Thursday, January 20, 2022
Homeराजनीतियोगी सरकार ने UP में सभी निजी अस्पतालों को तत्काल खोलने के दिए आदेश,...

योगी सरकार ने UP में सभी निजी अस्पतालों को तत्काल खोलने के दिए आदेश, नहीं तो होगी कार्रवाई

"अस्पतालों में चिकित्सा कर्मचारियों और दवाओं की उपलब्धता आवश्यक है और निर्देशों का उल्लंघन करने वाले अस्पताल संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अस्पताल में सोशल डिस्टेसिंग को अपनाकर इलाज किया जा सकता है।"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन सभी प्राइवेट अस्पतालों को तत्काल खोलने का आदेश दिया है, जो लॉकडाउन के कारण बंद हैं। राज्य सरकार की ओर से सभी जिलों के जिलाधिकारियों को एक आदेश जारी कर कहा गया है कि यदि निजी अस्पताल नहीं खोले गए तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इस संबंध में मुख्य सचिव आरके तिवारी का कहना है कि उन्हें कई जिलों से इस बात की शिकायत मिली है कि उनके यहाँ प्राइवेट हाॅस्पिटल बंद होने से काफी परेशानी हाे रही है। बड़ी संख्या में लोग उपचार के लिए भटक रहे हैं, जबकि लाॅकडाउन के दाैरान अस्पताल बंद करने का काेई आदेश नहीं था। अस्पतालों में चिकित्सा कर्मचारियों और दवाओं की उपलब्धता आवश्यक है और निर्देशों का उल्लंघन करने वाले अस्पताल संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। आरके तिवारी ने कहा कि अस्पताल में सोशल डिस्टेसिंग को अपनाकर इलाज किया जा सकता है। 

इस संबंध में कई हाॅस्पिटल के मालिकों का कहना है कि लॉकडाउन के चलते स्टाफ नहीं आ पा रहा है। लिहाजा अस्पताल बंद हैं। जबकि अस्पताल अत्यावश्यक सर्विस के तहत आते हैं। 

वहीं नोएडा के सेक्टर 135 में स्थित में सीजफायर नाम की से जुड़े 16 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद इसे सील कर दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने कंपनी के खिलाफ FIR दर्ज किया है। सीज फायर कंपनी में बीते दिनों लंदन से एक ऑडिटर आया था और कंपनी ने इसकी बात प्रशासन से छुपाई। वह ऑडिटर पास के ही एक फाइव स्टार होटल में भी ठहरा था। कंपनी की लापरवाही से 11 कर्मचारी समेत कुल 16 लोगों में कोरोना का संक्रमण फैला है।

सोमवार को नोएडा पहुँचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन के बावजूद वहाँ कोरोना फैलने की वजहों की पड़ताल की तो अधिकारियों के जवाब पर उनका गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने जिलाधिकारी बीएन सिंह से जवाब माँगा तो संतोषजनक जवाब न मिलने पर उन्होंने बैठक में मौजूद अफसरों पर नाराजगी जताई। इस बीच सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए नोएडा के डीएम को हटा दिया है और उनकी जगह सुहास एल वाई को गौतम बुद्ध नगर का नया डीएम बनाया गया है। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बन रहा है यूपी, ग्रामीण इलाकों में भी 15000 Km सड़कें: CM योगी कुछ यूँ बदल रहे रोड इंफ्रास्ट्रक्चर

योगी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में 5 वर्षों में 15,246 किलोमीटर सड़कों का निर्माण कराया। उत्तर प्रदेश में जल्द ही अब 6 एक्सप्रेसवे हो जाएँगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,298FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe