Sunday, May 26, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान की सब्जी मंडी में हजारा समुदाय को निशाना बना IED धमाका

पाकिस्तान की सब्जी मंडी में हजारा समुदाय को निशाना बना IED धमाका

इस हमले में जान गँवाने वालों में से 7 मृतक हजारा समुदाय के अल्पसंख्यक शिया समुदाय है। बम धमाके के कारण वहाँ की बिल्डिंगों को भी नुकसान पहुँचा है। अभी तक किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली लेकिन सुन्नी चरमपंथियों के शामिल होने की आशंका है।

पाकिस्तान में आज (अप्रैल 12, 2019) सुबह 7:35 पर एक बम धमाका हुआ है। मीडिया खबरों के मुताबिक इस हमले में 16 लोगों की मौत के अलावा 30 लोगों के घायल होने की खबरें है। घायल लोगों में पाक सेना के 4 जवान भी शामिल हैं।

ये हमला पाकिस्तान के भीड़भाड़ वाले इलाके क्वेटा की हजारगांजी सब्जी मंडी में हुआ है। अनुमान लगाया जा रहा है मंडी में भीड़ होने के कारण मरने वालों और घायलों की संख्या बढ़ सकती है। बता दें कि इस हमले में IED का इस्तेमाल किया गया हैं।

मीडियो रिपोर्टों के मुताबिक पाकिस्तान पुलिस के अधिकारी अब्दुल रज्जाक चीमा ने स्थानीय मीडिया को बताया कि यह बम धमाका आवासीय परिसर के करीब हुआ है। जहाँ हजारा समुदाय के लोग ज्यादा रहते थे। उनकी मानें तो इस हमले का मकसद हजारा समुदाय के अल्पसंख्यक शिया समुदाय को निशाना बनाना हो सकता है।

धमाके की सूचना मिलते ही पाक पुलिस, सेना, खुफिया एजेंसी के अधिकारी सभी जाँच में जुट गए हैं। अभी तक धमाके का कारण नहीं पता चल पाया है, लेकिन राहत और बचाव का कार्य शुरू हो चुका है। घायलों को करीबी अस्पताल में भर्ती किया गया है। साथ ही पूरे इलाके को सुरक्षा जाँच के मद्देनजर घेर लिया गया है।

जियो न्यूज के मुताबिक इस हमले में जान गँवाने वालों में से 7 मृतक हजारा समुदाय के अल्पसंख्यक शिया समुदाय है। बम धमाके के कारण वहाँ की बिल्डिंगों को भी नुकसान पहुँचा है।

हालाँकि, अभी तक किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली लेकिन सुन्नी चरमपंथियों के शामिल होने की आशंका है। चूँकि, कुछ दिनों पहले इ्न्होंने इस प्रकार के हमले की चेतावनी जारी किया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सेलिब्रिटियों का ‘तलाक’ बिगाड़े न समाज के हालात… इन्फ्लुएंस होने से पहले भारतीयों को सोचने की क्यों है जरूरत

सेलिब्रिटियों के तलाकों पर होती चर्चा बताती है कि हमारे समाज पर ऐसी खबरों का असर हो रहा है और लोग इन फैसलों से इन्फ्लुएंस होकर अपनी जिंदगी भी उनसे जोड़ने लगे हैं।

35 साल बाद कश्मीर के अनंतनाग में टूटा वोटिंग का रिकॉर्ड: जानें कितने मतदाताओं ने आकर डाले वोट, 58 सीटों का भी ब्यौरा

छठे चरण में बंगाल में सबसे अधिक, जबकि जम्मू कश्मीर में सबसे कम मतदान का प्रतिशत रहा, लेकिन अनंतनाग में पिछले 35 साल का रिकॉर्ड टूटा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -