Friday, July 19, 2024
Homeराजनीतिराजस्थान में BJP को पूर्ण बहुमत, कॉन्ग्रेस सरकार को बेदखल करेगी जनता: ओपिनियन पोल...

राजस्थान में BJP को पूर्ण बहुमत, कॉन्ग्रेस सरकार को बेदखल करेगी जनता: ओपिनियन पोल में खुलासा, बतौर PM 70% की पसंद मोदी

'एबीपी न्यूज़' और 'सी-वोटर' ने साथ मिल कर जो ओपिनियन पोल किया है, उसके हिसाब से भाजपा 46% वोट शेयर के साथ बाजी मारती हुई दिख रही है।

क्षेत्रफल के हिसाब से भारत के सबसे बड़े राज्य राजस्थान में इसी साल विधानसभा चुनाव होने है। अब इस विधानसभा चुनाव को लेकर ABP न्यूज़-C वोटर ने एक सर्वे कराया है। इस ओपिनियन पोल की मानें तो राजस्थान में सत्ता में बैठी कॉन्ग्रेस पार्टी की हार तय लग रही है, वहीं भाजपा सत्ता में वापसी करती हुई दिख रही है। बता दें कि राजस्थान में 108 सीटों वाली कॉन्ग्रेस पार्टी बहुमत में है और अशोक गहलोत राज्य के मुख्यमंत्री हैं।

वहीं पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को मात्र 70 सीटों से संतोष करना पड़ा था, लेकिन अबकी ओपिनियन पोल की मानें तो भाजपा 109-119 सीटें लेकर सरकार बना सकती है। वहीं कॉन्ग्रेस पार्टी की बात करें तो उसे 78-88 सीटों से संतोष करना पड़ेगा और वो बहुमत से काफी दूर रहेगी। भाजपा ने पिछले विधानसभा चुनाव में राजस्थान की सभी सीटों पर दम ठोका था। इस बार भी पार्टी सभी विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ सकती है।

‘एबीपी न्यूज़’ और ‘सी-वोटर’ ने साथ मिल कर जो ओपिनियन पोल किया है, उसके हिसाब से भाजपा 46% वोट शेयर के साथ बाजी मारती हुई दिख रही है। जबकि कॉन्ग्रेस का वोट शेयर उससे 5 प्रतिशत कम, यानी 41% रहने का अंदाज़ा है। 13% वोट अन्य दलों और निर्दलीयों के खाते में जाता दिख रहा है। इस सर्वे में 14.85 हजार लोगों से बात की गई है। 25 जुलाई तक ये सर्वे संपन्न किया गया। 1885 लोगों से कुछ त्वरित सवाल भी पूछे गए।

दोनों संस्थानों ने मिल कर एक और सर्वे भी किया है, जिसमें देश के लोगों से पूछा गया कि प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रूप में उनकी पहली पसंद कौन है। 63% लोगों ने जहाँ नरेंद्र मोदी को पहली पसंद बताया, वहीं 20% ने राहुल गाँधी और 6% ने योगी आदित्यनाथ को पहली पसंद बताया। 2% अरविंद केजरीवाल के पक्ष में भी दिखे। 70% ने कहा कि डायरेक्ट पीएम चुनने की स्थिति में वो राहुल गाँधी पर नरेंद्र मोदी को तरजीह देंगे।

विपक्षी ने नया गठबंधन ‘I.N.D.I.A’ बनाया है, जिसके पक्ष में खूब माहौल बनाया जा रहा है, ऐसे में इस सर्वे के नतीजों से विपक्षी दलों को झटका लगना तय है। मात्र 25% ने कहा कि डायरेक्ट प्रधानमंत्री चुनने की नौबत आएगी तो वो राहुल गाँधी को चुनेंगे। संसद से लेकर सोशल मीडिया तक विपक्ष लगातार मणिपुर का मुद्दा उछालने में लगा हुआ है, लेकिन इससे उसे कोई खास फायदा होता हुआ दिख नहीं रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फ्लाइट में साथ बैठे थे, पूछा मूवी देखती हो, दिखाने लगे पोर्न… जिंदल स्टील के CEO पर महिला यात्री ने लगाया इल्जाम, कहा- मुझे...

अनन्या छौछरिया नाम की महिला ने जिंदल स्टील के सीईओ दिनेश सारोगी के ऊपर यौन उत्पीड़न का इल्जाम लगाया है।

वाहन फूँके, पुलिस पर हमला… दंगों में जला ब्रिटेन का लीड्स: यहीं से सांसद चुना गया है गाजा समर्थक मोतिन अली, जीत के बाद...

ब्रिटेन के शहर लीड्स में दंगे भड़क गए हैं। प्रवासी दंगाइयों ने एक इलाके में जम का उत्पात मचाया और पुलिस की गाड़ियों को तोड़ आग लगा दी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -