Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति'लोगों ने वही किया, जो आधी रात में अजनबी से करना चाहिए': NIA पर...

‘लोगों ने वही किया, जो आधी रात में अजनबी से करना चाहिए’: NIA पर हमले का बंगाल की सीएम ममता ने किया बचाव, कहा- रात में आए ही क्यों

दरअसल, 3 दिसंबर 2022 को भूपतिनगर में एक धमाका हुआ था, जिसमें एक घर की पूरी की पूरी छत ही उड़ गई थी। धमाके में 3 लोगों की मौत भी हुई थी। NIA ने पिछले महीने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के 8 नेताओं को इस मामले में पूछताछ के लिए समन भेजा था। TMC कह रही है कि NIA भाजपा के इशारों पर काम कर रही है।

पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर में भूपतिनगर बम ब्लास्ट की जाँच करने गई NIA (राष्ट्रीय जाँच एजेंसी) की टीम पर शनिवार (6 अप्रैल 2024) की सुबह हमला कर दिया गया। NIA टीम की कार पर ईंटें फेंकी गईं, जिससे गाड़ी की खिड़की क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं, एक अधिकारी भी घायल हो गया। NIA पर हमले का बचाव करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि वे रात में रेड करने क्यों गए थे।

सीएम बनर्जी ने कहा, “उन्होंने आधी रात को छापा क्यों मारा? उनके पास पुलिस की अनुमति थी? स्थानीय लोगों ने वही किया, जो किसी अजनबी के आधी रात में जाने पर किया जाता है। क्या वे चुनाव से ठीक पहले लोगों को गिरफ्तार कर रहे हैं? बीजेपी क्या सोचती है कि वे हर बूथ एजेंट को गिरफ्तार करेंगे? NIA को क्या अधिकार है, जो वे बीजेपी के समर्थन में ये सब कर रहे हैं।”

ममता बनर्जी ने कहा, “मैं NIA द्वारा हमारे एजेंट की गिरफ्तारी की निंदा करती हूँ और पूर्वी मेदिनीपुर के भूपतिनगर में महिलाओं पर उनके हमले की भी निंदा करती हूँ। इसी तरह नंदीग्राम को लूटा गया। उस दिन आपने पुलिस अधिकारियों को बदल दिया और आपने लोड शेडिंग कर दी। यह एक चॉकलेट बम मामला था और वे चुनाव से पहले उन लोगों को गिरफ्तार कर रहे हैं। मैं इसकी निंदा करती हूँ।”

पश्चिम बंगाल के भूपतिनगर विस्फोट मामले में NIA ने शनिवार (6 अप्रैल 2024) को राज्य के पूर्वी मेदिनीपुर जिले में अनियंत्रित भीड़ के हमले के बीच दो प्रमुख साजिशकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। जाँच एजेंसी की तरफ से बयान में कहा गया है, “बलाई चरण मैती और मनोब्रत जाना को लंबी तलाशी अभियान चालने के बाद गिरफ्तार किया गया है।”

एजेंसी ने आगे कहा, “स्थानीय निवासियों की भीड़ ने NIA टीम को अपना काम करने से रोकने की कोशिश की। भीड़ में कुछ उपद्रवियों ने हमला किया। टीम के एक सदस्य को मामूली चोट आई और एजेंसी का आधिकारिक वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया है। एनआईए ने इस संबंध में स्थानीय पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।”

पश्चिम बंगाल में NIA की टीम पर हमले की भाजपा ने निंदा की है। भाजपा सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा, “ये पहली बार नहीं हुआ है। पहले ED (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम पर हमला हुआ था और अब NIA पर हमला हो रहा है। ये हमले इसलिए हुए, क्योंकि वो आतंकवादियों को पकड़ने जाते हैं। बंगाल में आतंकवादी को भी संरक्षण मिलता है। वो है ममता का बंगाल।”

बता दें कि 3 दिसंबर 2022 को भूपतिनगर में एक धमाका हुआ था, जिसमें एक घर की पूरी की पूरी छत ही उड़ गई थी। धमाके में 3 लोगों की मौत भी हुई थी। NIA ने पिछले महीने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के 8 नेताओं को इस मामले में पूछताछ के लिए समन भेजा था। TMC कह रही है कि NIA भाजपा के इशारों पर काम कर रही है।

न्यूटाउन एरिया में इन नेताओं को 28 मार्च को ही पेश होने के लिए कहा गया था, लेकिन इन्होंने समन को धता बता दिया। TMC नेता कुणाल घोष ने इन सबके पीछे BJP का हाथ बताया है। वहीं, पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में राशन घोटाले में फँसे शाहजहाँ शेख को गिरफ्तार करने गई ED (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम पर हमला हुआ था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -