Thursday, January 20, 2022
Homeराजनीतिजब भी कोई सरकार श्रीराम के जयकारे पर रोक लगाएगी तो जनता भाजपा को...

जब भी कोई सरकार श्रीराम के जयकारे पर रोक लगाएगी तो जनता भाजपा को सत्ता में लाएगी: बंगाल में गरजे योगी आदित्यनाथ

"ममता दीदी भगवा से घबराने लगी हैं। उन्हें ये मालूम होना चाहिए जब भी कोई सरकार प्रभु श्रीराम के जय-जयकार पर रोक लगाएगी, तो जनता भारतीय जनता पार्टी को सरकार में लाएगी।"

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। भाजपा के स्टार प्रचारक व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार (25 मार्च) को सागर और चंद्रकोना में चुनावी रैलियों को संबोधित किया।

इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी पर हमला करते हुए कहा, “ममता दीदी भगवा से घबराने लगी हैं। उन्हें ये मालूम होना चाहिए जब भी कोई सरकार प्रभु श्रीराम के जय-जयकार पर रोक लगाएगी, तो जनता भारतीय जनता पार्टी को सरकार में लाएगी।”

CM योगी यही नहीं थमे उन्होंने आगे कहा कि ममता दीदी के पश्चिम बंगाल में आज उद्योग नहीं, बल्कि भ्रष्टाचार का उद्योग फल-फूल रहा है। आज से 35 दिन बाद टीएमसी के गुंडों की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। बीजेपी की सरकार आते ही सभी को खोजकर पिंजरे में डाला जाएगा।

भगवा भारतीय संस्कृति का प्रतीक: योगी

इस दौरान मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने स्वामी विवेकानंद का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि स्वामी जी ने वैश्विक मंच से कहा था, गर्व से कहो, हम हिंदू हैं। दीदी को मालूम होना चाहिए कि भगवा भारतीय संस्कृति का प्रतीक है। ममता दीदी भाई-भतीजावाद में पड़ गई हैं। उन्हें लोगों के कल्याण में जरा सी भी रुचि नहीं है। उन्हें पता होना चाहिए कि अष्टमी के दिन पूजा में हम माँ काली को भगवा वस्त्र ही अर्पित करते हैं।

ममता दीदी का नारा है ‘मेरा विकास और TMC का विकास

सीएम ने नंदीग्राम में शुभेंदु अधिकारी के लिए प्रचार करते हुए कहा कि ममता को घुसपैठियों की चिंता है, लेकिन वह गौहत्या पर बैन नहीं लगाएँगी, क्योंकि उन्हें वोट कटने का डर सता रहा है। बंगाल में भाजपा का नारा है सबका साथ-सबका विकास और ममता दीदी का नारा है मेरा विकास और TMC का विकास। वह यह भी चाहती हैं कि उनके अलावा किसी अन्य का विकास न हो। CM योगी के संबोधन से सहमत वहाँ मौजूद लोगों ने जय श्री राम के नारे लगे लगाए।

सीएम योगी ने कहा कि उनके राज्य के लोगों को अगर पीएम आवास योजना, उज्जवला योजना, आयुष्मान भारत और किसान सम्मान निधि जैसी योजनाओं का लाभ मिल सकता है, तो पश्चिम बंगाल के लोग इनके लाभ से वंचित क्यों हैं? उन्होंने कहा, ”यह दर्शाता है कि तृणमूल कॉन्ग्रेस को पश्चिम बंगाल के विकास की कोई चिंता नहीं है।” उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में और केंद्र में एक ही पार्टी के सत्ता में होने से राज्य के लोगों को फायदा होगा।

सीएम ने कहा कि TMC सरकार को बंगाल के विकास की कोई चिंता नहीं, बंगाल के नौजवानों के लिए रोजगार की चिंता नहीं, बंगाल के किसानों की चिंता नहीं, बंगाल की बहन-बेटियों की चिंता नहीं। उन्हें चिंता तो घुसपैठियों को संरक्षण देने की है। आज से 14 वर्ष पूर्व नंदीग्राम में कम्युनिस्टों ने बहुत बड़ी हिंसा की थी, उसमें शहीद हुए लोगों के परिवार वाले मुझसे मिले थे, उनकी दयनीय स्थिति को देखकर मेरा मन द्रवित हो उठा था।

उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव बंगाल को समृद्ध बंगाल के रूप में, ‘सोनार बांग्ला’ के रूप में आगे बढ़ाने का अभियान है। यह चुनाव, नौजवानों को रोजगार देने का माध्यम बनेगा। यह चुनाव, यहाँ के हर नागरिक के जीवन में खुशहाली लाने का माध्यम बनेगा।

बता दें कि पश्चिम बंगाल की 294 सदस्यीय विधानसभा के लिए 27 मार्च से लेकर 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में चुनाव होगा। दो मई को मतगणना की जाएगी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बन रहा है यूपी, ग्रामीण इलाकों में भी 15000 Km सड़कें: CM योगी कुछ यूँ बदल रहे रोड इंफ्रास्ट्रक्चर

योगी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में 5 वर्षों में 15,246 किलोमीटर सड़कों का निर्माण कराया। उत्तर प्रदेश में जल्द ही अब 6 एक्सप्रेसवे हो जाएँगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,298FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe