Thursday, May 30, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'जल्द आ रहे हैं, इंशाअल्लाह': ISIS ने दी भारत और बांग्लादेश में हमले की...

‘जल्द आ रहे हैं, इंशाअल्लाह’: ISIS ने दी भारत और बांग्लादेश में हमले की धमकी

इन पोस्टर्स की अनदेखी करना घातक हो सकता है क्योंकि श्री लंका में भी आईएसआईएस से जुड़े एक अनजान संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) ने आतंकी हमले को अंजाम दिया था।

इस्लामिक स्टेट से जुड़े एक आतंकी संगठन ने भारत और बांग्लादेश में हमला करने की धमकी दी है। संगठन ने चेतावनी भरा पोस्टर जारी करते हुए कहा है कि बंगाल और हिंद में खलीफा के लड़ाकों की आवाज कभी बंद नहीं हो सकती। इन पोस्टर में लिखा है कि इनके बदले की प्यास कभी शांत नहीं होगी।

दैनिक जागरण की खबर के अनुसार खुफिया विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अल मुरसलत नाम के संगठन ने अबु-बंगाली को बांग्लादेश में अपना मुखिया बनाया है। अबु को हमले की योजना बनाने के साथ ही नए आतंकियों को संगठन में शामिल करने की जिम्मेदारी दी गई है।

इस पोस्टर को जारी करने से पहले आतंकी संगठन ने बांग्लादेश में एक हल्का धमाका भी कराया था। ये धमाका बांग्लादेश की राजधानी ढाका में गुलिस्तां थियटर के पास हुआ था। हालाँकि इसमें किसी की जान नहीं गई थी लेकिन कुछ पुलिसकर्मी घायल जरूर हुए थे।

मीडिया खबरों की मानें तो भारत की खुफिया एजेंसियों को शक है कि आईएसआईएस इन छोटे संगठनों के साथ मिलकर बांग्लादेश में आतंकी हमला कर सकता है। जिसके कारण एजेंसियों की नजर बांग्लादेश में होने वाली हर छोटी-बड़ी गतिविधि पर बनी हुई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस आतंकी संगठन ने पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के कुछ इलाकों में पोस्टर भी बाँटे हैं और साथ ही अपने समर्थकों को एकजुट करने की कोशिश की है। बाँटे गए पोस्टर्स पर लिखा है, “जल्द आ रहे हैं, इंशाअल्लाह।”

गौरतलब है कि ये खबर उस समय सामने आई है जब आईएसआईएस के प्रमुख अबु बकर अल बगदादी का नाम एक बार फिर चर्चा में है। पाँच साल बाद बगदादी फिर एक वीडियो में नजर आया है। बगदादी ने इस वीडियो में श्री लंका में हुए ईस्टर के मौके पर आत्मघाती हमलों का जिक्र किया है। ऐसे में अंजान संगठन की ओर से जारी किए गए इन पोस्टर्स की अनदेखी करना घातक हो सकता है क्योंकि श्री लंका में भी आईएसआईएस से जुड़े एक अनजान संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) ने आतंकी हमले को अंजाम दिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

120 संगठन, विपक्ष, आंदोलनजीवी और पालतू पत्रकार… चुनावी नतीजों से पहले देश को जलाने की प्लानिंग, मोदी जीते तो कोर्ट से चुनाव रद्द करवाने...

'केरोसिन तेल छिड़का जा चुका है, एक चिंगारी से पूरे देश में आग लग जाएगी' - राहुल गाँधी का ये 2 साल पुराना बयान याद कीजिए, और आज नीलू व्यास थॉमस को सुनिए। मतगणना के बाद हिंसा भड़काने की पूरी प्लानिंग तैयार है। शाहीन बाग़ और किसान आंदोलन शायद इसका ही एक्सपेरिमेंट था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -