Friday, January 27, 2023
Homeराजनीतिसिख दंगों के गुनहगारों को बचाने वाले को केजरीवाल ने बेच दिया लोकसभा टिकट

सिख दंगों के गुनहगारों को बचाने वाले को केजरीवाल ने बेच दिया लोकसभा टिकट

उदय ने आम आदमी पार्टी को यह चैलेंज भी दिया कि यदि उनके पास कोई सबूत है कि बलबीर जाखड़ का पहले से AAP से कोई संबंध है तो उसका प्रमाण दें। साथ ही इस पूरे खुलासे के बाद उदय जाखड़ ने दिल्ली की जनता से अपना वोट बर्बाद न करते हुए उसे समझदारी से देने की अपील भी की।

दिल्ली में लोकसभा चुनाव प्रचार थम चुका है लेकिन मतदान से ठीक एक दिन पहले वेस्ट दिल्‍ली से आम आदमी पार्टी के उम्‍मीदवार बलबीर सिंह जाखड़ के बेटे उदय जाखड़ ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। उदय जाखड़ ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा है कि उनके पिता ने टिकट पाने के लिए अरविन्द केजरीवाल को 6 करोड़ रुपए दिए थे। उदय के अनुसार यह एक प्रकार की घूस है जिसने उसकी अंतरात्मा हिला के रख दी।

बलबीर के बेटे उदय जाखड़ ने कहा, “ये बात मेरे पिता ने खुद मुझे बताई थी, जिसके लिए मैंने मना भी किया था। एक नागरिक होने के नाते यह मेरा कर्तव्य है कि सच्चाई दुनिया के सामने आए। मेरे पिता ने तीन महीने पहले ही राजनीति ज्वॉइन की थी। मेरे पिता कभी भी आम आदमी पार्टी के सदस्य नहीं रहे और ना ही अन्ना हजारे आंदोलन में उन्होंने हिस्सा लिया था। वह कभी भी आम आदमी पार्टी में भी नहीं रहे। जनवरी में ही वह आम आदमी पार्टी में शामिल हुए।”

उदय ने इसी प्रेस कांफ्रेंस में और भी कई खुलासे करते हुए बताया, “पिता ने मुझसे कहा कि उन्हें आप से टिकट मिल रहा है जिसके लिए उन्होंने 6 करोड़ रुपए सीधे अरविंद केजरीवाल और गोपाल राय को दिए हैं। किसी भी गैर राजनीतिक शख्स को टिकट देना अपने आप में आश्चर्यजनक है। मैंने पिता से पढ़ाई के लिए पैसे माँगे तो उन्होंने मना कर दिया था। मेरे पिता ने पूर्व कॉन्ग्रेस नेता और 1984 के सिख दंगों के आरोपी सज्जन कुमार और यशपाल सिंह को जमानत दिलवाने की भी कोशिश कर रहे हैं, जिसके लिए वह मोटी रकम देने को तैयार हैं।”

इतना ही नहीं उदय जाखड़ ने कहा कि दिल्ली में सिखों का नरसंहार करने वाले को कोई कैसे रिहा करा सकता है। उनके अनुसार केजरीवाल सज्जन कुमार की जमानत के समर्थन में हैं। उदय घूस संस्कृति के खिलाफ है। उदय का कहना है कि उसके पापा ने बहुत गलत किया। जो पार्टी ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ को समर्थन दे, जो देश में घूस की संस्कृति को बढ़ावा दे, कोई उस पार्टी का साथ कैसे दे सकता है। उदय ने कहा, “मेरी आत्मा ने मुझे अंदर से कचोटा जिससे मैं आज ये सारे खुलासे कर रहा हूँ। मेरा किसी भी पार्टी से संबंध नहीं है।”

‘स्वघोषित’ ईमानदार नेता अरविन्द केजरीवाल का चेहरा बेनकाब हो चुका है। ऐसे कई खुलासे हुए थे जिनसे राज्य सभा टिकट बेचने का भी आरोप लगा था और यह आरोप कोई और नहीं बल्कि उन्ही के पार्टी के नेता कुमार विश्वास और कपिल मिश्रा लगा चुके हैं। हालाँकि, दुसरो पर लगातार बेबुनियाद आरोप लगाने वाले केजरीवाल अभी तक इस खुलासे पर मौन हैं।

उदय ने आम आदमी पार्टी को यह चैलेंज भी दिया कि यदि उनके पास कोई सबूत है कि बलबीर जाखड़ का पहले से AAP से कोई संबंध है तो उसका प्रमाण दें। साथ ही इस पूरे खुलासे के बाद उदय जाखड़ ने दिल्ली की जनता से अपना वोट बर्बाद न करते हुए उसे समझदारी से देने की अपील भी की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आधे से अधिक भारतीयों की आज भी नरेंद्र मोदी ही पसंद, सरकार के कामकाज के भी बढ़े मुरीद: आज हुए चुनाव तो NDA की...

लगातार तीसरी बार केंद्र की सत्ता में नरेंद्र मोदी की वापसी के आसार हैं। इंडिया टुडे ने देश का मिजाज जाने की जो हालिया कोशिश की है, उसके आँकड़े भी इस पर मुहर लगाते हैं।

‘बाप को बाप कहना घातक तो यह रहना चाहिए’: बाबा बागेश्वर ने ‘कट्टरता’ पर लल्लनटॉप की बाँधी ‘ठठरी’, जानिए जया किशोरी से शादी पर...

बागेश्वर बाबा ने अपने चिर-परिचित मुस्कुराने के अंदाज में दी लल्लनटॉप के पत्रकारों के सवालों की ठठरी बाँधकर उनकी बोलती बंद कर दी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
242,653FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe