंबर 2, 2019) को शिवसेना में शामिल हो गए। औरंगाबाद जिले की सिलोद विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर चुके सत्तार यहाँ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के आवास पर उनकी मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए।

उन्होंने इसी साल हुए आम चुनाव से पहले कॉन्ग्रेस विधायक की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद उन्होंने भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख रावसाहेब दानवे की मदद की थी, जो कि जालना लोकसभा सीट से चुनाव जीते थे। 

बता दें कि, सत्तार पिछली कॉन्ग्रेस-राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (राकांपा) गठबंधन सरकार में पशुपालन मंत्री थे। सत्तार को शिवसेना में शामिल करने के बाद पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सिलोद विधानसभा क्षेत्र से सत्तार के नामांकन की घोषणा करते हुए कहा कि वह चाहते हैं कि सत्तार एक बार फिर सीट जीतें। उन्होंने कहा कि यह सीट उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

वहीं सत्तार ने पार्टी में शामिल होने के बाद कहा कि वह शिवसेना में इसलिए शामिल हुए, क्योंकि पार्टी किसानों के हित के लिए काम कर रही है। उन्होंने कॉन्ग्रेस पार्टी की खिंचाई करते हुए कहा, “पिछले पाँच वर्षों से शिवसेना किसानों के लिए लड़ाई लड़ रही है। विपक्षी पार्टी होने के नाते, यह हमारी (कॉन्ग्रेस) जिम्मेदारी थी, लेकिन सरकार का हिस्सा रहने के बावजूद शिवसेना ने किसानों की दुर्दशा पर अपनी आवाज उठाई।”

बता दें कि, महाराष्ट्र में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और पिछले कुछ हफ्तों में कॉन्ग्रेस और राकांपा के कई नेता या तो भाजपा या फिर शिवसेना का दामन थाम चुके हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe