Thursday, January 20, 2022
Homeदेश-समाजहजर खान का लव जिहाद: अप्राकृतिक सेक्स के लिए प्रताड़ित कर धर्म बदल चुकी...

हजर खान का लव जिहाद: अप्राकृतिक सेक्स के लिए प्रताड़ित कर धर्म बदल चुकी बीवी से करवाता था गैंगरेप का झूठा केस

पीड़ित महिला ने पुलिस को दिए अपने बयान में स्पष्ट किया है कि उसके पति हजर खान को छोड़कर उसका रेप किसी ने नहीं किया है। अन्य लोगों को सिर्फ़ झूठे आरोप में फँसाया जा रहा था।

गुरुग्राम में बुधवार (जुलाई 3, 2019) को पुलिस ने 44 वर्षीय हजर खान को गिरफ्तार किया। हजर पर आरोप है कि वह अपनी 22 वर्षीय पत्नी पर जबरन दबाव बना रहा था कि वह गुरुग्राम अदालत के न्यायाधीश सहित कई लोगों पर यौन उत्पीड़न का झूठा आरोप लगाए, ताकि हजर उन लोगों से पैसे निकलवा सके।

लेकिन, हजर के मनसूबों का खुलासा उस समय हुआ जब उसकी पत्नी जिला और सत्र न्यायाधीश के ख़िलाफ़ उत्पीड़न की शिकायत करने थाने पहुँची। यहाँ काउंसलिंग के दौरान महिला ने स्वीकार लिया कि उसका पति न्यायाधीश के ख़िलाफ़ झूठा आरोप लगाने का दबाव बना रहा है। साथ ही इस बात का भी खुलासा किया कि वह इससे पहले भी लोगों को झूठे आरोप में फँसाने के लिए उसे धमका चुका है।

पुलिस के मुताबिक महिला ने बताया है कि हजर राजस्थान का रहने वाला है और वह उससे 2016 में मिली थी। इस दौरान वह प्राइवेट अस्पताल में नर्स के रूप में कार्यरत थी। हजर ने उसे खुद की पहचान एक डॉक्टर के रूप में बताई और जल्द ही उससे दोस्ती करके, उसे प्रपोज़ भी कर दिया। 2017 में उसने महिला को धर्मांतरण के लिए फोर्स किया और उससे निकाह कर लिया।

मीडिया खबरों के मुताबिक महिला का आरोप है कि हजर खान शादी के कुछ दिन बाद से ही उसे शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगा था। इस दौरान हजर न उसे मारता-पीटता था बल्कि अप्राकृतिक सेक्स करने के लिए भी प्रताड़ित करता था।

महिला ने बताया है कि हत्या की कोशिश में चार महीने की जेल गुजारने वाला हजर 2018 से उसका इस्तेमाल लोगों को फँसाने के लिए करता था। जल्दी पैसे कमाने की चाहत में वह उससे बलात्कार के झूठे मामले दर्ज कराने को कहता था। जिसके चलते 1 मई को महिला ने रेवाड़ी के आठ लोगों पर गैंगरेप का आरोप लगाया था और बाद में सुलह के लिए पैसे की माँग की थी। इसके बाद में 29 जून को महिला ने न्यायाधीश के सामने मानेसर के 4 लोगों पर एक और गैंग रेप का आरोप लगाया था।

लेकिन इस बार जब वह अपने बयान को दर्ज करवाके पति के पास लौटी तो हजर ने गाड़ी में पूछा कि बयान दर्ज कराने में इतना समय क्यों लगा? और फिर उस पर आरोप लगाने लगा कि वो न्यायाधीश के साथ सोई है। नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक 1 जुलाई को वह उसे चंडीगढ़ ले गया और मारपीट कर जबरन एक वकील के पास बैठकर मैजिस्ट्रेट पर रेप का आरोप लगाते हुए शिकायत लिखवाई। उस शिकायत में लिखवाया कि बयान दर्ज करते समय मैजिस्ट्रेट ने रेप किया। फिर शिकायत पर जबरन साइन करवा लिए। महिला ने विरोध किया तो उसने उसकी बेटी को मारने की धमकी दी।

जानकारी के मुताबिक हजर पर केस दर्स हो चुका है और उसे गिरफ्तार भी कर लिया गया है। महिला ने पुलिस को दिए अपने बयान में स्पष्ट किया है कि उसके पति हजर को छोड़कर उसका रेप किसी ने नहीं किया है। अन्य लोगों को सिर्फ़ झूठे आरोप में फँसाया जा रहा था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र के नगर पंचायतों में BJP सबसे आगे, शिवसेना चौथे नंबर की पार्टी बनी: जानिए कैसा रहा OBC रिजर्वेशन रद्द होने का असर

नगर पंचायत की 1649 सीटों के लिए मंगलवार को मतदान हुआ था। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यह चुनाव ओबीसी आरक्षण के बगैर हुआ था।

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,319FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe