Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिमिशन UP पर अमित शाह: सदस्यता अभियान को दिखाई हरी झंडी, कहा- 2024 में...

मिशन UP पर अमित शाह: सदस्यता अभियान को दिखाई हरी झंडी, कहा- 2024 में मोदी के लिए योगी को CM बनाइए

अमित शाह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी ने 90 फीसदी वादे पूरे किए हैं और दो महीने में बचे हुए वादे भी पूरे किए जाएँगे, ताकि जनता मानें की बीजेपी जो कहती है उसे पूरा करती है। उन्होंने कहा कि अपराध पर सख्ती का परिणाम है कि आज यूपी में बाहुबली खोजने पर भी नहीं मिलते।

देश के गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार (29 अक्टूबर 2021) को लखनऊ से उत्तर प्रदेश के चुनावी मिशन का आह्वान कर दिया। उन्होंने हिंदुत्व, राष्ट्रवाद और विकास के मुद्दों को उठाते हुए विपक्ष पर चौतरफा हमला बोला और भाजपा कार्यकर्ताओं को सदस्यता अभियान में जुट जाने की अपील की। अमित शाह ने कहा कि यह प्रदेश बाबा विश्वनाथ की भूमि है। भगवान श्रीराम और श्रीकृष्ण की कर्मभूमि है और तथागत भगवान बुद्ध की निर्वाणभूमि है। उन्होंने कहा, “मगर बहुत सालों से, जब से मुगलों का शासन गया और 2017 में भाजपा की सरकार नहीं आई, उत्तर प्रदेश को यह एहसास नहीं होता था कि यह भगवान राम, कृष्ण और शिव की भूमि है।” उन्होंने कहा कि जब भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार आई तो उसने यूपी को उसकी पहचान वापस दिलाई। 

उन्होंने सपा-बसपा-कॉन्ग्रेस को निशाने पर लिया और कहा कि पाँच साल पहले यूपी की हालत देखकर खून खौलता था, लेकिन आज न तो यूपी में कहीं पलायन हो रहा और न ही बाहुबली नजर आ रहे हैं। लखनऊ में अपनी रैली में शाह ने साफ कहा कि अगर 2024 में मोदी जी को पीएम बनाना है तो योगी जी को सीएम बनाइए। इस ऐलान से अमित शाह ने उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर पार्टी का रूख साफ कर दिया। अमित शाह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी ने 90 फीसदी वादे पूरे किए हैं और दो महीने में बचे हुए वादे भी पूरे किए जाएँगे, ताकि जनता मानें की बीजेपी जो कहती है उसे पूरा करती है। उन्होंने कहा कि अपराध पर सख्ती का परिणाम है कि आज यूपी में बाहुबली खोजने पर भी नहीं मिलते।

शाह ने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियाँ ऐसी होती हैं जो हमेशा के लिए समाज सेवा का कार्य करती हैं। विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियाँ ऐसी होती हैं, जैसे बारिश में मेंढक बाहर आ जाता है, वैसे ही चुनावी मेंढक की तरह बाहर आते हैं। अमित शाह ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा, “आप कहते थे कि मंदिर वहीं बनाएँगे, लेकिन तारीख नहीं बताएँगे। अखिलेश बाबू आपको बताना चाहता हूँ कि राम मंदिर की नींव भी रख दी गई है और आप 5,000 रुपया भी देने से चूक गए। सपा सरकार ने तो राम भक्तों को गोली से भूनने का काम किया था। आज उसी राज्य में मंदिर बन रहा।”

अमित शाह ने कहा कि परिवारवादी पार्टी और भाजपा में यही फर्क है। हमारा वादा था कि हम कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाएँगे। इसके लिए हमारे पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष श्यामा प्रसाद मुखर्जी बलिदान भी हो गए। अब जाकर हमने इस वादे को पूरा किया है। योगी सरकार के दौर में कानून व्यवस्था सुधरने का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा कि एक दौर था कि कैराना में पलायन शुरू हो गया था। उन्होंने कहा कि हर जिले में दो या तीन माफिया हुआ करते थे, लेकिन अब दूरबीन से खोजने पर भी माफिया नजर नहीं आते हैं। यूपी की लड़की रात 12 बजे बिना डर के जेवर पहनकर स्कूटी पर निकल सकती है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -