Tuesday, July 27, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमरान पाकिस्तान के लिए खतरा, उनके भाषण देने और प्रेस कॉन्फ्रेंस पर लगे बैन:...

इमरान पाकिस्तान के लिए खतरा, उनके भाषण देने और प्रेस कॉन्फ्रेंस पर लगे बैन: Pak सांसद

"इमरान खान दुनिया में पाकिस्तान का पक्ष रखने की बजाय अपने मुल्क के खिलाफ ही बोल रहे हैं, जिसकी वजह से भारतीय मीडिया में पाकिस्तान का मज़ाक उड़ रहा है।"

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को हर ओर से मुँह की खानी पड़ रही है। न केवल विदेशों में बल्कि उनका अपना मुल्क भी उनकी फजीहत करने से और उनकी कार्यनीतियों पर सवाल उठाने से नहीं चूक रहा। इन दिनों वो अपने देश की विपक्षी पार्टी के निशाने पर हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाकिस्तान की विपक्षी पार्टी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी का कहना है कि इमरान खान के विदेशी दौरे पाकिस्तान के लिए चिंता का विषय बन गए हैं। इसलिए अब इमरान के विदेशी दौरों पर रोक लगा देनी चाहिए। पार्टी का कहना है कि प्रधानमंत्री इमरान खान जब भी बाहर जाते हैं तो उन्हें उससे घाटा होता है।

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के सेनेटर मुस्तफा नवाज़ खोखर ने गुरुवार (सितंबर 26, 2019) को इमरान खान पर निशाना साधते हुए कहा, “इमरान खान दुनिया में पाकिस्तान का पक्ष रखने की बजाय अपने मुल्क के खिलाफ ही बोल रहे हैं, जिसकी वजह से भारतीय मीडिया में पाकिस्तान का मज़ाक उड़ रहा है।”

अपनी बात रखते हुए खोखर ने इमरान खान की विदेश यात्रा पर कहा, “अपनी ईरान यात्रा के दौरान उन्होंने अपने मुल्क पर आतंकी देश होने का आरोप लगाया था और अब एक बार फिर उन्होंने पाकिस्तान का मजाक उड़ाया है। हालिया अमेरिकी यात्रा के दौरान उन्होंने पाकिस्तानी सेना और आईएसआई पर अल-कायदा को प्रशिक्षण देने की बात कही जो देश के लिए नुकसानदायक है।”

उन्होंने अपने देश की सेना और खूफिया एजेंसी पर अल कायदा को प्रशिक्षण देने का आरोप लगाने वाले प्रधानमंत्री इमरान के बयान को बड़ा गैर-जिम्मेदाराना बताया। उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री को यह समझने की जरुरत है कि कंटेनर और अंतरराष्ट्रीय मंच में फर्क होता है। उनकी विदेश यात्रा राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है।”

मुस्तफा नवाज खोखर ने ऐसे उदाहरणों का हवाला देते हुए इमरान खान के बयानों की खूब आलोचना की और कहा कि इमरान खान के विदेश में भाषण देने और प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पर बैन लगना चाहिए।

विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी पर शक जताते हुए खोखर ने कहा, “विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी खुद प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं इसलिए उन पर विश्वास नहीं किया जा सकता। ऐसा संभव है कि वह जानबूझकर खान को गलत रास्ते पर ले जा रहे हों।”

गौरतलब है कि बीते दिनों इमरान खान के भाषणों और हरकतों की वजह से पाकिस्तान को सोशल मीडिया से लेकर मीडिया रिपोर्ट्स में काफी फजीहत का सामना करना पड़ा है, जिसके कारण पाकिस्तान के कई लोग अपने प्रधानमंत्री (इमरान खान) की आलोचना करते नहीं थक रहे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

विधानसभा से मंत्री का ही वॉकआउट: छत्तीसगढ़ कॉन्ग्रेस की लड़ाई में नया मोड़, MLA ने कहा था- मेरी हत्या करा बनना चाहते हैं CM

अपनी ही सरकार के रवैये से आहत होकर छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री TS सिंह देव सदन से वॉकआउट कर गए। उन पर आदिवासी विधायक ने हत्या के प्रयास का आरोप लगाया था।

2020 में नक्सली हमलों की 665 घटनाएँ, 183 को उतार दिया मौत के घाट: वामपंथी आतंकवाद पर केंद्र ने जारी किए आँकड़े

केंद्र सरकार ने 2020 में हुई नक्सली घटनाओं को लेकर आँकड़े जारी किए हैं। 2020 में वामपंथी आतंकवाद की 665 घटनाएँ सामने आईं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,426FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe