Tuesday, June 25, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइलाज कराने भारत आए बांग्लादेशी MP अनवारुल अजीम की टुकड़ों में मिली लाश, 8...

इलाज कराने भारत आए बांग्लादेशी MP अनवारुल अजीम की टुकड़ों में मिली लाश, 8 दिन से थे लापता: कोलकाता में हुई हत्या, 3 गिरफ्तार

रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि बांग्लादेशी सांसद की हत्या सुनियोजित थी। हत्या के बाद उनके शव को टुकड़ों में काट दिया गया था। इनमें से कुछ टुकड़े कोलकाता के न्यू टाउन स्थित संजीवा गार्डन के एक अपार्टमेंट में बरामद हुए। यह फ्लैट आबकारी अधिकारी है।

भारत में 8 दिन पहले लापता हुए बांग्लादेश के सांसद अनवारुल अजीम अनार का पश्चिम बंगाल में शव मिला है। 12 मई को वो भारत अपना इलाज कराने आए थे। उसके कुछ दिन बाद उनकी बेटी ने शिकायत की कि उनके पिता भारत में लापता हो गए हैं। उनसे कॉन्टैक्ट नहीं हो पा रहा है। अब रिपोर्ट बताती है कि बांग्लादेसी सांद उनका शव बंगाल में कई टुकड़ों में कटा मिला है।

कोलकाता पुलिस के हवाले से रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि बांग्लादेशी सांसद की हत्या सुनियोजित थी। हत्या के बाद उनके शव को टुकड़ों में काट दिया गया था। इनमें से कुछ टुकड़े कोलकाता के न्यू टाउन स्थित संजीवा गार्डन के एक अपार्टमेंट में बरामद हुए। यह फ्लैट आबकारी अधिकारी है।

अनवारुल अजीम की हत्या के बारे में बांग्लादेश के गृह मंत्री असदुज्जमान खान ने भी पुष्टि की। उन्होंने कहा, “भारत के एक डीआइजी के हवाले से, हमारी पुलिस को पता चला है कि अजीम का शव कोलकाता में बरामद किया गया है और इस मामले में तीन गिरफ्तार हुए हैं। हमारे महानिरीक्षक मामले को देख रहे हैं। सब पुष्टि हो जाने को बाद मीडिया को जानकारी दी जाएगी।”

वहीं सांसद के निजी सचिव अब्दुर रऊफ ने इस संबंध में बयान दिया है कि उन्हें सांसद की मौत के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है, लेकिन सांसद का परिवार ढाका में भारत जाने के लिए वीजा मंजूरी का इंतजार कर रहा है।

बता दें कि अनावरुल अजीम की लाश उनके लापता होने के 8 दिन बाद मिली है। इससे पहले आवामी लीग के दिग्गज नेता के लापता होने की खबर मीडिया में आई थी। बहुत खोजने पर भी उनकी लोकेशन का पता नहीं चल पा रहा था। रिपोर्ट्स में बताया गया था है कि उनकी आखिरी लोकेशन बिहार के मुजफ्फरपुर में मिली थी। उनकी बेटी ने इस संबंध में ढाका मेट्रोपॉलिटन पुलिस की डिटेक्टिव ब्रांच से सहायता करने की अपील की थी।

बेटी ने प्रेस कॉन्फ्रेंल कर बताया था कि उनके अब्बा, जो कि तीन बार के सांसद और कालीगंज उपजिला में आवामी लीग के अध्यक्ष रहे, उनका कुछ पता नहीं चल पा रहा। वह एक कान से नहीं सुन पाते और उसी के इलाज के लिए भारत गए थे। उसके बाद उन्होंने किसी का भी फोन उठाना बंद कर दिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -