Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टकश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी; अलकायदा सरगना जाकिर मूसा के सहयोगी सहित छः...

कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी; अलकायदा सरगना जाकिर मूसा के सहयोगी सहित छः आतंकी ढेर

कश्मीर में सेना द्वारा शुरू किये गए ऑपरेशन आल आउट के अंतर्गत मार्च 2017 से लेकर अब तक 500 से भी ज्यादा आतंकियों को मार गिराया गया है। 2018 में भी अबतक करीब 250 आतंकवादियों का सफाया किया जा चुका है।

कश्मीर घाटी के त्राल में हुए मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। अवंतीपोरा में आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया सूचना पर पहुंची पुलिस से आतंकियों की मुठभेड़ हुई जिसमे छः आतंकी मारे गए। बताया जा रहा है कि पुलिस ने मौके पर पहुँच कर सबसे पहले इलाके को खाली कराया ताकि मुठभेड़ की स्थिति में जान-माल की क्षति ना हो। मारे गये आतंकवादियों में से एक अलकायदा सरगना और कश्मीरी आतंकी संगठन गजवातुल हिन्द के मुखिया जाकिर मूसा का करीबी सहयोगी सोलिहा भी शामिल है। ज्ञात हो कि जाकिर मूसा एक खूंखार कश्मीरी आतंकवादी है जो घाटी ही नहीं बल्कि आसपास के इलाकों में भी पुलिस के लिए एक बड़ा सरदर्द बना हुआ है। ऐसे में इस एनकाउंटर की सफलता को पुलिस बड़ी कामयाबी मान रही है। कश्मीर के आईजी एसपी पानी ने अधिक जानकारी देते हुए समाचार एजेंसी एएनआई से कहा;

“इस ऑपरेशन में कुल छः आतंकवादी मारे गए। सुरक्षाबलों और नागरिकों को जान-माल की कोई क्षति नहीं हुई है। मारे गए आतंकियों की पहचान और उनके संगठन की पुष्टि की जा रही है। मैं नागरिकों को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देता हूँ। ये एक क्लीन ऑपरेशन था।”

बताया जाता है कि जैसे ही सुरक्षाबलों को आतंकियों के छिपे होने की खुफिया जानकारी मिली वैसे ही सेना की 44 राष्ट्रीय राइफल्स, सीआरपीएफ की 180वीं बटैलियन और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अवंतीपोरा के आरामपोरा में संयुक्त ऑपरेशन चलाना शुरू कर दिया। सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम के संदिग्ध स्थल पर पहुँचते ही वहां छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद दोनों और से भयंकर फायरिंग शुरू हो गई। इस दौरान सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में छह आतंकी मार गिराए गए।

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक़ मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुआ है। इससे पहले पिछले हफ्ते भी पुलवामा जिले में एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया था। इस मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों में मोस्ट वॉन्टेड जहूर अहमद ठोकर भी था, जो पिछले वर्ष जुलाई में सेना के कैंप से फरार होकर आतंकी संगठन में शामिल हो गया था। उस एनकाउंटर के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आतंकियों के समर्थन में ट्वीट भी किया था।

अभी कुछ दिनों पहले ही आतंकी जाकिर मूसा के पंजाब में छिपे होने की खुफिया जानकारी सामने आई थी। इसके बाद से ही बठिंडा और फिरोजपुर जिलों में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। खुफिया रिपोर्टों में बताया गया था कि मूसा सिख के भेष में पगड़ी पहने छिपा हुआ हो सकता है।

बता दें कि कश्मीर में सेना द्वारा शुरू किये गए ऑपरेशन आल आउट के अंतर्गत मार्च 2017 से लेकर अब तक 500 से भी ज्यादा आतंकियों को मार गिराया गया है। इस वर्ष अभी तक पिछले वर्ष से इस समय तक मारे गए 207 आतंकियों के मुकाबले 240 से अधिक आतंकियों को मार गिराया गया है। इन में से 25 आतंकी संगठनों के टॉप कमांडर भी शामिल हैं। अकेले बीते नवम्बर में ही सुरक्षाबलों ने 35 आतंकवादियों को मार गिराया था। इस महीने भी यह आंकड़ा 30 के पार होने जा रहा है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe