Tuesday, May 17, 2022
Homeराजनीतिबंगाल में उस BJP वर्कर के परिजनों से मिले अमित शाह, जो फँदे से...

बंगाल में उस BJP वर्कर के परिजनों से मिले अमित शाह, जो फँदे से लटके मिले थे: कहा- होगी CBI जाँच

बीजेपी नेता दिलीप घोष ने ट्विटर पर कहा, “अभिजीत सरकार के बाद एक और युवा भाजपा कार्यकर्ता, 27 वर्षीय अर्जुन चौरसिया की TMC के राजनीतिक आतंकियों ने हत्या कर दी और कोलकाता में फाँसी पर लटका दिया। टीएमसी राजनीतिक हत्याओं की घिनौनी संस्कृति को आगे बढ़ाकर लोकतंत्र का गला घोंटने पर आमादा है।”

केंद्रीय गृह अमित शाह (MHA Amit Shah) पश्चिम बंगाल (West Bengal) के दो दिवसीय दौरे के बीच कोलकाता (Kolkata) पहुँचे, जहाँ वो शुक्रवार (6 मई 2022) को मृत पाए गए बीजेपी के कार्यकर्ता अर्जुन चौरसिया के काशीपुर स्थित घर गए और पीड़ित परिजनों से मिले। उन्होंने मामले में सीबीआई जाँच की बात कही है। इस मामले में गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट तलब की है।

रिपोर्ट के मुताबिक, गृह मंत्री ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, “कल उन्होंने (ममता बनर्जी) पहला साल पूरा किया, ऐसा लगता है कि वो एक तरह का मैसेज देना चाहती हैं कि वो रुकेंगी नहीं। मैंने परिवार के साथ विस्तृत बातचीत की है। वे अपने बेटे को खोने और जिस तरह से उसका शव उनसे छीन लिया गया था, उससे वे निराश हैं। हमारी पार्टी ने कोर्ट का रुख किया है। सीबीआई जाँच होनी चाहिए और दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि प्रशासन ने आरोपितों को गिरफ्तार करने की बजाय जबरदस्ती शव को कब्जा लिया है।”

बता दें कि मृतक अर्जुन चौरसिया (26) भारतीय जनता युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष थे। वो घोष बागान इलाके में शुक्रवार की सुबह फाँसी के फंदे से लटके पाए गए थे। इस मामले में बीजेपी सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) पर हत्या का आरोप लगा रही है। हालाँकि, टीएमसी के सांसद शांतनु सेन ने इन आरोपों को निराधार बताया है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, अर्जुन की माँ लक्ष्मी चौरसिया ने बताया कि अर्जुन अपने बड़े भाई के साथ एक अंडरवियर फैक्ट्री में काम करता था। उन्होंने कहा, “उसकी हत्या हुई है। मैं सीबीआई जाँच की माँग करती हूँ। मेरा बेटा एक खुशमिजाज इंसान था। वह कभी आत्महत्या नहीं कर सकता। उनके पास इसका कोई कारण नहीं था।”

इससे पहले बंगाल बीजेपी नेता दिलीप घोष ने ट्विटर पर लिखा है, “अभिजीत सरकार के बाद एक और युवा भाजपा कार्यकर्ता, 27 वर्षीय अर्जुन चौरसिया की TMC के राजनीतिक आतंकियों ने हत्या कर दी और कोलकाता में फाँसी पर लटका दिया। टीएमसी राजनीतिक हत्याओं की घिनौनी संस्कृति को आगे बढ़ाकर लोकतंत्र का गला घोंटने पर आमादा है।”

एकदम स्वस्थ थे अर्जुन

अर्जुन की मौत के मामले में उत्तर कोलकाता के भाजपा अध्यक्ष कल्याण चौबे का कहना था कि अर्जुन एकदम स्वस्थ्य थे। उन्होंने कल उनके नेतृत्व में 200 बाइक की रैली आयोजित करने की योजना भी बनाई थी, लेकिन आज सुबह उन्हें घोष बागान रेल यार्ड में मृत पाया गया। काफी हंगामे के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने डेड बॉडी को ले जाने दिया। पूरे इलाके को चितपुर थाने की पुलिस ने सील कर दिया है। लाल बाजार इलाके की खुफ़िया विभाग की साइंटिफिक टीम घटनास्थल पर मौजूद है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,297FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe