Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय34 साल का बटुआ चोर चिल्लाने लगा 'अल्लाहु-अकबर', थियेटर में जोकर देख रहे लोगों...

34 साल का बटुआ चोर चिल्लाने लगा ‘अल्लाहु-अकबर’, थियेटर में जोकर देख रहे लोगों में मची भगदड़

ग्रैंड रेक्स सिनेमा के निदेशक ने बताया कि नारा लगाने वाले आदमी ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर थियेटर में लूट की साजिश रची थी। उसका प्लान था कि घबराहट में भागे लोगों द्वारा पीछे छोड़े गए फ़ोन और बैग इत्यादि वह चोरी कर लेगा।

पेरिस के एक थियेटर में रविवार रात (27 अक्टूबर, 2019 को) तब भगदड़ मच गई जब दर्शकों में से एक ने “अल्लाहु अकबर” का नारा लगाना शुरू कर दिया था। ग्रैंड रेक्स सिनेमा में हॉलीवुड फिल्म जोकर की स्क्रीनिंग के दौरान यह घटना हुई। बाद में पता चला कि नारा लगाने वाला शख्स लोगों में डर पैदा कर लूट की घटना को अंजाम देना चाहता था।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक हैरान कर देने वाली इस घटना अंजाम देने वाले शख्स की उम्र 34 साल बताई गई है। चश्मदीद के अनुसार अनुसार उसने पहले तो फिल्म पर राजनीतिक होने का आरोप बार बार लगाते हुए “इट्स पोलिटिकल, इट्स पोलिटिकल” (“यह राजनीतिक है, यह राजनीतिक है”) चिल्लाना शुरू कर दिया। पहले तो लोग उसकी मूर्खता पर हँसे, फिर कुछ लोगों ने उसे चुप रहने के लिए कहा।

चश्मदीद के मुताबिक उसके बाद वो आदमी अपनी जगह पर खड़ा हुआ। उसने अपना हाथ सीने पर रखा और “अल्लाहु अकबर” चिल्लाना शुरू कर दिया। इसके बाद लोग घबरा कर अपनी-अपनी सीटों से उठ कर बाहर निकलने को दौड़ने लगे। इस बीच दर्शकों में से ही किसी ने उस आदमी के पास बंदूक होने की बात भी फैला दी, जो बाद में गलत निकली।

मीडिया से बात करते हुए ग्रैंड रेक्स के निदेशक ने बताया कि असल में इस आदमी ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर थियेटर में लूट की साजिश रची थी। उसका प्लान था कि घबराहट में भागे लोगों द्वारा पीछे छोड़े गए फ़ोन और बैग इत्यादि वह चोरी कर लेगा।

जब यह आदमी थियेटर से निकल रहा था तो दर्शकों और सिक्योरिटी गार्ड ने उसे पकड़ने की कोशिश की। लेकिन भीड़ के कारण वे असफल रहे। हालाँकि उसका कोट उनके हाथ लगा। इसमें उसके नाम का पास और फ़ोन था। इसके आधार वह पकड़ा गया

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe