Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीतिनक्सलवाद कोरोना ही है, राजद-कॉन्ग्रेस नया कोरोना आपके बीच छोड़ना चाहते हैं: योगी आदित्यनाथ

नक्सलवाद कोरोना ही है, राजद-कॉन्ग्रेस नया कोरोना आपके बीच छोड़ना चाहते हैं: योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने कहा कि अब राम मंदिर बनने से पहले परिवारवाद, नक्सलवाद, क्षेत्रवाद, आतंकवाद व जातिवाद का भी राम नाम सत्य होगा। अब कोई नहीं कह सकता कि भारत तेरे टुकड़े होंगे, क्योंकि भारत अब एक श्रेष्ठ भारत है। हमारे लिए जनता ही परिवार है, लेकिन उनके लिए परिवार ही पार्टी और पार्टी ही बिहार है।

बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए आए उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का बुधवार (अक्टूबर 21, 2020) को बिहार में दूसरा दिन था। बुधवार को उन्‍होंने जमुई, भोजपुर के तरारी तथा पटना के पालीगंज विधानसभा क्षेत्रों में जनता से राष्‍ट्रीय जनांत्रिक गठबंधन (NDA) के प्रत्‍याशियों के लिए वोट माँगे।

इस दौरान उन्होंने वहाँ की जनता को संबोधित करते हुए कहा, “बीमारी में बचाव ही सर्वोत्तम उपाय है और ये बचाव वैसे ही जैसे इस भोजपुर क्षेत्र के लोगों ने नक्सलवाद से बचाव किया था। ये नक्सलवाद भी तो एक कोरोना ही है। इसका संक्रमण भी बहुत तेज फैलता है। लेकिन आपने बचाव किया, तो नक्सलवाद स्वाहा हो गया। ऐसे ही बचाव अगर कोरोना से करेंगे, तो कोरोना हमेशा के लिए समाप्त होगा।”

सीएम योगी ने कहा कि अब राम मंदिर बनने से पहले परिवारवाद, नक्सलवाद, क्षेत्रवाद, आतंकवाद व जातिवाद का भी राम नाम सत्य होगा। अब कोई नहीं कह सकता कि भारत तेरे टुकड़े होंगे, क्योंकि भारत अब एक श्रेष्ठ भारत है। हमारे लिए जनता ही परिवार है, लेकिन उनके लिए परिवार ही पार्टी और पार्टी ही बिहार है। कॉन्ग्रेस और आरजेडी आकंठ भ्रष्टाचार में डूबे हैं। कॉन्ग्रेस गरीबों का राशन डकारती रही तो आरजेडी ने बेजुबान जानवरों का चारा भी नहीं छोड़ा। दोनों राजनीतिक दल नहीं, परिवार हैं। इनके एजेंडे में परिवार ही सर्वोपरि है।

श्रेयसी सिंह के समर्थन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसभा करते हुए कहा जो भी भारत के हितैषी हैं वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस के नेता पाकिस्तान की तारीफ करते हैं। कुछ लोग को कश्मीर से धारा 370 हटाने पर बहुत पीड़ा हुई। कॉन्ग्रेस के राहुल गाँधी और ओवैसी को इतनी पीड़ा हुई थी वे बार-बार इसका विरोध करते रहे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री भी जानते हैं कि भारत के खिलाफ अगर कुछ भी करेंगे तो भारत की सेना घुसकर मारेगी।

इसके बाद आज की तीसरी जनसभा पटना के पालीगंज विधानसभा में थी जहाँ बोलते यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज बिहार पर ज़िम्मेदारी है। नीतीश कुमार के नेतृत्व में काफी हद तक कोरोना से लड़ाई जीत चुके हैं। राजद और कॉन्ग्रेस एक नए कोरोना के रुप में भाकपा माले को लेकर आपके बीच छोड़ना चाहते हैं, ये कोरोना से कम नहीं है। 

अपनी रैली में सीएम योगी आदित्यनाथ ने नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियाँ गिनाते हुए कहा कि बीजेपी ने 12 करोड़ गरीबों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ दिलाया। 50 करोड़ गरीबों को 5 लाख रुपए का सालाना स्वास्थ्य बीमा का कवर भी प्रधानमंत्री मोदी और नीतीश कुमार ने दिलाया। हमारे गठबंधन का तो एक ही संकल्प है कि हमारे लिए पूरा देश ही परिवार है।

उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस के लिए तो एक ही परिवार सब कुछ है। रही आरजेडी की बात तो इनके पोस्टरों में चार लोगों को छोड़ कभी किसी पाँचवें को जगह नहीं मिली। ऐसे लोगों को नकारें और विकास के सिलसिले को आगे बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार के हाथों को मजबूत करें।

साथ ही उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जब भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता था तो कॉन्ग्रेस के नेता कहा करते थे कि हम तब तक कुछ नहीं करेंगे जब तक कि पाकिस्तान परमाणु बम का इस्तेमाल नहीं करता। लेकिन अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री भारतीय जवानों के सर्जिकल स्ट्राइक के डर से दुनिया में भागे-भागे फिर रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान हारे भी न और टीम इंडिया गँवा दे 2 अंक: खुद को ‘देशभक्त’ साबित करने में लगे नेता, भूले यह विश्व कप है-द्विपक्षीय...

सृजिकल स्ट्राइक का सबूत माँगने वाले और मंच से 'पाकिस्तान ज़िंदाबाद' का नारा लगवाने वाले भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच रद्द कराने की माँग कर 'देशभक्त' बन जाएँगे?

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe