Saturday, November 28, 2020
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय लॉकडाउन से पहले ही 50 लाख लोग छोड़ चुके थे वुहान, यहीं से शुरू...

लॉकडाउन से पहले ही 50 लाख लोग छोड़ चुके थे वुहान, यहीं से शुरू हुआ था कोरोना का संक्रमण

यह कोई पहली बार नहीं है कि चीन किसी वैश्विक बीमारी का स्रोत बनकर उभरा हो। इससे पहले 2002-2003 में चीन पर सार्स बीमारी फैलाने का आरोप लगा था जिसने दुनियाभर में 8000 से ज्यादा लोगों को प्रभावित किया था।

घातक कोरोना वायरस की रोकथाम में बुरी तरह असफल होने के बाद साम्यवादी चीन ने इस वायरस से संबंधित जानकारियों को लेकर पूरी दुनिया को उलझन में डाल रखा है। अब जबकि चीन इस वायरस पर काबू पा चुका है, वह इससे धूमिल हुई अपनी इमेज को ठीक करने में जुट गया है। इसके लिए बड़े पैमाने पर पीआर एक्सरसाइज चला न सिर्फ इस महामारी के लिए अपनी जिम्मेदारी स्वीकारने से बचने की कोशिश में है, बल्कि दूसरे देशों खासकर अमेरिका पर इसकी जिम्मेदारी डालने की फिराक में लगा है।

एक तरफ चीनी सरकार इस वायरस के लिए दूसरों को दोषी ठहराने में व्यस्त है तो दूसरी तरफ उसके डिप्लोमेट्स और मीडिया संगठन इस वायरस को ‘चाइना वायरस’ कहने पर सख्त एतराज जाते हुए इसे ‘नस्लीय’ करार देते घूम रहे हैं। चीन इस वायरस के पीछे किन्हीं साजिशों के होने की आशंका जताते हुए खुद को इसके लिए जिम्मेदार मानने से कतई इनकार कर रहा है। याद रहे कि इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या दुनिया भर में अब तक 2 लाख क्रॉस कर चुकी है। वहीं इससे होने वाली मौतों की संख्या 11,000 पहुँच चुकी है।

हालाँकि इन्वेस्टिगेटिव रिपोर्ट्स के अनुसार इस घातक वायरस के फैलाव के पीछे सिर्फ और सिर्फ चीन ही जिम्मेदार है। चीन न सिर्फ ‘पेशेंट जीरो’ को ढूंढ़ पाने में असफल रहा बल्कि उसने इस वायरस के संक्रमण शुरू होने के कई हफ्तों बाद जाकर यह स्वीकार किया कि वुहान से आते निमोनिया के अधिसंख्य मामलों में एक नया वायरस जिम्मेदार पाया गया है। पूर्वी चीन के वुहान प्रान्त की आबादी 11 मिलियन है, जहाँ से नवंबर 2019 से ही इस वायरस के फैलने के डेटा सामने आ रहे हैं।

चीन ने न सिर्फ इस वायरस से निपटने में लापरवाही दिखाई बल्कि जिन लोगों ने भी कोरोना वायरस के बारे में चीनी प्रशासन को सचेत करने की कोशिश की उनकी आवाजों को दबा दिया गया। कोरोना वायरस से अपने दोस्तों को सचेत करने की कोशिशों के चलते जिस डॉ. वेन लियांग को चीनी सरकार ने फटकार लगाई थी, कोरोना वायरस से उनकी मौत के बाद चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की टॉप लीडरशिप ने उनके परिवार के प्रति अपनी संवेदना जताते हुए माफ़ी माँगी।

इन्वेस्टिगेटिव रिपोर्ट्स से सामने आए आँकड़ों के अनुसार कथित तौर पर चीन ने न सिर्फ मरीजों के टेस्ट सैम्पल्स नष्ट किए, व्हिसलब्लोवर्स को शांत रहने को मजबूर किया बल्कि यात्रा प्रतिबंध भी बहुत देर से लगाए। wion की एक रिपोर्ट के अनुसार 3 जनवरी को चीन के नेशनल हेल्थ कमिश्नर ने सभी लैब्स को आदेश दिया था कि इस वायरस से संबंधित कोई भी सूचना प्रकाशित नहीं की जाएगी और इसके साथ ही उनसे सारे सैम्पल्स को लेकर जब्त कर लिया गया।

आख़िरकार 23 दिन बाद चीन ने इस नोबल वायरस से पैदा हुए खतरे को स्वीकारा और 23 जनवरी को वुहान सिटी के सम्पूर्ण लॉक डाउन की घोषणा की। वुहान ही वो शहर है जिसके पशु बाजार से इस नोबल वायरस के फैलने की शुरुआत मानी जा रही है।

हालाँकि ये सारे उपाय चीन ने तब किए जब पूरी दुनिया इस घातक वायरस के चपेट में आ चुकी थी। चीनी सरकार के इन प्रतिबंधों को लगाने के पहले ही 11 मिलियन की आबादी में से 5 मिलियन लोग वुहान छोड़ चुके थे और कई मिलियन लोग लगातार वुहान आ-जा चुके थे। इसके आलावा कोरोना वायरस महामारी उस समय फैली जब चीन में नया वर्ष शुरू होने को था, जो कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार दुनिया के सबसे बड़े मानवीय प्रवासन का कारण बनता है जिसमें करोड़ों-करोड़ लोग अपने घरों की तरफ या छुट्टियाँ मनाने पर्यटन निकल जाते हैं। कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार इस साल करीब 450 मिलियन यानी 45 करोड़ लोगों को नववर्ष के दौरान यात्रा करनी थी। ये सारी यात्राएँ 24 जनवरी से 30 जनवरी के बीच प्रस्तावित थीं। याद रहे कि चीन के वुहान के बाद जो देश सबसे ज्यादा पीड़ित है इस महामारी से वह इटली है। वहां फरवरी की शुरुआत में इस वायरस से संक्रमण के केसेज आने शुरू हुए थे।

हालाँकि यह कोई पहली बार नहीं है कि चीन किसी वैश्विक बीमारी का स्रोत बनकर उभरा हो। इससे पहले 2002-2003 में चीन पर सार्स बीमारी फैलाने का आरोप लगा था जिसने दुनियाभर में 8000 से ज्यादा लोगों को प्रभावित किया था। इसके बावजूद भी ड्रैगन ने कोई भी सबक सीखने से इनकार कर दिया और नतीजा आज कोरोना संक्रमण के रूप में दुनिया के सामने है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termschina coronavirus, wuhan covid 19, china wuhan, जगन्नाथ मंदिर, पुरी जगन्नाथ मंदिर, ओडिशा कोरोना, delhi corona, kejriwal corona, delhi lock down, kejriwal lock down, कोरोना से मौत, कोरोना मरीजों की संख्या, ऑल इंडिया सूफी उलेमा काउंसिल, ऑल इंडिया सूफी उलेमा काउंसिल जनता कर्फ्यू, west bengal, west bengal janta curfew, mamata banerjee janta curfew, west bengal corona virus, mamata banerjee corona virus, ममता बनर्जी जनता कर्फ्यू, बंगाल जनता कर्फ्यू, ममता बनर्जी कोरोना, बंगाल कोरोना, रमाकांत यादव सपा, रमाकांत यादव एफआईआर, रमाकांत यादव कोरोना, कोरोना इटली, इटली में फंसे भारतीय, जनता कर्फ्यू, janta curfew, नवरात्रि पर मोदी के नौ आग्रह, कोरोना बांग्लादेश, कोरोना ईरान, कोरोना भारतीय, कोरोना कर्नाटक, Covid-19, Coronavirus, coronavirus india, coronavirus news, coronavirus symptoms, coronavirus update, कोरोना वायरस, कोरोना वायरस इंडिया, इंडिया ट्रैवल बैन, इंडिया वीजा, कोरोना से मौत, कोरोना से भारत में पहली मौत, corona disater,Covid 19 disater, corona update, कोरोना वायरस अपडेट, कोरोना सार्क, कोरोना मोदी, Coronavirus SAARC, Corona कांग्रेस, कोरोना कांग्रेस, Corona राहुल गांधी, Corona आनंद शर्मा, कोरोना राहुल गांधी, कोरोना आनंद शर्मा, कोरोना से मौत, कोरोना के मरीज, कोरोना दवा, कोरोना टीका, कोरोना इलाज, कोरोना ट्रंप, कोरोना अमेरिका
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली दंगों के दौरान मुस्लिमों को भड़काने वाला संगठन ‘किसान’ प्रदर्शनकारियों को पहुँचा रहा भोजन: 25 मस्जिद काम में लगे

UAH के मुखिया नदीम खान ने कहा कि मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे लोगों को मदद पहुँचाने के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।

‘बंगाल में हम बहुसंख्यक, क्योंकि आदिवासी और दलित हिन्दू नहीं होते’: मौलाना अब्बास सिद्दीकी और ओवैसी साथ लड़ेंगे चुनाव

बड़ी मुस्लिम जनसंख्या वाले जिलों मुर्शिदाबाद (67%), मालदा (52%) और नॉर्थ दिनाजपुर में असदुद्दीन ओवैसी को बड़ा समर्थन मिल रहा है।

‘हमारी माँगटीका में चमक रही हैं स्वरा भास्कर’: यूजर्स बोले- आम्रपाली ज्वेलर्स से अब कभी कुछ नहीं खरीदेंगे

स्वरा भास्कर को ब्रांड एम्बेसडर बनाने के बाद आम्रपाली ज्वेलर्स को सोशल मीडिया में यूजर्स का कड़ा विरोध झेलना पड़ा है।

कोरोना संक्रमण पर लगातार चेताते रहे, लेकिन दिल्ली सरकार ने कदम नहीं उठाए: सुप्रीम कोर्ट से केंद्र

दिल्ली में कोरोना क्यों बना काल? सुप्रीम कोर्ट को केंद्र सरकार ने बताया है कि रोकथाम के लिए केजरीवाल सरकार ने प्रभावी कदम नहीं उठाए।

क्या घुसपैठ करने वाले रोहिंग्या मुसलमानों को RAW में बहाल करने जा रही है भारत सरकार?

एक वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है कि सरकार रोहिंग्या मुसलमानों को रॉ में बहाल करने जा रही है। जानिए, क्या है इस दावे की सच्चाई?

‘नॉटी, दो टके के लोग’: कंगना पर फट पड़ीं मुंबई की मेयर, ऑफिस तोड़ने पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने लगाई थी फटकार

मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कंगना रनौत के लिए 'नॉटी' का इस्तेमाल किया है। शिवसेना सांसद संजय राउत के लिए इस शब्द का अर्थ 'हरामखोर' है।

प्रचलित ख़बरें

मैं नपुंसक नहीं.. हिंदुत्व का मतलब पूजा-पाठ या मंदिर का घंटा बजाना नहीं, फ़ोर्स किया तो हाथ धोकर पीछे पड़ जाऊँगा: उद्धव ठाकरे

साक्षत्कार में उद्धव ठाकरे ने कहा कि उन्हें विरोधियों के पीछे पड़ने को मजबूर ना किया जाए। इसके साथ ही ठाकरे ने कहा कि हिंदुत्व का मतलब मंदिर का घंटा बजाना नहीं है।

‘कबीर असली अल्लाह, रामपाल अंतिम पैगंबर और मुस्लिम असल इस्लाम से अनजान’: फॉलोवरों के अजीब दावों से पटा सोशल मीडिया

साल 2006 में रामपाल के भक्तों और पुलिसकर्मियों के बीच हिंसक झड़प हुई थी जिसमें 5 महिलाओं और 1 बच्चे की मृत्यु हुई थी और लगभग 200 लोग घायल हुए थे। इसके बाद नवंबर 2014 में उसे गिरफ्तार किया गया था।

‘उसे मत मारो, वही तो सबूत है’: हिंदुओं संजय गोविलकर का एहसान मानो वरना 26/11 तुम्हारे सिर डाला जाता

जब कसाब ने तुकाराम को गोलियों से छलनी कर दिया तो साथी पुलिसकर्मी आवेश में आ गए। वे कसाब को मार गिराना चाहते थे। लेकिन, इंस्पेक्टर गोविलकर ने ऐसा नहीं करने की सलाह दी। यदि गोविलकर ने उस दिन ऐसा नहीं किया होता तो दुनिया कसाब को समीर चौधरी के नाम से जानती।

ये कौन से किसान हैं जो कह रहे ‘इंदिरा को ठोका, मोदी को भी ठोक देंगे’, मिले खालिस्तानी समर्थन के प्रमाण

मीटिंग 3 दिसंबर को तय की गई है और हम तब तक यहीं पर रहने वाले हैं। अगर उस मीटिंग में कुछ हल नहीं निकला तो बैरिकेड तो क्या हम तो इनको (शासन प्रशासन) ऐसे ही मिटा देंगे।

दिल्ली के बेगमपुर में शिवशक्ति मंदिर में दर्जनों मूर्तियों का सिर कलम, लोगों ने कहते सुना- ‘सिर काट दिया, सिर काट दिया’

"शिव शक्ति मंदिर में लगभग दर्जन भर देवी-देवताओं का सर कलम करने वाले विधर्मी दुष्ट का दूसरे दिन भी कोई अता-पता नहीं। हिंदुओं की सहिष्णुता की कृपया और परीक्षा ना लें।”

’26/11 RSS की साजिश’: जानें कैसे कॉन्ग्रेस के चहेते पत्रकार ने PAK को क्लिन चिट देकर हमले का आरोप मढ़ा था भारतीय सेना पर

साल 2007 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अजीज़ को उसके उर्दू भाषा अखबार रोजनामा राष्ट्रीय सहारा के लिए उत्कृष्ट अवार्ड दिया था। कॉन्ग्रेस में अजीज़ को सेकुलरिज्म का चमचमाता प्रतीक माना जाता था।

दिल्ली दंगों के दौरान मुस्लिमों को भड़काने वाला संगठन ‘किसान’ प्रदर्शनकारियों को पहुँचा रहा भोजन: 25 मस्जिद काम में लगे

UAH के मुखिया नदीम खान ने कहा कि मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे लोगों को मदद पहुँचाने के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।

राजधानी एक्सप्रेस में मिले 14 रोहिंग्या (8 औरत+2 बच्चे), बांग्लादेश से भागकर भारत में घुसे थे; असम में भी 8 धराए

बांग्लादेश के शरणार्थी शिविर से भागकर भारत में घुसे 14 रोहिंग्या लोगों को राजधानी एक्सप्रेस से पकड़ा गया है। असम से भी आठ रोहिंग्या पकड़े गए हैं।

‘बंगाल में हम बहुसंख्यक, क्योंकि आदिवासी और दलित हिन्दू नहीं होते’: मौलाना अब्बास सिद्दीकी और ओवैसी साथ लड़ेंगे चुनाव

बड़ी मुस्लिम जनसंख्या वाले जिलों मुर्शिदाबाद (67%), मालदा (52%) और नॉर्थ दिनाजपुर में असदुद्दीन ओवैसी को बड़ा समर्थन मिल रहा है।

‘हमारी माँगटीका में चमक रही हैं स्वरा भास्कर’: यूजर्स बोले- आम्रपाली ज्वेलर्स से अब कभी कुछ नहीं खरीदेंगे

स्वरा भास्कर को ब्रांड एम्बेसडर बनाने के बाद आम्रपाली ज्वेलर्स को सोशल मीडिया में यूजर्स का कड़ा विरोध झेलना पड़ा है।

उमेश बन सलमान ने मंदिर में रचाई शादी, अब धर्मांतरण के लिए कर रहा प्रताड़ित: पीड़िता ने बताया- कमलनाथ राज में नहीं हुई कार्रवाई

सलमान पिछले कई हफ़्तों से उसे धर्म परिवर्तन करने के लिए न सिर्फ प्रताड़ित कर रहा है, बल्कि उसने बच्चे को भी जान से मार डालने की कोशिश की।

कोरोना संक्रमण पर लगातार चेताते रहे, लेकिन दिल्ली सरकार ने कदम नहीं उठाए: सुप्रीम कोर्ट से केंद्र

दिल्ली में कोरोना क्यों बना काल? सुप्रीम कोर्ट को केंद्र सरकार ने बताया है कि रोकथाम के लिए केजरीवाल सरकार ने प्रभावी कदम नहीं उठाए।

क्या घुसपैठ करने वाले रोहिंग्या मुसलमानों को RAW में बहाल करने जा रही है भारत सरकार?

एक वायरल मैसेज में दावा किया जा रहा है कि सरकार रोहिंग्या मुसलमानों को रॉ में बहाल करने जा रही है। जानिए, क्या है इस दावे की सच्चाई?

‘नॉटी, दो टके के लोग’: कंगना पर फट पड़ीं मुंबई की मेयर, ऑफिस तोड़ने पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने लगाई थी फटकार

मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कंगना रनौत के लिए 'नॉटी' का इस्तेमाल किया है। शिवसेना सांसद संजय राउत के लिए इस शब्द का अर्थ 'हरामखोर' है।

गाजीपुर में सड़क पर पड़े मिले गायों के कटे सिर: लोगों का आरोप- पहले डेयरी फार्म से गायब होती हैं गायें, फिर काट कर...

गाजीपुर की सड़कों पर गायों के कटे हुए सिर मिलने के बाद स्थानीय लोग काफी गुस्से में हैं। उन्होंने पुलिस पर मिलीभगत का आरोप लगाया है।

बंगाल: ममता के MLA मिहिर गोस्वामी बीजेपी में शामिल, शनिवार को शुभेंदु अधिकारी के आने की अटकलें

TMC के असंतुष्ट विधायक मिहिर गोस्वामी बीजेपी में शामिल हो गए हैं। शुभेंदु अधिकारी के भी शनिवार को बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही है।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,428FollowersFollow
358,000SubscribersSubscribe