Saturday, June 25, 2022
Homeरिपोर्ट8 राज्यों में आतंकी हमले की खबर निकली झूठी, फर्जी कॉल करने वाला गिरफ्तार

8 राज्यों में आतंकी हमले की खबर निकली झूठी, फर्जी कॉल करने वाला गिरफ्तार

एक व्यक्ति द्वारा फर्जी कॉल करने के बाद कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक और आईजी अधिकारियों ने अन्य 7 राज्यों (तमिलनाडु, केरल, पुदुचेरी, गोआ, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र) के डीजीपी को पत्र लिखकर अलर्ट रहने को कहा था।

कल (अप्रैल 26,2019) एक व्यक्ति ने बेंगलुरु पुलिस को कॉल करके दावा किया कि कर्नाटक समेत 8 राज्यों में आतंकवादी हमलों को अंजाम देने की साजिश कर रहे हैं। इस व्यक्ति के दावे के बाद पुलिस हरकत में आ गई। जब मामले की जाँच हुई तो मालूम चला कि यह फर्जी कॉल थी, जिसे 65 साल के एक ड्राइवर ने किया था। फर्जी कॉल करने वाले उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है।

गौरतलब है कि इस कॉल के बाद कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक और आईजी अधिकारियों ने अन्य 7 राज्यों (तमिलनाडु, केरल, पुदुचेरी, गोआ, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र) के डीजीपी को पत्र लिखकर अलर्ट रहने को कहा था।

गौरतलब है, शुक्रवार (अप्रैल 26, 2019) की शाम साढ़े 5 बजे स्वामी सुंदर नाम के आरोपित ने खुद को लॉरी ड्राइवर बताते हुए बेंगलुरु पुलिस को कॉल किया और दावा किया कि कर्नाटक समेत 8 राज्यों में आतंकी ट्रेनों में हमला कर सकते हैं। साथ ही यह भी बताया कि तमिलनाडु के रामनाथपुरम में 19 आतंकी मौजूद हैं। जानकारी मिलते ही कर्नाटक पुलिस ने अन्य संबंधित राज्यों की पुलिस को पत्र लिखकर आवश्यक कदम उठाने को कहा।

इसी बीच बता दें कि एक अन्य व्यक्ति ने चेन्नई पुलिस कार्यालय में कॉल करके रामेश्वरम में मशहूर पंबन सी-ब्रिज को ब्लास्ट से उड़ाने की धमकी दी है। जिसके बाद पुलिस ने स्निफर डॉग्स और बम डिटेक्शन स्क्वॉड के साथ जाकर इलाके में सर्च ऑपरेशन की शुरुवात कर दी। यहाँ पंबन और रामेश्वरम को जोड़ने वाली सड़क और रेल ब्रिजों की जाँच के साथ ही रोड ब्रिज पर चल रहे वाहनों की भी तलाशी ली जा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गर्भवती का भ्रूण आग में फेंकने से लेकर चूल्हे से गोधरा ट्रेन में आग तक: गुजरात दंगों पर वो 5 झूठ, जो नरेंद्र मोदी...

गुजरात दंगों के बाद नरेंद्र मोदी को बदनाम करने के लिए कई हथकंडे आजमाए गए। यहाँ जानें ऐसे 5 झूठ जो फैलाए गए। साथ ही क्या है उनकी सच्चाई।

झूठे साक्ष्य गढ़े, निर्दोष को फँसाने की कोशिश: तीस्ता सीतलवाड़ के साथ-साथ RB श्रीकुमार और संजीव भट्ट पर भी FIR, गुजरात दंगा मामला

संजीव भट्ट फ़िलहाल पालनपुर जेल में कैद। राज्य सरकार का पक्ष रखते हुए दर्ज FIR में शुक्रवार (24 जून, 2022) को आए सुप्रीम कोर्ट का हवाला दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,266FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe