Saturday, July 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहिन्दू नाबालिग लड़की का अपहरण कर हत्या, फेसबुक पर उसकी तस्वीर पोस्ट कर लिखा-...

हिन्दू नाबालिग लड़की का अपहरण कर हत्या, फेसबुक पर उसकी तस्वीर पोस्ट कर लिखा- ‘खोजने की जरुरत नहीं, मर चुकी है’, बांग्लादेश की घटना

"मैं आपकी बहन से फेसबुक पर मिला था। फिर हम करीब हो गए। तुम्हारी बहन ने मेरी माँ से बहुत बातें कीं। अब मैंने सुना है कि तुम्हारी बहन का रिश्ता किसी और से है। यह ठीक नहीं चल रहा है। यह अच्छा नहीं है।"

बांग्लादेश से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। जहाँ एक हिंदू लड़की का एक व्यक्ति ने अपहरण किया और फिर उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद उसकी तस्वीर को फेसबुक पर पोस्ट करते हुए घोषित कर दिया कि वह मर चुकी है। मृतक लड़की की पहचान अनुराधा सेन के रूप में हुई है जो बांग्लादेश के शेरपुर के नलिताबाड़ी उपजिला में हिन्दू अल्पसंख्यक समुदाय की थी।

रिपोर्ट के अनुसार, जिस हिन्दू लड़की को पहले अगवा किया गया, फिर उसकी हत्या के बाद आरोपित ने अपने फेसबुक अकाउंट पर उसकी तस्वीर पोस्ट कर दी थी। पोस्ट के साथ कैप्शन में लिखा है, “उसे खोजने की कोई जरूरत नहीं है। वह मर चुकी है।” इस मामले में बारी मेहदी नाम के व्यक्ति पर संदेह जताया जा रहा है क्योंकि उसने पहले भी अनुराधा के भाई को धमकी भरे फोन किए थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़िता ने इसी साल बांकुरा हाई स्कूल से 10वीं की बोर्ड परीक्षा दी थी। मामले में कहा जा रहा है कि पीड़िता का अपहरण जिसने किया उसने पहले उसकी आगे की पढ़ाई के लिए सरकारी धन मुहैया कराने के लिए उसके स्कूल से फोन करने का नाटक किया था।

घटना रविवार 25 जुलाई की बताई जा रही है, जब आरोपित ने अनुराधा की माँ को फोन किया और उसे पैसे लेने के लिए स्कूल भेजने को कहा। फोन करने वाले व्यक्ति ने कहा कि सरकार द्वारा कुछ विशेष छात्रों के लिए धन उपलब्ध कराया जा रहा था और अनुराधा उनमें से एक थी।

हालाँकि, लड़की के परिवार को बाद में पता चला कि उस व्यक्ति ने लड़की को झूठ बोलकर फँसाया था और स्कूल बुलाकर उसका अपहरण कर लिया था। पीड़ित लड़की के पिता ने जब स्कूल जाकर उसकी तलाश की, लेकिन उसका कोई पता नहीं चला। तब उन्होंने नलिताबाड़ी थाने में शिकायत दर्ज कराई।

इस बीच, लड़की के भाई ने खुलासा किया कि उसे कुछ दिन पहले बारी मेहदी नाम के एक व्यक्ति का फोन आया था। दूसरी तरफ के व्यक्ति ने अनुराधा के बारे में बात की थी। उसने कहा था कि वह फेसबुक के जरिए लड़की से मिला था और दावा किया था कि उसके उसके साथ प्रेम संबंध थे।

तब बारी मेहदी ने अनुराधा के भाई से फोन पर कहा, “मैं आपकी बहन से फेसबुक पर मिला था। फिर हम करीब हो गए। तुम्हारी बहन ने मेरी माँ से बहुत बातें कीं। अब मैंने सुना है कि तुम्हारी बहन का रिश्ता किसी और से है। यह ठीक नहीं चल रहा है। यह अच्छा नहीं है।”

भाई ने पुलिस को इस बात की भी पुष्टि की कि उस दिन उसके पास जो कॉल आया था और उसकी माँ को कॉल करके जिसने अनुराधा को स्कूल भेजने के लिए कहा था, दोनों एक ही नंबर से किया गया था। रिपोर्ट्स से आशंका जताई जा रही है कि आरोपित ने किसी और के साथ संबंध होने के शक में लड़की की हत्या कर दी। फ़िलहाल मामले में बांग्लादेश पुलिस जाँच कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘आपातकाल तो उत्तर भारत का मुद्दा है, दक्षिण में तो इंदिरा गाँधी जीत गई थीं’: राजदीप सरदेसाई ने ‘संविधान की हत्या’ को ठहराया जायज

सरदेसाई ने कहा कि आपातकाल के काले दौर में पूरे देश पर अत्याचार करने के बाद भी कॉन्ग्रेस चुनावों में विजयी हुई, जिसका मतलब है कि लोग आगे बढ़ चुके हैं।

तिब्बत को संरक्षण देने के लिए अमेरिका ने बनाया कानून, चीन से दो टूक – दलाई लामा से बात करो: जानिए क्या है उस...

14वें दलाई लामा 1959 में तिब्बत से भागकर भारत आ गये, जहाँ उन्होंने हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में निर्वासित सरकार स्थापित की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -