Wednesday, September 22, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकाबुल में कार बम धमाका: 9 लोगों की मौत, सांसद मोहम्मद वारदाक की हालत...

काबुल में कार बम धमाका: 9 लोगों की मौत, सांसद मोहम्मद वारदाक की हालत गंभीर

विस्फोट इतना भयंकर था कि आस-पास की बिल्डिंग की खिड़कियों में लगे काँच टूट कर बिखर गए। सासंद मोहम्मद वारदाक को इस हमले में निशाना बनाया गया था। उनकी हालत गंभीर है, जबकि उनके कई सुरक्षाकर्मियों की मौत...

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में आतंकियों ने एक साथ कई कारों में बम धमाका किया। इन विस्फोटों में अब तक 9 लोगों की मौत हो गई है। घायलों की संख्या 20 से ज्यादा बताई जा रही है।

विस्फोट इतना भयंकर था कि आस-पास की बिल्डिंग की खिड़कियों में लगे काँच टूट कर बिखर गए। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सासंद मोहम्मद वारदाक को इस हमले में निशाना बनाया गया था। उनकी हालत गंभीर है, जबकि उनके कई सुरक्षाकर्मियों की इस हमले में मौत हो गई।

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने अशरफ गनी ने इस आतंकी हमले की निंदा करते हुए कहा, “आम लोगों पर आतंकी हमले से शांति के प्रयासों को धक्का लगा है।”

अफगानिस्तान में आंतरिक मामलों के मंत्री मसूद अंदाराबी ने इन कार बम धमाके की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि अब तक 9 लोगों की मौत हो गई जबकि 20 अन्य घायल हैं।

अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि कार बम से हुए आतंकी धमाके में बच्चे, महिलाएँ और बुजुर्ग समेत 20 लोग घायल हुए हैं। विस्फोट से आस-पास के घरों को गंभीर नुकसान भी पहुँचा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को भूला देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती’: दादरी में CM योगी

सीएम ने कहा, "राजा मिहिर भोज नौंवी सदी के एक महान धर्मरक्षक थे। जो कौम अपने इतिहास व परंपराओं को विस्मृत कर देती है, वह अपने भूगोल की भी रक्षा नहीं कर पाती।''

‘साड़ी स्मार्ट ड्रेस नहीं’- दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने महिला को रोका: ‘ओछी मानसिकता’ पर भड़के लोग, वीडियो वायरल

अकीला रेस्टोरेंट के स्टाफ ने महिला से कहा कि चूँकि साड़ी स्मार्ट आउटफिट नहीं है इसलिए वो उसे पहनने वाले लोगों को अंदर आने की अनुमति नहीं देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,748FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe