Saturday, June 25, 2022
Homeराजनीतिममता बन रहीं सद्दाम हुसैन, यह दीदीगीरी नहीं चलेगी: विवेक ओबेरॉय

ममता बन रहीं सद्दाम हुसैन, यह दीदीगीरी नहीं चलेगी: विवेक ओबेरॉय

विवेक ओबेरॉय ने ट्वीट के साथ ममता बनर्जी के ही डेढ़ साल पहले के बयान का स्क्रीशॉट लगाया, जिसमें ममता ने लोकतंत्र को खतरे में बताते हुए विपक्षी एकता की अपील की थी।

बंगाल की अराजक बदहाली पर ममता बनर्जी के खिलाफ स्वर मुखर होते जा रहे हैं। अब उनके आलोचकों में फिल्म अभिनेता विवेक ओबेरॉय भी शामिल हो गए हैं। उन्होंने ट्विटर पर ममता बनर्जी को पहले सम्मानित महिला बताते हुए उनके व्यवहार को दिवंगत इराकी तानाशाह सद्दाम हुसैन जैसा बताया। उन्होंने ट्वीट के साथ ममता बनर्जी के ही डेढ़ साल पहले के बयान का स्क्रीशॉट लगाया, जिसमें ममता ने लोकतंत्र को खतरे में बताते हुए विपक्षी एकता की अपील की थी।

प्रियंका शर्मा और तजिंदर बग्गा की गिरफ़्तारी पर जताया क्षोभ

प्रधानमंत्री मोदी की बायोपिक में उनकी भूमिका निभा रहे विवेक गुजरात भाजपा के स्टार प्रचारक भी हैं। उन्होंने भाजयुमो की हावड़ा संयोजिका प्रियंका शर्मा और दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा की गिरफ़्तारी पर क्षोभ जताया।

मालूम हो कि कल कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान जमकर हिंसा हुई थी। कड़ी सुरक्षा के बावजूद हमलावर अमित शाह के वाहन पर लाठी-डंडे फेंकने में कामयाब हो गए। इसके बाद भाजपा और तृणमूल कॉन्ग्रेस के समर्थक सीधे-सीधे टकरा गए थे। यहाँ तक कि महान बंगाली लेखक और दार्शनिक ईश्वर चंद्र ‘विद्यासागर’ की प्रतिमा भी खंडित कर दी गई, जो विद्यासागर कॉलेज में लगी थी। इसके बाद कल रात को कई भाजपा नेताओं को बंगाल में गिरफ्तार कर लिया गया, जिनमें से एक बग्गा भी थे।

पूरे मामले को लेकर भाजपा और तृणमूल एक दूसरे पर हमलावर हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि वह सुरक्षित बचे हैं तो केवल केंद्रीय सुरक्षा बल सीआरपीएफ के कारण। तृणमूल नेता डेरेक ओ’ब्रायन ने एक दूसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तजिंदर बग्गा के बंगाल में ‘बाहरी’ होने का हवाला देते हुए उनकी गिरफ़्तारी को जायज ठहराने की कोशिश की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गर्भवती का भ्रूण आग में फेंकने से लेकर चूल्हे से गोधरा ट्रेन में आग तक: गुजरात दंगों पर वो 5 झूठ, जो नरेंद्र मोदी...

गुजरात दंगों के बाद नरेंद्र मोदी को बदनाम करने के लिए कई हथकंडे आजमाए गए। यहाँ जानें ऐसे 5 झूठ जो फैलाए गए। साथ ही क्या है उनकी सच्चाई।

झूठे साक्ष्य गढ़े, निर्दोष को फँसाने की कोशिश: तीस्ता सीतलवाड़ के साथ-साथ RB श्रीकुमार और संजीव भट्ट पर भी FIR, गुजरात दंगा मामला

संजीव भट्ट फ़िलहाल पालनपुर जेल में कैद। राज्य सरकार का पक्ष रखते हुए दर्ज FIR में शुक्रवार (24 जून, 2022) को आए सुप्रीम कोर्ट का हवाला दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,266FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe