Friday, August 12, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'रहस्यमयी पार्सल' से जानवर कूरियर कर रहा चीन, कोरोना के बाद Blind Box के...

‘रहस्यमयी पार्सल’ से जानवर कूरियर कर रहा चीन, कोरोना के बाद Blind Box के खुलासे ने दुनिया को चौंकाया

खरीदारों को जानवरों को कूरियर सेवा के माध्यम से 'रहस्यमयी पार्सल' (ब्लाइंड बॉक्स के रूप में संदर्भित) के जरिए भेजा जा रहा है।

वुहान कोरोना वायरस के जरिए दुनिया भर में अनगिनत जिंदगियों को खतरे में डालने वाला चीन एक बार फिर सुर्खियों में है। इस बार सुर्खियों की वजह है, ‘ब्लाइंड बॉक्स (Blind Boxes)’। दरअसल ब्लाइंड बॉक्स उन पार्सलों को कहा जा रहा है जिनके माध्यम से खरीदारों को जानवरों की डिलिवरी की जा रही है। खरीदारों को जानवर कूरियर सेवा के माध्यम से ‘रहस्यमयी पार्सल’ (ब्लाइंड बॉक्स के रूप में संदर्भित) के जरिए भेजा जा रहा है। इस नई घटना ने कम्युनिस्ट शासन वाले देश में जानवरों के साथ दुर्व्यवहार पर एक वैश्विक बहस छेड़ दी है।

सोमवार को पश्चिमी चीन के चेंग्दू नामक स्थान में चेंग्दू आईझीजिया (Aizhijia) एनिमल रेस्क्यू सेंटर ने ZTO नामक कूरियर कंपनी के ट्रक से 160 बिल्लियों और कुत्तों को रेस्क्यू किया। सभी जानवर 3 महीने से कम उम्र के थे और उनमें से 4 मरे हुए थे। इसके अलावा कई जानवर विषाणुओं से संक्रमित थे।  

रायटर्स के द्वारा पोस्ट किए गए वीडियो में कुत्तों और बिल्लियों के बच्चों को गोदाम में एक पार्सल में कैद देखा जा सकता है। चेंग्दू आईझीजिया (Aizhijia) एनिमल रेस्क्यू सेंटर के वॉलंटियर्स पूरी रात गोदाम में रहे और जानवरों को खाना खिलाया। स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा पिल्लों और बिल्ली के बच्चों का भी निरीक्षण किया गया। गुरुवार को, समूह ने बताया कि 38 को छोड़कर सभी जानवरों को पुनर्वास के लिए केंद्र में वापस लाया गया था। शेष 38 जानवरों को मेडिकल सहायता दी जा रही है। जानवरों की देखभाल की और 38 जानवरों को इलाज के लिए भेज दिया गया। शेष बचे जानवरों को पुनर्वास के लिए सेंटर लाया गया।

कूरियर कंपनी ने जानवरों के अवैध परिवहन के लिए माफी माँगी है। रिपोर्ट के अनुसार ये Blind Boxes 1700 किमी दूर शेनझेन तक डिलिवर किए गए। जानवरों के परिवहन पर विवाद होने के बाद कंपनी ने डिलिवरी एक्जिक्युटिव को बर्खास्त कर दिया है। चीन में जानवरों के परिवहन पर रोक है। ऐसे में कूरियर कंपनी ZTO ने चीन के पोस्टल रेगुलेशन का उल्लंघन करने के लिए माफी माँगी है।

चीन में Taobao जैसी वेबसाइटों में चूहों, कछुओं और छिपकलियों वाले Blind Boxes भी बिक्री के लिए दर्ज हैं। हालाँकि चीन की सरकारी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ ने इन Blind Boxes की आलोचना की और ‘मिस्ट्री पार्सल’ उर्फ ‘ब्लाइंड बॉक्स’ को ‘जीवन की अपवित्रता’ बताया। शिन्हुआ ने विक्रेताओं और खरीदारों से अपील की है कि वो जानवरों के प्रति दया भाव दिखाएं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी पर जुमे के दिन चाकू से हमला, न्यूयॉर्क में हुई वारदात

'द सैटेनिक वर्सेज' के लेखक उपन्यासकार सलमान रुश्दी को न्यूयॉर्क में भाषण देने से पहले पर चाकू से हमला किया गया है।

‘मानसखण्ड मंदिर माला मिशन’ के जरिए प्राचीन मंदिरों को आपस में जोड़ेंगे CM धामी, माँ वाराही देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर बगवाल में हुए...

सीएम धामी ने कुमाऊँ के प्राचीन मंदिरों को भव्य बनाने और उन्हें आपस में जोड़ने के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe