Wednesday, June 19, 2024
HomeराजनीतिTMC नेताओं ने अपनी ही पार्टी की 2 महिला नेता से की मारपीट और...

TMC नेताओं ने अपनी ही पार्टी की 2 महिला नेता से की मारपीट और बदसलूकी: देखें वीडियो

घटना का वीडियो भी जारी हो गया है, जिसमें स्पष्ट देखा जा सकता है कि श्यामली घोष के साथ टीएमसी के कुछ नेता धक्का-मुक्की कर रहे हैं और उनका हाथ पकड़कर उन्हें धक्का दे रहे हैं।

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कॉन्ग्रेस के अंदर पड़ी फूट उभर कर सामने आ गई है। यहाँ हुगली जिले के गोघाट में पंचायत समिति के अध्यक्ष मनोरंजन पॉल और महिला तृणमूल नेत्री श्यामली घोष व मैना बाग के साथ उनकी ही पार्टी के नेताओं ने मारपीट व बदसलूकी की। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार भी किया है।

घटना का वीडियो भी जारी हो गया है, जिसमें स्पष्ट देखा जा सकता है कि श्यामली घोष के साथ टीएमसी के कुछ नेता धक्का-मुक्की कर रहे हैं और उनका हाथ पकड़कर उन्हें धक्का दे रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, घटना सोमवार (9 अगस्त 2021) की है, जब गोघाट ब्लॉक एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिस में गोघाट एक नंबर पंचायत समिति के अध्यक्ष मनोरंजन पॉल अपने चेंबर में बैठे हुए थे। उसी दौरान पूर्व विधायक और हुगली जिला तृणमूल के उपाध्यक्ष मानस मजूमदार के समर्थक वहाँ पहुँचे और मनोरंजन पॉल के साथ हाथापाई की।

इस बीच मामले में बीच-बचाव करने पहुँची श्यामली घोष और मैना बाग के साथ भी टीएमसी नेता के समर्थकों ने बदसलूकी और मारपीट की। उनकी यह करतूत वहाँ लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई। इसमें आरोपित श्यामली घोष को धक्का मारते हुए दिखाई दे रहे हैं। घटना के बाद श्यामली घोष समेत तीनों पीड़ित नेताओं ने पुलिस में इसकी शिकायत की, जिसके आधार पर मंगलवार (10 अगस्त 2021) को पुलिस ने तीन टीएमसी नेताओं को गिरफ्तार कर लिया।

इस मामले में हुगली टीएमसी के जिलाध्यक्ष दिलीप यादव ने कहा है कि उन्होंने मामले से पार्टी के आला नेताओं को अवगत करा दिया है। वहाँ से जैसा भी निर्देश मिलेगा उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं श्यामली घोष का कहना है कि हम लोग 1998 से टीएमसी के साथ हैं और आज तक ममता बनर्जी के सभी आदेशों का पालन किया है। लेकिन, आज पार्टी में हमारे साथ ही इस तरह का दुर्व्यवहार किया जा रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -