Sunday, June 26, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहिंदुओं के घर फूँके, महिलाओं का यौन उत्पीड़न, बच्चों को पीटा: पाकिस्तान के सिंध...

हिंदुओं के घर फूँके, महिलाओं का यौन उत्पीड़न, बच्चों को पीटा: पाकिस्तान के सिंध और पंजाब की घटना

सोशल मीडिया में शेयर किए जा रहे वीडियो में आप घर से आग की लपटें निकलते देख सकते हैं। पीड़ित हिंदू परिवार की महिलाएँ और बच्चे ,चीखते-चिल्लाते दिखाई दे रहे हैं। वहीं सैकड़ों की संख्या में मौजूद भीड़ में से कुछ लोग घटना का वीडियो बना रहे हैं।

पाकिस्तान के सिंध और पंजाब प्रांत में एक बार फिर हिंदुओं को निशाना बनाया गया है। सिंध में उनके घरों को आग के हवाले कर दिया गया। पंजाब में महिलाओं का सरेआम यौन उत्पीड़न किया गया।

सिंध में हुए हमले का वीडियो मानवाधिकार कार्यकर्ता और वकील राहत ऑस्टिन ने शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि सिंध के मटियारी हाला में हिंदुओं के घरों में आग लगा दी गई। पुरुषों, महिलाओं और बच्चों को पीटकर घर से बाहर निकलने को मजबूर कर दिया गया।

ऑस्टिन ने अपने ट्वीट में लिखा है कि सिंध में हिंदू हजार साल से रह रहे हैं। मुस्लिम पहले शरणार्थी के तौर पर आए और अब हिंदुओं को निशाना बना रहे हैं।

सोशल मीडिया में शेयर किए जा रहे वीडियो में आप घर से आग की लपटें निकलते देख सकते हैं। पीड़ित हिंदू परिवार की महिलाएँ और बच्चे ,चीखते-चिल्लाते दिखाई दे रहे हैं। वहीं सैकड़ों की संख्या में मौजूद भीड़ में से कुछ लोग घटना का वीडियो बना रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक स्थानीय हिंदुओं का भील समुदाय इस इलाके में दशकों से रह रहा है, लेकिन यहाँ का बहुसंख्यक समुदाय (मुस्लिम) उनको अपना निशाना बनाते हुए आए दिन हमला करता रहता है। यहाँ रहने वाले लोग हिंदुओं को प्रताड़ित कर घर खाली करने के लिए मजबूर करते हैं।

दूसरी खबर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रहीमयार के चक नंबर 121 की है। इसे लेकर भी मानवाधिकार कार्यकर्ता राहत ऑस्टिन ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि यहाँ रहने वाले एक शख्स और उसकी पत्नी पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। आरोप है कि महिला के साथ लोगों के सामने यौन प्रताड़ना भी की गई। इतना ही नहीं घटना में घायल हुए पति-पत्नी को इलाके से जाने के लिए मजबूर किया गया।

पिछले महीने भी पाकिस्तान के सिंध प्रांत में घोटकी के बाहरी इलाके में राजा फार्म क्षेत्र में स्थित हिंदुओं के घरों को आग लगा दिया गया था। इस घटना में कम से कम तीन बच्चे जिंदा जल गए थे।

आपको बता दें कि इससे पहले शनिवार (9 मई, 2020) को लाहौर की एक चर्च पर भी हमला किया गया था। बताया गया कि जमीन विवाद को लेकर चर्च को निशाना बनाया गया। इस दौरान अज्ञात हमलावरों ने चर्च में जमकर तोड़फोड़ की और चर्च की दीवार व बाउंड्री को तोड़ दिया था। घटना के बाद पीड़ित ईसाई समुदाय के नेताओं ने पुलिस मे शिकायत दर्ज कराई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

’47 साल पहले हुआ था लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास’: जर्मनी में PM मोदी ने याद दिलाया आपातकाल, कहा – ये इतिहास पर काला...

"आज भारत हर महीनें औसतन 500 से अधिक आधुनिक रेलवे कोच बना रहा है। आज भारत हर महीने औसतन 18 लाख घरों को पाइप वॉटर सप्लाई से जोड़ रहा है।"

‘गुवाहाटी से आएँगी 40 लाशें, पोस्टमॉर्टम के लिए भेजेंगे’: संजय राउत ने कामाख्या मंदिर और छठ पूजा को भी नहीं छोड़ा, कहा – मोदी-शाह...

संजय राउत ने कहा "हम शिवसेना हैं, हमारा डर ऐसा है कि हमें देख कर मोदी-शाह भी रास्ता बदल लेते हैं।" कामाख्या मंदिर और छठ पर्व का भी अपमान।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,523FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe