Wednesday, June 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'हर भारतीय की सुरक्षा सुनिश्चित कर रही मोदी सरकार': यूक्रेन में फँसे 219 भारतीय...

‘हर भारतीय की सुरक्षा सुनिश्चित कर रही मोदी सरकार’: यूक्रेन में फँसे 219 भारतीय नागरिकों को लेकर मुंबई पहुँची एयर इंडिया की फ्लाइट

यूक्रेन में फँसे भारतीयों को बचा कर निकालने के लिए केंद्रीय विदेश मंत्रालय लगातार प्रयास कर रहा है। युद्ध के माहौल और कई एयरस्पेस बंद होने के बावजूद ये किया जा रहा है।

यूक्रेन से 219 भारतीय छात्रों को लेकर एयर इंडिया की एक फ्लाइट ने भारत के मुंबई में लैंड किया। इन छात्रों को रूस-यूक्रेन युद्ध से बचा कर लाया गया है। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और वस्त्र मंत्री पीयूष गोयल ने वापसी के बाद खुश भारतीय छात्रों का वीडियो साझा करते हुए मातृभूमि में उनका स्वागत किया। पीयूष गोयल खुद इस दौरान वहाँ मौजूद थे। उन्होंने कहा कि बचा कर निकाले गए इन भारतीयों के चेहरे पर मुस्कराहट देख कर वो खुश हैं।

उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार हर एक भारतीय नागरिक की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। रोमानिया की राजधानी बुखारेस्ट से उड़ कर आई ये फ्लाइट शनिवार (26 फरवरी, 2022) की शाम को मुंबई पहुँची। यूक्रेन में कुल 20,000 भारतीयों के फँसे होने की बात कही जा रही है। उन्हें बचा कर निकालने के लिए केंद्रीय विदेश मंत्रालय लगातार प्रयास कर रहा है। युद्ध के माहौल और कई एयरस्पेस बंद होने के बावजूद ये किया जा रहा है।

उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की से बात की है। यूक्रेन की ताज़ा परिस्थिति और वहाँ चल रहे युद्ध को लेकर वहाँ के राष्ट्रपति ने पीएम मोदी को जानकारियाँ दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बातचीत के दौरान मौजूदा संघर्ष में जानमाल की क्षति को लेकर अपनी गहरी वेदना व्यक्त की। इस दौरान उन्होंने हिंसा को त्वरित रूप से ख़त्म किए जाने की बात करते हुए बातचीत के जरिए विवाद को सुलझाने की सलाह दी। उन्होंने भरोसा दिलाया कि भारत शांति की दिशा में प्रयास के लिए अपना योगदान देने के लिए तैयार है और ऐसी इच्छा रखता है।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय नागरिकों की सुरक्षा सलामती को लेकर भी गहरी चिंता व्यक्त की। इनमें अधिकतर वो छात्र हैं, जो भारत से वहाँ पढ़ाई करने के लिए गए हैं। उन्होंने वहाँ फँसे भारतीयों को शीघ्रता से बाहर निकालने के लिए वहाँ के प्रशासन से सहयोग की अपेक्षा की। उधर इस मामले में भारत के स्टैंड को लेकर रूस ने भारत के रुख को संतुलित और स्वतंत्र बताते हुए प्रशंसा की है। ‘संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC)’ में शुक्रवार (25 फरवरी, 2022) को इस मामले पर वोटिंग हुई थी। भारत इस वोटिंग से दूर रहा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -